अजीबोगरीब : निर्भया के दोषी ने मृत्युदंड पर सुप्रीम कोर्ट में उठाये सवाल

तारकेश्वर टाईम्स  (हि0दै0)



नई दिल्ली । साल 2012 में हुए निर्भया कांड के चार दोषियों में से एक दोषी ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है कि उसे मृत्युदंड दिया गया है , जबकि दिल्ली में वायु और जल प्रदूषण उसे वैसी ही मार रही है । ऐसे में मृत्युदंड दिया जाना चाहिए क्या ? निर्भया कांड के एक दोषी अक्षय सिंह ठाकुर ने सुप्रीम कोर्ट में अजीब दलील दी है । कोर्ट में पुनर्विचार में अक्षय ने अपनी सजा की समीक्षा करने का अनुरोध किया है , क्योंकि दिल्ली की जहरीली हवा उसे पहले ही मार रही है ।



अक्षय ने अपनी याचिका में लिखा कि ये सभी को पता है कि दिल्ली में प्रदूषण का स्तर लगातार बढ़ता जा रहा है , और दिल्ली-एनसीआर एक गैस चैंबर बन गई है । यहां का पानी जहरीला होता जा रहा है । जीवन इतना छोटा है , और लोग प्रदूषण से ही मर रहे हैं , तो फिर मृत्युदंड क्यों ।



अक्षय ने पुनर्विचार याचिका को लेकर कहा कि वह अकेला दोषी नहीं है , जिसने सजा की समीक्षा के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है । अपनी याचिका में अक्षय ने ये भी लिखा है कि उसे गलत तरीके से दोषी ठहराया गया है , और कई देशों में तो मृत्युदंड की सजा को खत्म करने की बात कही जा रही है ।
             ➖   ➖   ➖   ➖   ➖
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

अतीक का बेटा असद और शूटर गुलाम पुलिस इनकाउंटर में ढेर : दोनों पर था 5 - 5 लाख ईनाम

अतीक अहमद और असरफ की गोली मारकर हत्या : तीन गिरफ्तार