घर छोड़ने को मजबूर हिन्दू परिवार

                           (घनश्याम मौर्य) 

 कुशीनगर। जिले में एक प्रधान पति से परेशान होकर गांव के 20 हिंदू परिवार अपना घर छोड़ने पर मजबूर हो गए हैं। हिंदू परिवारों का आरोप है कि 2 महीने से उन लोगों को जमीन से हटने के लिए कहा जा रहा है। उनका आरोप है कि गांव की प्रधान मुस्लिम है। प्रधान पति कहता है कि ये सरकारी जमीन है। इसको तुम लोगों को छोड़ना पड़ेगा। कोतवाल और चौकी इंचार्ज भी प्रधान पति का साथ दे रहे हैं।


मामला रामकोला थाना क्षेत्र के सपहा गांव का है। इस गांव की आबादी 6 हजार से ज्यादा है। गांव के ये हिंदू परिवार करीब 20 साल से यहां रह रहे हैं। ये लोग खेतों पर मजदूरी करते हैं।


गांव के 20 घरों के बाहर इस तरह का पोस्टर लगा हुआ है। - Dainik Bhaskar

गांव के 20 घरों के बाहर इस तरह का पोस्टर लगा हुआ है।

“जब घर बिक जाएगा, हम चले जाएंगे”

गांव के लोगों ने अपने घर के बाहर 'यह मकान बिकाऊ है' का पोस्टर लगा दिया है। उनका कहना है, ''अगर हम अपना मकान नहीं बेचेंगे, तो प्रधान पति महफूज खान उन्हें गिरवा देगा। हमारी मेहनत की कमाई मिट्‌टी में मिल जाएगी। हम लोग का घर जब बिक जाएगा, तब हम लोग चले जाएंगे।''


घरों पर पानी की टंकी लगवाना चाहता है

उनका यह भी कहना है, ''प्रधान पति 'हर घर नल' योजना के तहत हमारे घर गिरा कर पानी की टंकी लगवाने की बात कह रहा है। गांव में और भी जगह है, लेकिन वह जान-बूझ कर हमारी जमीन हड़पना चाहता है। हम लोग कई साल से यहां रह रहे हैं। हम गरीब इतनी जल्दी कहां चले जाएं।''


पुलिस ने मौके पर पहुंचकर गांव की महिलाओं से बात की। उनकी समस्याएं सुनी। - Dainik Bhaskar

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर गांव की महिलाओं से बात की। उनकी समस्याएं सुनी।

ADM मौके पर पहुंचे, कहा- कार्रवाई होगी

सोमवार देर शाम इस गांव की तस्वीरें सामने आई थीं। इसके बाद मंगलवार सुबह ADM देवीदयाल वर्मा मौके पर पहुंचे। उन्होंने गांव के लोगों से मामले की जानकारी ली। साथ ही प्रधान के खिलाफ कार्रवाई करने की बात भी कही।


मामले में प्रधान प्रतिनिधि महफूज ने कहा, ''गांव में पानी की टंकी बनाने के लिए मंजूरी मिली है। इसका निर्माण कराने के लिए पहले से जगह चिह्नित है। 20 दिन पहले तहसील प्रशासन ने चिह्नित जगह से अतिक्रमण हटाने के लिए कहा था। गांव के किसी भी परिवार से मैंने जगह छोड़ने के लिए नहीं कहा है। मामले को राजनीतिक तूल देने के लिए यह हरकत की जा रही है।''

इन सारी बातों के बीच भास्कर की टीम कुशीनगर मुख्यालय से 35 किलोमीटर दूर सपहा गांव पहुंची। गांव के अंदर कुछ मिट्टी के घर बने थे। कुछ पक्के मकान भी बने थे। थोड़ा दूर अंदर जाने पर कुछ झोपड़-पटि्टयां भी दिखाई दीं। हम लोगों को देखकर पहले गांव के लोगों को लगा कि हम उन्हें भगाने आए हैं। बाद में हमने उनको बताया कि हम उनकी समस्या का हल निकालने आए हैं। उनकी मदद करने आए हैं।

             डंडे से मारता है प्रधान पति

इसके बाद हम गांव के अभिषेक पासवान के घर पर बैठे। अभिषेक ने बताया, ''प्रधान पति हमारे घर के अंदर अपने साथियों के साथ घुस जाता है। घर की महिलाओं को डंडे से मारता है। उनके साथ गाली-गलौज करता है। हमें गांव में देखता है, तो भगाने लगता है। हमारे घर के बच्चे गांव में खेल तक नहीं सकते हैं। खाना-पीना सब मुश्किल हो गया है। डर लगा रहता है पता नहीं कब हमारा घर गिर जाए।''

      बच्चों को मारने की धमकी

पास में बैठी हिंदू देवी ने बताया, ''प्रधान पति हमारे सामने अपने साथियों के साथ अश्लील हरकत करता है। पानी भरने जाओ, तो भगा देता है। कहता है, तुम्हारे बच्चों को मार देंगे। प्रधान कहता है कि मैं यहां जो चाहूंगा वो करूंगा। हम लोगों को कोई सामान भी नहीं बेचता है। कई घर में सूखी रोटी खानी पड़ती है। गांव में टंकी लगाने के लिए और भी जगह है, लेकिन वह हमें हटाना चाहता है। तभी हमारी जमीन को दिखा दिया है।''

   बातचीत करके मामले का निकाला जाएगा हल

मामले में अपर पुलिस अधीक्षक रितेश कुमार सिंह ने मौके पर पहुंचकर लोगों को समझाया। उन्हें विश्वास दिलाया कि उन्हें कोई भी उनके घर से नहीं निकाल पाएगा। मामले की जांच की जा रही है। दोनों पक्षों से बातचीत करके इसका हल निकाला जाएगा। गांव का माहौल खराब करने वालों के साथ पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी।

        ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

स्वतंत्रता आंदोलन में गिरफ्तार होने वाली राजस्थान की पहली महिला अंजना देवी चौधरी : आजादी का अमृत महोत्सव

सो कुल धन्य उमा सुनु जगत पूज्य सुपुनीत