अतीक अहमद और असरफ की गोली मारकर हत्या : तीन गिरफ्तार

                           (बृजवासी शुक्ल) 

प्रयागराज। गैंगस्टर से नेता बने अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ पर आज रात करीब दस बजे को प्रयागराज में मेडिकल कॉलेज के पास अज्ञात हमलावरों ने गोलीबारी की। इसमें दोनों की मौत हो गई। जिन तीन हमलावरों ने इन पर गोलियां चलाईं, उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया गया है। दोनों को साल 2005 के राजू पाल हत्याकांड के सिलसिले में अदालत में सुनवाई के लिए यहां लाया गया था। 13 अप्रैल को झांसी में पुलिस मुठभेड़ में अतीक अहमद का बेटा असद और उसका एक साथी गुलाम मोहम्मद मारा गया था। अतीक और असरफ की हत्‍या पुलिस हिरासत में हुई है। इस कारण सवाल भी उठ रहे हैं। डीजीपी उत्‍तर प्रदेश ने आशंका भी जताई थी कि अतीक की हत्‍या की जा सकती है।

प्रयागराज के कॉल्विन अस्पताल के पास ये हमला तब हुआ, जब पुलिस टीम अतीक और अहमद को लेकर जा रही थी। इसी दौरान तीन हमलावर अचानक बीच में पहुंचे और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने हमलावरों को मौके से दबोच लिया है। इस पूरे हमले को बकायदा मीडिया और पुलिस के सामने अंजाम दिया गया है। दोनों पर जब फायरिंग हुई, पूरी वारदात कैमरे में भी कैद हुई है।अतीक अहमद को मेडिकल के लिए ले जा रही पुलिस की गाड़ी पर हमला हुआ है। पुलिस की गाड़ियों पर फायरिंग की गई है। इस हमले में अतीक और अशरफ की मौत हो गई है। मेडिकल कॉलेज के पास अतीक अहमद और अशरफ की हत्या की गई है। जिस वक्त ये हमला हुआ उस वक्त दोनों को जांच के लिए ले जाया जा रहा था। दोनों के शवों को मेडकल कॉलेज के अंदर ले जाया गया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

जानकारी के मुताबिक प्रयागराज के कॉल्विन अस्पताल के पास ये हमला तब हुआ, जब पुलिस टीम अतीक अहमद और असरफ को लेकर जा रही थी। इसी दौरान तीन हमलावर अचानक बीच में पहुंचे और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने हमलावरों को मौके से दबोच लिया है। इस पूरे हमले को बकायदा मीडिया और पुलिस के सामने अंजाम दिया गया है। दोनों पर जब फायरिंग हुई, पूरी वारदात कैमरे में भी कैद हुई है। इस हमले में एक पुलिस कांस्टेबल भी घायल हुआ है, जिसका नाम मान सिंह है। उसे इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है। अतीक और अशरफ की सरेआम गोली मारकर हत्या किये जाने का वीडियो विचलित कर सकता है।

इस घटना के बाद प्रयागराज से लेकर लखनऊ तक हड़कंप मचा हुआ है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाईलेवल मीटिंग बुलाई है। बताया जा रहा है कि घटना को लेकर सीएम योगी नाराज हैं औऱ इस मीटिंग में यूपी पुलिस के उच्च अधिकारियों से रिपोर्ट मांगेंगे। सीएम ने डीजीपी और एडीजी को तलब किया है। फिलहाल मामले पर पुलिस की तरफ से कोई बयान सामने नहीं आया है। जल्द ही घटना को लेकर पुलिस के उच्च अधिकारी प्रेस कांफ्रेंस कर सकते हैं।
इस हत्याकांड में हैरान करने वाली बात यह रही कि सभी हमलावरों ने मौके से भागने का प्रयास नहीं किया, बल्कि पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया। सूचना मिलते ही भारी पुलिसबल भी मौके पर पहुंचा है। पुलिस ने मौके पर घेराबंदी कर दी है। बता दें कि इससे पहले गुरुवार तेरह अप्रैल को यूपी के झांसी में यूपी एसटीएफ (UP STF) ने अतीक अहमद के बेटे असद और शूटर गुलाम मोहम्मद का एनकाउंटर कर दिया था। एसटीएफ की टीम पिछले डेढ़ महीने से असद अहमद और गुलाम की तलाश कर रही थी। यह एनकाउंटर यूपी एसटीएफ के डिप्टी एसपी नवेंदु और डिप्टी एसपी विमल की अगुवाई में हुआ था। असद और गुलाम पर पांच - पांच लाख का इनाम था। असद और शूटर गुलाम के पास से एक ब्रिटिश Bull Dog Revolver और Walhther Pistol बरामद की गई थी। 

प्रयागराज में 24 फरवरी को हुई थी उमेश पाल की हत्या

यूपी के प्रयागराज में 24 फरवरी को उमेश पाल और उनके दो सुरक्षाकर्मियों की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। उमेश पाल प्रयागराज में हुए राजू पाल हत्याकांड में मुख्य गवाह थे। उमेश जैसे ही अपनी गाड़ी से उतरे, वैसे ही बदमाशों ने उन पर फायरिंग कर दी थी। इस दौरान उनकी और उनके एक गनर की गोली लगने से मौत हो गई। जबकि दूसरे गनर की इलाज की दौरान मौत हो गई थी। बदमाशों ने इस हत्याकांड को 44 सेकेंड में अंजाम दिया था। इस हत्याकांड में अतीक पर साजिश रचने का आरोप है।

        ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

अतीक का बेटा असद और शूटर गुलाम पुलिस इनकाउंटर में ढेर : दोनों पर था 5 - 5 लाख ईनाम