लखनऊ में पांच मंजिला बिल्डिंग ढहने से तीन की मौत, दर्जनों रेस्क्यू, मलबे में और होने की आशंका

 

                          (बृजवासी शुक्ल)

लखनऊ। नेपाल से लेकर भारत तक भूकंप के झटके महसूस होने के बाद तीन घंटे बाद ही लखनऊ में पांच मजिला एक बिल्डिंग गिर गई। हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई। मलबे में से आठ लोगों को निकालकर अस्पताल भेजा गया है। SDRF, NDRF की टीमें और 12 जेसीबी रेस्क्यू ऑपरेशन में लगाई गई हैं। अभी और लोगों के दबे होने की आशंका है। हादसा इतना भीषण है कि आर्मी को भी रेस्क्यू के लिए बुलाया गया है।

हादसा शहर के हसनगंज रोड स्थित अलाया अपार्टमेंट में हुआ। बताया जा रहा है कि बिल्डिंग के अंदर बेसमेंट की खुदाई चल रही थी, जिसकी वजह से यह हादसा हुआ है। कुछ लोगों का यह भी कहना है कि भूकंप की वजह से बिल्डिंग में दरार आ गई थी।
सीएम योगी आदित्यनाथ ने खबर लगते ही मौके पर NDRF और SDRF को पहुंचने और घायलों को बेहतर से बेहतर उपचार देने का निर्देश दिया। सूचना मिलते ही डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक भी मौके पर पहुंच गए। बताया जा रहा है कि अलाया अपार्टमेंट में कांग्रेस नेता रहे जीशान हैदर का परिवार भी रहता है। आशंका है कि उनके परिवार के कई सदस्य मलबे में फंसे हैं।
        बिल्डिंग में 30-35 परिवार रह रहे थे 

बताया जा रहा कि बिल्डिंग करीब 15 साल पहले बनी थी। इसमें 30-35 परिवार रह रहे थे। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि करीब 6:30 बजे अचानक तेज धमाके के साथ बिल्डिंग गिर गई। इसके करीब डेढ़ घंटे बाद रेस्क्यू शुरू हुआ।

दोपहर में 30 सेकेंड तक महसूस हुए भूकंप के झटके

आज मंगलवार दोपहर नेपाल में 5.8 तीव्रता का भूकंप आया। इसके झटके करीब 30 सेकेंड तक लखनऊ, बरेली, अयोध्या, गोरखपुर समेत यूपी के तकरीबन सभी शहरों में महसूस किए गए।

            ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती : दवा व्यवसाई की पत्नी का अपहरण

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश