हमारी आवाज हमारा भविष्य, बेटियों का उत्पीड़न बन्द हो : अमित उपाध्याय


(रीतेश श्रीवास्तव) 


संतकबीरनगर (उ.प्र.) । बेटियों के विरुद्ध बढ़ रही हिंसा और शोषण की घटनाएं गंभीर चिंता का विषय है, हर प्रकार की हिंसा का विरोध होना चाहिए और इसे प्रत्येक दशा में रोकना ही होगा। उक्त बातें सोशल एक्टिविस्ट और बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष अमित कुमार उपाध्याय ने अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर कहीं। 



   श्री उपाध्याय ने कहा कि इस साल अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस की थीम है- "हमारी आवाज और हमारा समान भविष्य"। इस साल की थीम "हमारी आवाज और हमारा समान भविष्य" का उद्देश्य समाज में ये संदेश देना है कि कैसे छोटी बालिकाएं आज पूरे विश्व को एक मार्ग दिखाने का प्रयास कर रही हैं।  



हर जगह अपना योगदान करने वाली और चुनौतियों का सामना कर रही लड़कियों के अधिकारों के लिए जागरूकता फैलाने, उनके सहयोग के लिए दुनिया को जागरूक करने के लिए इस दिवस का आयोजन किया गया। अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस का उद्देश्य है बालिकाओं के मुद्दे पर विचार करके इनकी भलाई की ओर सक्रिय कदम बढ़ाना। गरीबी, संघर्ष, शोषण और भेदभाव का शिकार होती लड़कियों की शिक्षा और उनके सपनों को पूरा करने के लिए कदम उठाने पर ध्यान केंद्रित करना ही इसका मुख्य उद्देश्य है।


        ➖    ➖    ➖    ➖    ➖


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए


मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश

नवनिर्वाचित विधायक और समर्थकों पर एफआईआर