बस्ती में 30 अप्रैल तक चलेगा दस्तक व विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान : अंद्रा वामसी

 

             (मनीष श्रीवास्तव)

 बस्ती (सू. वि. उ. प्र.)। विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान 1 से 30 अप्रैल तथा दस्तक अभियान 10 से 30 अप्रैल 2024 तक संचालित किया जाएगा। कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित तैयारी बैठक मे जिलाधिकारी अंद्रा वामसी ने उक्त जानकारी दी। बैठक में उन्होने कहा कि अभियान में नामित सभी विभाग आपसी समन्वय से चरणवार पूरी कार्यवाही सम्पन्न कराये। उन्होने बताया कि अभियान के दौरान आशा एवं आगनबाडी कार्यकत्री द्वारा जानकारी घर-घर पहुंचायी जायेगी। अभियान के दौरान 11 विभागों द्वारा समन्वित प्रयास करके इन रोगों पर सफलतापूर्वक नियंत्रण के लिए कार्यवाही की जायेंगी।

उन्होंने कहा कि चिकित्सा एंव स्वास्थ्य विभाग इस अभियान का नोडल विभाग होगा, जो जनपद, तहसील, ब्लाक एवं ग्राम स्तर पर विभागीय अधिकारियों के बीच समन्वय स्थापित करके अभियान संचालित करेगा। अभियान के दौरान बुखार, इन्फ्लुएन्जा, लाइक इलनेश (आईएलआई), क्षय रोग तथा कुपोषित बच्चों के प्राप्त सूची के अनुसार रोगियों का उपचार किया जायेगा। विभाग द्वारा अभियान की मानीटरिंग, पर्यवेक्षण, रिपोर्टिंग, अभिलेखीकरण तथा विश्लेषण किया जायेगा। उन्होंने अभियान से संबंधित विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया है कि निर्धारित उत्तरदायित्व के अनुपालन में शिथिलता बर्दाश्त नही की जायेंगी। समस्त संचालित गतिविधियों को ससमय प्रतिभागिता सुनिश्चित करते हुए पूरा करें। उन्होंने कहा कि नगर पालिका एंव नगर पंचायते मोहल्ला निगरानी समितियों के माध्यम से संचारी रोगो के साथ-साथ शुद्ध पेयजल, स्वच्छता, खुले में शौच न करना तथा मच्छरों के रोक-थाम के लिए जागरूकता के लिए कार्य करेंगी। खुली नालियों को ढकने की व्यवस्था की जायेगी, फॉगिंग कराया जायेगा, झाड़ियों की सफाई करायी जायेगी।
  उन्होंने कहा कि पंचायती राज विभाग द्वारा ग्राम स्तर पर साफ-सफाई, हाथ धोना, शौचालय की सफाई तथा जल निकासी की व्यवस्था, जलाशय एवं नालियों की सफाई, झाड़ियों की काट-छाट किया जायेंगा तथा मैलाथियान से फॉगिग करायी जायेंगी। गॉव में कूडेदान की व्यवस्था करायी जायेगी। जिलाधिकारी ने कहा कि पशुपालन विभाग सूकर पालको को अन्य व्यवसाय जैसे पोल्ट्री उद्योग को अपनाने के लिए प्रेरित करेंगे। सूअरबाड़ो पर वेक्टर नियंत्रण एंव सीरो सर्विलेन्स की व्यवस्था करायेंगें। सूअरबाड़े आबादी से दूर स्थापित किए जायेंगे। सूअरबाडो की नियमित सफाई करायी जायेंगी तथा कीटनाशक का छिड़काव किया जायेंगा। सभी प्रकार के पशुबाड़ो की स्वच्छता, कचरा निस्तारण तथा मच्छररोधी जाली के प्रयोग के लिए पशुपालको को प्रेरित किया जायेगा। उन्होने अधिकारियों को निर्देश दिया कि सभी विभागीय अधिकारी आपसी समन्वय एवं तालमेल से अभियान का संचालन करें। इसमें किसी प्रकार की शिथिलता क्षम्य नही होगी। बैठक का संचालन जिला मलेरिया अधिकारी आइ. ए. अंसारी ने किया।
 उन्होंने अभियान से संबंधित अधिकारियों से कहा कि वे 1 सप्ताह के भीतर अपनी कार्य योजना उपलब्ध करा दें। बैठक में सीडीओ जयदेव सीएस, सीएमओ डॉ. आर.एस.दुबे, ईओ नगरपालिका सत्येन्द्र सिंह, सीएमएस डा. आलोक वर्मा, एसीएमओ डा. ए.के. गुप्ता, डीपीआरओ रतन कुमार, मुख्य पशुचिकित्साधिकारी डा. अमर सिंह, बीएसए अनूप तिवारी, यूनिसेफ के मनोज कुमार श्रीवास्तव, नीलम यादव, डीसी अनिल कुमार सिंह तथा सभी एमओआईसी तथा विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

        ➖   ➖   ➖   ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लाग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

स्वतंत्रता आंदोलन में गिरफ्तार होने वाली राजस्थान की पहली महिला अंजना देवी चौधरी : आजादी का अमृत महोत्सव

निकाय चुनाव : बस्ती में नेहा वर्मा पत्नी अंकुर वर्मा ने दर्ज की रिकॉर्ड जीत, भाजपा दूसरे और निर्दल नेहा शुक्ला तीसरे स्थान पर