भ्रष्टाचार के बीच राज्यपाल के स्वागत को तैयार कैली अस्पताल

                 (नीतू सिंह)

बस्ती (उ. प्र.)। सूबे की राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल के कल बस्ती आगमन पर कैली अस्पताल के निरीक्षण और भ्रमण कार्यक्रम को लेकर मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने कैली अस्पताल की व्यवस्था चाक चौबंद कर दी है। कैली में व्याप्त भ्रष्टाचार और अनियमितताओं को बहुत करीने से छिपाने की तैयारियां भी कर ली गई हैं। यहां सबसे अधिक सुर्खियों में रहने वाले आर्थोपेडिक विभागाध्यक्ष को भी बचाने की जुगत में जिम्मेदारों ने तैयारियां कर ली हैं।

 बता दें कि महर्षि वशिष्ठ स्वशाषी चिकित्सा विश्वविद्यालय बस्ती (मेडिकल कॉलेज बस्ती) की चिकित्सा इकाई ओपेक चिकित्सालय बस्ती में यूं तो हर तरफ भ्रष्टाचार का बोलबाला है। जानकारी के मुताबिक आर्थोपेडिक विभागाध्यक्ष ने इस विभाग को अपनी जागीर की तरह समझ रखा है। कई मरीजों और परिजनों ने बताया कि यह अस्पताल तो सरकारी है, पर विजय साहब यहां प्राइवेट अस्पताल की तरह काम करते हैं और हर चीज की पूरी फीस देनी पड़ती है। दवाईयां बाहर की लिखते हैं। आपरेशन के पैसे अलग से लेते हैं।क् ऊपर से कोई प्लेट, कटोरी और न जाने क्या क्या लगाने की जरुरत बताते हुए बीसों हजार का बिल सरकारी अस्पताल में बैठकर वसूल लेते हैं। मामले की शिकायत प्राचार्य से भी की गई,पर उनका एक ही कहना रहता है, कि मेरी जानकारी में नहीं है। ऊपर से तुर्रा ये कि बताने के बाद भी संज्ञान नहीं लिया जाता। आखिर इसे मिली भगत न समझा जाए तो क्या समझा जाए। कुछ पीड़ित मरीजों और परिजनों ने कल मौका मिलने पर राज्यपाल महोदया से शिकायत करने का मन बना चुके हैं। देखना ये है कि वो अपनी बात रख भी पाते हैं या नहीं।

   ➖➖➖➖➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लाग इन करें : - tarkeshwartimes.page 

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

स्वतंत्रता आंदोलन में गिरफ्तार होने वाली राजस्थान की पहली महिला अंजना देवी चौधरी : आजादी का अमृत महोत्सव

निकाय चुनाव : बस्ती में नेहा वर्मा पत्नी अंकुर वर्मा ने दर्ज की रिकॉर्ड जीत, भाजपा दूसरे और निर्दल नेहा शुक्ला तीसरे स्थान पर