बस्ती : कोरोना जांच की खानापूरी, बिना नमूना पैक कर दिया स्टिक, सस्पेंड, एफआईआर

 

                       (बृजवासी शुक्ल) 

 बस्ती (सू.वि.उ.प्र.) । कोविड-19 के बचाव एवं रोकथाम के लिए तैनात कर्मचारियों द्वारा लापरवाही बरतने पर जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल के निर्देश पर प्रभारी चिकित्साधिकारी, मरवटिया द्वारा थाना नगर में एफआईआर दर्ज करायी गयी है। इस मामले में सीएमओ ने स्वीपर/चौकीदार मो. हसन को निलम्बित कर दिया है तथा लैब टेक्नीशियन नितेश कुमार को पद से हटाने के लिए सेवा प्रदाता डूडा को संस्तुति भेजा है।  

उल्लेखनीय है कि कोविड-19 की जाॅच के लिए सैम्पलिंग लेने हेतु एलटी. नितेश कुमार तथा स्वीपर/चौकीदार मो. हसन की ड्यूटी ग्राम सभा महरीपुर में लगी थी, जहां वे वीटीएम में बिना नमूना लिये स्टिक को पैक कर रहे थे। ऐसा करते हुए उनका एक वीडियो भी वायरल हुआ है। 31 मई सोमवार जिले के बहादुरपुर विकास खण्ड के महरीपुर गांव में स्थित मंझरिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में एक बुजुर्ग व्यक्ति अपनी कोविड जांच कराने आया। स्वास्थ्य कर्मियों ने उससे एक फॉर्म तो भरवाया लेकिन उसका नमूना नहीं लिया और नमूने के बगैर आरटी-पीसीआर टेस्ट स्टिक को वीटीएम में पैक कर दिया। वीडियो में नितेश कुमार व मो. हसन दिखाई दे रहे हैं। मामले में एक जून को एफआईआर दर्ज कराई गई है। 

   जिलाधिकारी के निर्देश पर सीएमओ ने इनके विरूद्ध विभागीय कार्यवाही किया है। उक्त दोनों कर्मचारियों के खिलाफ सीएचसी मरवटिया के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. विवेक विश्वास ने नगर थाने में मुअसं. 92/2021 पर भादवि. की धारा 167/188 व 3 महामारी अधिनियम अन्तर्गत मुकदमा दर्ज कराया है।

             ➖     ➖     ➖     ➖     ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम