बीडीए सचिव गुलाब चन्द्रा ने किया ध्वजारोहण, लगा मानचित्र समाधान शिविर

                          (विशाल मोदी) 

बस्ती (उ.प्र.)। स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर पर बीडीए ने बस्ती वासियों को सौगात दी है। आसानी से नक्शा पास कराईये और घर बनवाईये आराम से। ये बातें बीडीए सचिव गुलाब चन्द्रा ने कहीं।

बस्ती विकास प्राधिकरण कार्यालय पर आज देश के स्वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर बीडीए (बस्ती विकास प्राधिकरण) सचिव गुलाब चन्द्रा ने सभी कर्मचारियों के साथ झण्डारोहण किया। इस मौके पर बीडीए ने एक बड़ी पहल करते हुए आज ही के दिन नया भवन निर्माण कराने वालों की समस्याओं के निराकरण के लिए नक्शा समाधान कैम्प (मानचित्र निस्तारण शिविर) भी लगा दिया। बीडीए सचिव गुलाब चन्द्रा ने बताया कि इससे लोगों को भ्रम की स्थितियों और जटिलताओं से काफी हद तक राहत मिलेगी। अब नक्शा पास कराने के लिए कोई भी व्यक्ति स्वयं ही आनलाइन आवेदन कर सकता है। यानि उसे किसी मध्यस्थ की आवश्यकता नहीं होगी। 

मानचित्र समाधान शिविर का उद्घाटन जिलाधिकारी  प्रियंका निरंजन ने किया। उन्होंने कहा कि अब विकास प्राधिकरण क्षेत्र में मानचित्र पास कराने की प्रक्रिया काफी सरल हो गयी है और आवेदक स्वयं आवेदन कर सकते हैं। इससे अब लोगों को सरलता से किसी भी निर्माण के लिए आसानी से स्वीकृति मिल जाएगी।

आर्किटेक्ट / इंजीनियर द्वारा बनाए मानचित्र को स्वयं अथवा कम्प्यूटर सेवा प्रदाता (किसी कम्प्यूटर सेन्टर से) के माध्यम से विभागीय मानचित्र स्वीकृति की वेबसाइट www.upobpas.in पर अपलोड कर सकते हैं। 
निर्धारित शुल्क जमा करने के उपरांत वेबसाइट द्वारा नगर पालिका परिषद, लोक निर्माण विभाग, अरबन सीलिंग, भूमि अध्यप्ति अधिकारी एवं नजूल विभागों (प्रकरण के अनुसार जैसा आवश्यक हो) से अनापत्ति प्राप्त करने हेतु पत्र जारी किया जाएगा। मांगी गई अनापत्ति व स्वामित्व आदि के शपथ पत्र वेबसाइट पर अपलोड करने के उपरांत मानचित्र प्राधिकरण के पोर्टल पर आ जाएगा।
गुलाब चन्द्रा ने बताया कि प्राधिकरण द्वारा अधिकतम 15 दिन के अंदर मानचित्र स्वीकृत कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्राधिकरण द्वारा बताई गई धनराशि आनलाइन जमा करने के बाद मानचित्र वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं।
स्वीकृत मानचित्र के अनुसार निर्माण कार्य प्रारंभ किया जा सकता है। इस पूरी प्रक्रिया में आपको प्राधिकरण कार्यालय में आने की कोई आवश्यकता नहीं है। नक्शा न पास कराने पर 
बीडीए सचिव ने कहा कि यदि कोई व्यक्ति बिना नक्शा पास कराए कोई निर्माण कार्य करता है तो प्राधिकरण द्वारा कभी भी उस निर्माण कार्य को रोका जा सकता है। प्राधिकरण द्वारा निर्माण को सील किया जा सकता है। बिना स्वीकृत मानचित्र के निर्माण कराने पर उसी व्यक्ति के हर्जे खर्चे पर निर्माण को ध्वस्त किया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि ऐसा पाये जाने पर प्राधिकरण द्वारा दो हजार पांच सौ रु. प्रतिदिन का जुर्माना लगाया जा सकता है। असुविधा से बचने के लिए बस्ती विकास क्षेत्र में निर्माण करने से पूर्व मानचित्र अवश्य स्वीकृत करा लें। सरकार द्वारा नक्शा पास कराने की प्रक्रिया को अत्यन्त सरल कर दिया है। किसी भी जानकारी के लिए किसी भी कार्यदिवस मे दस से पांच बजे के बीच मो. न. - 639753 4965 पर सम्पर्क कर सकते हैं। किसी भी कार्य दिवस में प्राधिकरण कार्यालय में स्थित हेल्प डेस्क से भी जानकारी ली जा सकती है।
नगरपालिका सीमा के बाहर परन्तु महायोजना क्षेत्र में अन्य स्थल / भू प्रयोग विशेष में अतिरिक्त रुप से मांगी जाने वाली अनापत्ति में सम्मुख ओर सरकारी सड़क होने की दशा में सम्बन्धित विभाग का अनापत्ति प्रमाणपत्र एवं अग्निशमन विभाग का अनापत्ति प्रमाण पत्र, पर्यावरण सम्बन्धी अनापत्ति प्रमाण पत्र, मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं उप्र आवास एवं विकास परिषद से अनापत्ति प्रमाण पत्र लिया जाना शामिल है। यदि भूखण्ड के एक सौ मीटर की त्रिज्या की परिधि में किसी प्रकार की शासकीय सम्पत्ति आती है, सम्बन्धित विभाग जैसे वन विभाग व राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण आदि से अनापत्ति प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना आवश्यक होगा।

         ➖    ➖    ➖    ➖    ➖
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं
लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए
मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती : दवा व्यवसाई की पत्नी का अपहरण

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश