बस्ती में भारत विकास परिषद ने रक्तदान कर मनाया शहीद दिवस : ओम मल्टीस्पेशिलिटी हास्पिटल पर लगा रक्तदान शिविर

                             (नीतू सिंह) 

बस्ती (उ.प्र.)। रक्तदान जीवनदान है। एक रक्तदान किसी की जान बचाने के लिए वरदान साबित हो सकता है। इसलिए रक्तदान करना प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है। ये बातें आज भगत सिंह, सुखदेव और राज गुरु के बलिदान दिवस पर भारत विकास परिषद वशिष्ठ शाखा की ओर से ओम आर्थोपेडिक व मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल पर आयोजित रक्तदान शिविर में भारत विकास परिषद वशिष्ठ शाखा के अध्यक्ष कैलाश नाथ दूबे कहीं।

करीब 3 घंटे तक चले शिविर में महिला शक्ति भी पीछे नहीं रही। शाखा की रक्तदात शिविर प्रभारी संगीता यादव समेत कई महिलाओं ने रक्तदान किया। 50 से अधिक बार रक्तदान करने वाले गोरक्ष प्रांत के सेवा प्रमुख डॉ. डी के गुप्ता और शाखा के वित्त सचिव अनुराग शुक्ल ने रक्तदान कर श्रद्धांजलि दी।
                  इन्होंने किया रक्तदान

शिविर में जे. पी. चौबे, डॉ. राकेश पाण्डेय, विनय कुमार, शैलेष उपाध्याय, अवधेश प्रजापति, रामभवन चौधरी, डॉ. विवेक चौधरी, राज गुप्ता, विमल यादव ने भी रक्तदान किया। वरिष्ठ आर्थोपेडिक सर्जन डॉ. डी. के. गुप्ता ने कहा कि जरूरतमंद की जिंदगी को बचाने के लिए रक्त बहुत ज्यादा जरूरी होता है। इसलिए सभी स्वस्थ व्यक्ति को समय - समय पर रक्तदान करना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमारा एक रक्तदान किसी के लिए जीवनदान हो सकता है।

 भारत विकास परिषद वशिष्ठ शाखा के अध्यक्ष कैलाश नाथ दूबे कहा रक्तदान करना सेहत के लिए काफी लाभदायक है और दूसरों की जिंदगी बचाने के लिए आवश्यक भी है। रक्तदान के लिए इसके साथ ही सभी से अपील कि रक्तदान जरूर करें। उन्होंने कहा कि भगत सिंह ने देश की आजादी के लिए अपनी जान तक दे दी। ऐसे महान क्रांतिकारियों से प्रेरणा लेते हुए हम सभी को जरूरतमंदों की मदद के लिए रक्तदान करना चाहिए। रक्तदात का सफल संयोजन डॉ प्रशांत त्रिपाठी और संगीता यादव ने किया। इस अवसर पर डॉ निधि गुप्ता, संस्था के सचिव पंकज त्रिपाठी, मोहित पांडेय, डॉ मनोज सिंह, चन्दन, सनी, शिवम आदि लोग उपस्थित रहे।

        ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

स्वतंत्रता आंदोलन में गिरफ्तार होने वाली राजस्थान की पहली महिला अंजना देवी चौधरी : आजादी का अमृत महोत्सव

सो कुल धन्य उमा सुनु जगत पूज्य सुपुनीत