'साथी हाथ बढ़ाना' की टीम ने बस्ती में बांटे सैकड़ों कम्बल

                            (नीतू सिंह) 

बस्ती (उ.प्र.)। कड़ाके की ठंड में गरीबों, और असहायों को ठंड से बचाने के लिये सामाजिक संस्था ‘साथी हाथी बढ़ाना’ की टीम ने कम्पनी बाग पुलिस बूथ के सामने कम्बल का वितरण किया। रिक्शाचालकों सहित सैकड़ों लोग लाभान्वित हुये। संस्थापक राजकुमार पाण्डेय ने कहा कि छोटा छोटा सहयोग अपने साथियों से लेकर संस्था प्रायः ऐसे कार्यक्रम आयोजित कर रही है, जिससे समाज के कमजोर लोगों की मदद हो सके। खास तौर से उनका ध्यान रखा जाता है जिन्हे दो वक्त की रोटी जुटाने के लिये रोजाना मशक्कत करनी पड़ती है। मानव सेवा से बढ़कर कोई धर्म नही है।

 संरक्षक एलके पाण्डेय ने कहा ‘साथी हाथी बढ़ाना’ की ओर से पुलिस बूथ के सामने पुराने कपड़ों का स्टाल वर्षों से संचालित है। भीषण डंठ में गरीब परिवारों के लिये यह वरदान सिद्ध हो रहा है। उन्होने अपील किया कि जिन लोगों के पास पुराने कपड़े जूते इत्यादि हों जिनका उन्होने इस्तेमाल करना बंद कर दिया है उसे स्टाल पर पहुंचायें जिससे जरूरतमंदों को सहारा मिल सके। उन्होने कहा जो हमारे लिये अनुपयोगी हो सकता है वह दूसरों के बहुपयोगी हो सकता है। इसलिये व्यवस्थित करके पुराने कपड़े स्टाल पर जमा करायें।
कृष्ण नंदन उपाध्याय उर्फ मुन्ना, अशोक श्रीवास्तव, अधिवक्ता शैलेंद्र पाठक, रामसजन यादव, अपूर्व शुक्ला, सोमनाथ पाण्डेय, जीशान हैदर रिजवी शानू आदि ने कहा साथी हाथ बढ़ाना संस्था की ये मुहिम लगातार जारी रहेगी। कम्पनी बाग चौराहे पर कम्बल बांटते समय नंदकिशोर गुप्ता, वरिष्ठ पत्रकार आमोद उपाध्याय, राहुल शुक्ला, राजू खान, अमित तिवारी, अंकुर श्रीवास्तव, गुड्डू सिंह, बब्बू मिश्र, अनीष त्रिपाठी, शिवम अग्रहरी, बिफई, डॉ. वीके गुप्ता आदि का सहयोग सराहनीय रहा।

       ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती : दवा व्यवसाई की पत्नी का अपहरण

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश