कोतवाल, दरोगा और सिपाही ने लूटी 50 किलो चांदी, गिरफ्तार

 

                      (बृजवासी शुक्ल) 

 कानपुर। बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे पर बुधवार को सराफा कारोबारी के साथ हुई लूट के मामले में पुलिस के हाथ कुछ सुराग लगे। कानपुर-इटावा हाईवे पर लगे सीसीटीवी फुटेज को आधार बनाकर तफ्तीश की गई। साक्ष्यों के आधार पर पुलिस टीम के हाथ सफलता लगी। कानपुर देहात के भोगनीपुर थाना के कोतवाल अजय पाल, एसआई च‍िंंतन कौश‍िक व एक स‍िपाही ने लोगों की सेवा करने वाली खाकी वर्दी पर बदनुमा दाग लगाया है। औरैया पुल‍िस ने तीनों को लूटी गई चांदी के साथ दबोचा है।

बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे पर पुलिस कर्मी बनकर चार लोगों ने बांदा के कारोबारी की कार रोककर चांदी से भरे दो थैले लूट लिए थे। कार चालक को अपने साथ ले जाकर 15 किमी दूर छोड़ा था। कारोबारी की तहरीर पर मामला दर्ज करने के बाद पुलिस ने एसओजी की तीन टीमें गठित कर मामले की तफ्तीश शुरू की। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस आरोपितों तक पहुंचने में लग गई। बताते चलें कि बांदा जिले के छोटी बाजार खिन्नी नाका निवासी मनीष सोनी उर्फ सागर बुधवार की रात कार से मामा के लड़के रवि सोनी, भाभी सोनाली सोनी व उनकी बेटी आशी के साथ बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे से औरैया जा रहे थे। चालक जगनंदन पाल कार चला रहा था।
भोर के समय बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे के किमी 244 व 245 के बीच दारोगा व सिपाही की वर्दी पहने दो युवकों ने रोक लिया। पुलिस को देख सभी कार से बाहर निकल आए। पुलिस वर्दीधारी के साथ खड़े एक व्यक्ति ने कार में रखे चांदी के दो थैलों को उठाकर अपने स्कार्पियो में रख लिया। चालक जगनंदन पाल को अपनी कार में बैठाकर घटनास्थल से लगभग 17 किमी दूर भाऊपुर ओवरब्रिज के नीचे उतार दिया। इसके बाद घटना को अन्जाम दिया गया।

       ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

अतीक का बेटा असद और शूटर गुलाम पुलिस इनकाउंटर में ढेर : दोनों पर था 5 - 5 लाख ईनाम

अतीक अहमद और असरफ की गोली मारकर हत्या : तीन गिरफ्तार