गोरखपुर : राजनीति के योद्धा पं. हरिशंकर तिवारी नहीं रहे

                          (संतोष दूबे) 

 गोरखपुर। पूर्वांचल की राजनीति के योद्धा और बाहुबली के रुप में जाने जाने वाले पण्डित हरिशंकर तिवारी बीते मंगलवार की रात करीब साढ़े सात बजे गोलोकवासी हो गये। ये करीब अठासी साल के थे। ये पूर्वांचल की राजनीति के तटस्थ स्तम्भ माने जाते थे। इनका परिवार पूरी तरह से राजनीति में सक्रिय है। इनके दोनों बेटे सांसद और विधायक रह चुके हैं। इन्होंने गोरखपुर स्थित अपने आवास तिवारी हाता में अन्तिम सांस ली। श्री तिवारी का अन्तिम संस्कार कल बड़हलगंज स्थित मुक्तिपथ पर किया जाएगा।

एक समय प्रदेश और खासकर पूर्वांचल के बाहुबली नेता हरिशंकर तिवारी ने 1985 में जेल में रहकर गोरखपुर की चिल्लूपार विधान सभा से चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की थी। इस तरह जेल से चुनाव जीतने वाले प्रदेश के वह पहले विधायक बने। कहते हैं कि इस चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी ने उन्हें वॉक ओवर दे दिया था। इस तरह यूपी में अपराध के राजनीतिकरण की शुरुआत यहीं से हुई और हरिशंकर तिवारी यूपी के बड़े ब्राह्मण नेता के रूप में स्थापित हो गए।

1998 से हरिशंकर तिवारी हर दल की जरूरत बन गए थे। 1998 में कल्याण सिंह की सरकार में मंत्री बने, तो बीजेपी के ही अगले सीएम रामप्रकाश गुप्त और राजनाथ सिंह सरकार में भी मंत्री रहे। इसके बाद मायावती और 2003 से 2007 तक मुलायम सिंह यादव की सरकार में भी मंत्री रहे ।

2007 में पूर्व पत्रकार राजेश त्रिपाठी ने हरिशंकर तिवारी को मात दी। इस चुनाव में पहली बार उन्हें हार का सामना करना पड़ा पड़ा। इसके बाद 2012 में दोबारा हार के बाद हरिशंकर तिवारी ने अपनी राजनीतिक विरासत बेटे विनय शंकर तिवारी को दे दी।
लोकतांत्रिक कांग्रेस के संस्‍थापक और प्रदेश सरकार में कई बार कैबिनेट मंत्री रहे हर‍िशंकर तिवारी का मंगलवार देर शाम करीब साढ़े सात बजे न‍िधन हो गया। वह 88 वर्ष के थे और लंबे समय से अस्‍वस्‍थ चल रहे थे। गोरखपुर के धर्मशाला बाजार में त‍िवारी हाता में उन्‍होंने अंत‍िम सांस ली। बड़हलगंज के टांड़ा गांव में जन्‍मे हर‍िशंकर त‍िवारी च‍िल्‍लूपार से छह बार व‍िधायक रहे और कल्‍याण स‍िंह से लेकर मुलायम स‍िंंह यादव की सरकार में अलग अलग व‍िभागों के मंत्री रहे। उनके न‍िधन के समय उनके बड़े बेटे पूर्व सांसद भीष्‍म शंकर उर्फ कुशल त‍िवारी और पूर्व व‍िधायक व‍िनय शंकर तिवारी घर पर ही मौजूद थे।

        ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

स्वतंत्रता आंदोलन में गिरफ्तार होने वाली राजस्थान की पहली महिला अंजना देवी चौधरी : आजादी का अमृत महोत्सव

सो कुल धन्य उमा सुनु जगत पूज्य सुपुनीत