यूपी में 30 अप्रैल तक स्कूल बंद

                 (विशाल मोदी) 

 उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ने लगे हैं। राजधानी लखनऊ में बुरा हाल है। यहां शनिवार को एक दिन में रेकॉर्ड 4059 नए केस सामने आए हैं। कोरोना के चलते 23 लोगों की यहां मौत हो गई। बेकाबू स्थिति को देखते हुए सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने कई जरूरी कदम उठाए हैं।

बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए मियाद बढ़ाने का फैसला, पहले से तय परीक्षाएं नहीं टलेंगी, पहले 15 अप्रैल तक बंद थे स्कूल, शनिवार को प्रदेश में सामने आए 12 हजार से ज्यादा नए कोरोना केस

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर से मामलों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। शनिवार को 12 हजार से ज्यादा नए केस सामने आने के बाद अब राज्य सरकार ने भीड़भाड़ को रोकने के लिए कई कदम उठाए हैं। इस बीच स्कूल-कॉलेजों को बंद करने की मियाद बढ़ाने का फैसला लिया गया है। अब पहली से लेकर 12वीं तक के स्कूल-कॉलेज 30 अप्रैल तक बंद रहेंगे।

पहले से तय परीक्षाएं नहीं टलेंगी

इससे पहले 12वीं कक्षा तक के स्कूल-कॉलेज 15 अप्रैल तक बंद करने का आदेश जारी हुआ था। अब ये मियाद 15 दिन और बढ़ाकर 30 अप्रैल कर दी गई है। इस अवधि के दौरान कोचिंग सेंटर भी बंद रहेंगे। हालांकि पहले से तय परीक्षाओं को नहीं टालने का फैसला लिया गया है। टीचिंग स्टाफ को जरूरी कामकाज के लिए स्कूल-कॉलेज बुलाया जा सकेगा। इन सबके बीच 8 मई से यूपी बोर्ड की परीक्षाएं प्रस्तावित हैं। बताते चलें कि यूपी में अप्रैल के पहले 10 दिनों में कोरोना के मामलो में काफी बढ़ोतरी दर्ज हुई है। राजधानी लखनऊ में शनिवार को 4059 नए केस सामने आए। वहीं पूरे उत्तर प्रदेश में 12,787 नए कोरोना केस मिले हैं।

धार्मिक स्थलों पर एक बार में सिर्फ 5 की एंट्री

राजधानी लखनऊ में बुरा हाल है। कोरोना के चलते 23 लोगों की यहां मौत हो गई। बेकाबू स्थिति को देखते हुए सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने कई जरूरी कदम उठाए हैं। अफसरों संग बैठक में सीएम ने लखनऊ में कोविड-19 के उपचार के लिए दो हजार बेड उपलब्‍ध कराने के आदेश दिए हैं। इसके अलावा धर्मस्‍थलों में एक बार में सिर्फ 5 लोगों के प्रवेश की अनुमति दी है। योगी ने सभी जिलों के डीएम को कोविड अस्‍पतालों में ऑक्‍सीजन की लगातार आपूर्ति सुनिश्चित करने के कहा है। मुख्यमंत्री ने कोविड कंट्रोल रूम का जायजा भी लिया।

काशी विश्वनाथ के गर्भगृह में प्रवेश पर पाबंदी

वाराणसी स्थित काशी विश्वनाथ मंदिर के गर्भगृह में भक्तों के प्रवेश पर पाबंदी लगा दी गई है। वाराणसी में कोरोना के बढ़ते कहर को देखते हुए मंदिर प्रशासन ने ये फैसला लिया है। मंदिर के गर्भगृह के सभी प्रवेश द्वार पर अरघा लगाकर भक्तों का प्रवेश भी बंद दिया गया है। मंदिर में अब भक्त सुबह 6 से रात 9 बजे तक ही बाबा का दर्शन कर सकेंगे। बाबा विश्वनाथ के दर्शन के लिए भक्तों को कोविड नियमों का पालन करना होगा। मास्क और हैंड सैनिटाइजेशन के बाद ही भक्तों को मंदिर में प्रवेश की अनुमति मिलेगी।

          ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती के पूर्व सीएमओ ने गंगा में लगाई छलांग

लॉक डाउन पूरी तरह खत्म

बस्ती जिले में 35 नये डॉ. तैनात