रेपिस्ट राहगीर गिरफ्तार : एसओ दुर्गेश पाण्डेय ने किया खुलासा : भैंस चरा रही युवती का मामला

                         (बृजवासी शुक्ल) 

 बस्ती (उ.प्र.)। जिले की छावनी पुलिस ने एक ब्लाइंड टाइप के रेपकांड का खुलासा करके खुद को साबित कर दिया है। पुलिस के लिए यह एक बड़ी उपलब्धि है। जिले में दस दिन पहले एक ऐसी रहस्यमय सनसनीखेज वारदात हुई थी, खुलासा करना पुलिस के लिए बड़ी चुनौती बन गयी थी। यह एक रेपकांड था, जिसमें एक राहगीर खेत में भैंस चरा रही युवती के साथ रेपकर फरार हो गया था। यह खुलासा एसओ दुर्गेश पाण्डेय और उनकी टीम व सर्विलांस टीम ने किया है। इस खुलासे की जानकारी एसपी आशीष श्रीवास्तव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

इस कठिन और चुनौतीपूर्ण मामले में आरोपी का कुछ पता नहीं था। इस रेपकांड में अपराधी और पीड़िता में कोई सम्बन्ध नहीं था। मामला रेप से जुड़ा होने के कारण काफी संवेदनशील और सुर्खियों में था। यह दिन दहाड़े हुई ऐसी घटना थी, जिसमें अभिभावकों ने शुरु में घटना को घटना को छिपाने की कोशिश भी की, लेकिन लड़की की हालत बिगड़ने और मामला सुर्खियों में आने के बाद एफआईआर दर्ज हुई। पुलिस के लिए चुनौती बना यह मामला एसओ दुर्गेश पाण्डेय के लिए नाक का सवाल भी बन गया था, क्योंकि जिले की पुलिसिंग में दुर्गेश पाण्डेय एक चर्चित नाम बन गया है।
इकतीस अक्टूबर को छावनी थाना क्षेत्र में भैंस चराने गयी युवती के साथ दुष्कर्म करने के आरोप में एक अज्ञात के विरुद्ध थाना छावनी पर मुअसं. 338 / 2022 पर आईपीसी की धारा 376, 323 पंजीकृत किया गया था। अज्ञात अभियुक्त की मुकदमे से सम्बन्धित पीडिता की पहचान करने पर आज अभियुक्त अभय पाण्डेय उर्फ करिया पुत्र जगतनारायण पाण्डेय निवासी बड़हर कला थाना हरैया जनपद बस्ती को रामजानकी तिराहे से गिरफ्तार किया गया। यह एक ऐसा केस था जिसे एक सिरफिरे नशेड़ी युवक ने अंजाम दिया था और दिनदहाड़े किया गया ब्लाइंड क्राइम की केटेगरी में था, जिसमें अपराधी का कोई पुराना मोटिव नहीं था। इसलिए इसका खुलासा करना एसओ दुर्गेश पाण्डेय के लिए बड़ी उपलब्धि है।
पूछताछ में अभियुक्त ने बताया कि 31 अक्टूबर को वह गांजा पीने के बाद ग्राम डुहवा मिश्र जाने वाली कच्ची नहर मार्ग होते हुए आ रहा था कि एक लडकी उसे भैंस चराते हुए मिली। उसने पूछा भैंस मारती तो नहीं है तब वह लडकी बिना कुछ बोले दूसरी तरफ मुह करके खडी हो गयी, उसे गाँजा बहुत चढ़ गया था। उसने इधर उधर देखकर उस लडकी को पीछे से पकडकर जमीन पर पटक दिया। तब वह चिल्लाने लगी तो उसने दो तीन थप्पड़ मारा और उसका मुंह दबा दिया। उसके साथ जबरन सम्बन्ध बनाना चाहा लेकिन वह छटपटाने लगी, तो उसे गुस्सा आ गया और उसके अंदरूनी पार्ट में हाथ डाल दिया तब तक वह बेहोश हो गयी, और उसे छोडकर भाग गया । आरोपी इधर उधर लुक छिपकर घटना के बारे में जानकारी कर रहा था कि कोई बात आगे न बढे जब अगले दिन सुना कि इस मामले में बडे बडे अधिकारी आये हुए हैं, और छानबीन कर रहे हैं तब एक नवम्बर को घरवालों से कमाने जाने की बात बता कर अयोध्या से ट्रेन से दिल्ली चला गया था और वहाँ से यहाँ की गतविधियो का ध्यान दे रहा था।
कुछ दिन बीतने के बाद मामला शांत हुआ जानकर वह दिल्ली से पुनः अपने गाँव आ गया। आज फिर वह दिल्ली जाने के लिये निकल रहा था तभी पुलिस के साथ लडकी ने उसे देखकर पहचान लिया और अपराधी पकड़ा गया। गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में थानाध्यक्ष छावनी दुर्गेश कुमार पाण्डेय, उप निरीक्षक नन्दलाल सरोज, वीरेन्द्र यादव, हेका. केएन सिंह, का. शिवम तिवारी, का. पंकज, महिला कां. शालिनी वर्मा एवं सर्विलांस सेल के कां. सतेन्द्र सिंह एवं कां. संतोष यादव शामिल रहे।

         ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

स्वतंत्रता आंदोलन में गिरफ्तार होने वाली राजस्थान की पहली महिला अंजना देवी चौधरी : आजादी का अमृत महोत्सव

सो कुल धन्य उमा सुनु जगत पूज्य सुपुनीत