पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय नहीं रहे : आगरा में ली अन्तिम सांस

                           (बृजवासी शुक्ल) 

ब्राह्मण समाज में अच्छी पकड़ रखने वाले पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय नहीं रहे। हाथरस को जिला बनवाने के अलावा कई विकास कार्य उन्होंने कराए थे। पश्चिम उत्तर प्रदेश के दिग्गज नेताओं में वे शामिल थे। शुक्रवार की देर रात उनके निधन के बाद हाथरस जिले में शोक छा गया।

हाथरस। उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय नहीं रहे। वे 65 साल के थे। लंबे समय तक बसपा में रहे और पांच बार विधायक, मंत्री व मुख्य सचेतक भी रहे। वे काफी समय से गंभीर रोग से पीड़ित थे। दो सितंबर शुक्रवार की रात आगरा के रेनवो अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली। वे हाथरस में पांच बार लगातार विधायक रहे। 1996 से 2017 तक हाथरस सदर, सिकंदराराऊ व सादाबाद सीट से विधायक रहे।
 हाथरस में भारतीय जनता पार्टी से अपनी राजतनीति की शुरुआत करने वाले रामवीर उपाध्याय ने करीब तीन दशक पहले टिकट नहीं मिलने से नाराज होकर पार्टी छोड़ दी थी। 25 वर्ष बसपा में सफर के बाद भाजपा में शामिल हुए थे। बसपा में रामवीर उपाध्याय कद्दावर नेता थे और उन्होंने कई बार मंत्री और अन्य पदों पर रहकर राजनीति के अर्श को छुआ था। हाथरस की राजनीति में रामवीर का नाम बड़े नेता के रूप में हमेशा से रहा है। राम मंदिर आंदोलन के दौरान रामवीर उपाध्याय भाजपा में थे। उभरते हुए नेता के रूप में उन्होंने वर्ष 1993 में हाथरस सदर सीट से भाजपा से टिकट के लिए दावेदारी की, लेकिन पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दी। राजवीर पहलवान को प्रत्याशी बनाया था। इससे नाराज होकर रामवीर उपाध्याय निर्दलीय मैदान में उतरे थे और चुनाव हार गए थे। इसके बाद वह 1996 में बसपा में शामिल हुए और हाथरस सदर सीट से चुनाव लड़े। भारी बहुमत से चुनाव जीतकर वह विधायक बने। इसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।


 वर्ष 2002 और 2007 में हाथरस सदर, वर्ष 2012 में सिकंदराराऊ और 2017 से वह सादाबाद से विधायक बने। इस बीच वह ऊर्जा, परिवहन, चिकित्सा शिक्षा, समेत कई अहम विभागों के मंत्री रहे। बसपा ने उन्हें लोक लेखा समिति के सभापति भी बनाया। विधानमंडल दल में मुख्य सचेतक भी रामवीर उपाध्‍याय रहे हैं। 2022 के चुनाव में हाथरस की सादाबाद सीट से भाजपा की टिकट पर चुनाव लड़े लेकिन जीत नहीं पाए।

        ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती : दवा व्यवसाई की पत्नी का अपहरण

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश