पिकौरा शिव गुलाम में जमीन कब्जा कर रहा ब्रोकर, पीड़ित हलकान

 

जमीन पर अतिक्रमण के मामले में एसडीएम ने कोतवाल को दिया निर्देश

       (मनीष श्रीवास्तव 'अंकुर')

बस्ती (उ.प्र.)। स्थानीय शहर कोतवाली थाना क्षेत्र के पिकौरा शिव गुलाम निवासी कौशल किशोर शुक्ल ने उप जिलाधिकारी सदर को पत्र देकर पिकौरा शिव गुलाम में गंदा नाले के निकट अपनी जमीन से अतिक्रमण हटवाने की मांग किया है। इस सम्बन्ध में उप जिलाधिकारी ने शहर कोतवाल को निर्देश दिया है कि न्यायालय के आदेश का अनुपालन कराया जाय। बता दें कि शहर में खुद को दबंग साबित करने पर तुले एक ब्रोकर ने सड़क के उस पार की भूमि बैनामा कराकर गलत चौहद्दी लिखाकर सीधे सड़क के दूसरे तरफ की जमीन पर दांत गड़ा दिए हैं। कहा जाता है कि यह ब्रोकर इतना शातिर है कि इसके चंगुल से निकल पाना मुश्किल है।

स्थानीय मालवीय मार्ग पर केनरा बैंक के पीछे पिकौरा शिव गुलाम निवासी कौशल किशोर शुक्ल ने उप जिलाधिकारी को दिये प्रार्थना पत्र में कहा है कि मौजा पिकौरा शिवगुलाम की भूखंड संख्या 89 (2.।.) के संक्रमणीय भूमिधर बकब्जा स्वामी है तथा नान जेड ए० की भूखंड संख्या 89 पोखरा के खाता खेवट 25 के जमींदार रामरतन के वारिसान हैं।
 स्थानीय लेखपाल सतीश चंद्र श्रीवास्तव ने हेमंत मिश्र पुत्र वीरेश्वर से मिलीभगत कर उक्त भूखंडों को गाटा संख्या 172 की पहचान कराकर स्थानीय थाने की साजिश में करके अवैध या अनाधिकृत रूप से अपराधी किस्म के व्यक्तियों की मदद से कब्जा व निर्माण कराने का प्रयास कर रहे हैं । पूर्व में राजस्व टीम द्वारा उक्त भूमि को भूखंड संख्या 172 होना नहीं बताया गया है। स्थगन आदेश के बावजूद स्थानीय लेखपाल के संरक्षण में अवैध निर्माण व कब्जा कराया जा रहा है। 22 सितम्बर को 15 से 20 अराजक तत्वों के साथ जिसमें कुछ लोग हथियार बन्द भी थे, उक्त भू-खण्ड पर टीन टप्पर रख दिया गया है । उन्होने प्रकरण की अविलंब जांच कराकर भूखंड व पोखरे के स्वरूप बदलकर उसमें अवैध निर्माण करने वाले तथा अवैध निर्माण में सहयोग करने वालों के विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही करने का आग्रह किया है।
कौशल किशोर के भाई कमल किशोर शुक्ल ने बताया कि जो न. उन्होंने बैनामा कराया है, वह 172 न. सड़क के दूसरी तरफ पेट्रोल पम्प के तरफ स्थित है, जिसे उन्हीं लोगों ने जैसे तैसे कब्जा कर रखा है। बैनामे में चालाकी करते हुए जमीन की चौहद्दी गलत लिखकर केनरा बैंक के पीछे स्थित कौशल और कमल की जमीन कब्जा की जा रही है। चौहद्दी गलत लिखकर पूरे प्रशासन को गुमराह करते हुए ब्रोकर द्वारा जबरन कब्जा करने का भरपूर कोशिश की जा रही है। आलम यह है कि मौका मिलते ही रात में भी काम कराने की कोशिश की जाती है। बता दें कि इसके पहले भी इसी मोहल्ले में जमीन कब्जा करने के ही एक अन्य मामले में इसी ब्रोकर ने अपने एक आदमी के बदौलत पीड़ित पर एससी / एसटी का एफआईआर करवाया था।

      ➖   ➖   ➖   ➖   ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लाग इन करें: - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अतीक का बेटा असद और शूटर गुलाम पुलिस इनकाउंटर में ढेर : दोनों पर था 5 - 5 लाख ईनाम

अतीक अहमद और असरफ की गोली मारकर हत्या : तीन गिरफ्तार

निकाय चुनाव : बस्ती में नेहा वर्मा पत्नी अंकुर वर्मा ने दर्ज की रिकॉर्ड जीत, भाजपा दूसरे और निर्दल नेहा शुक्ला तीसरे स्थान पर