अडाणी और एनडीटीवी डील सस्पेंस और इनसाइड स्टोरी

एनडीटीवी में अडाणी की हिस्सेदारी : अडाणी ग्रुप का 29% स्टेक लेने का ऐलान, दो घंटे बाद एनडीटीवी की सीईओ बोलीं - हमसे कोई बात नहीं हुई 

                         (प्रशांत द्विवेदी)

नई दिल्ली। एशिया के सबसे अमीर बिजनेसमैन गौतम अडाणी एनडीटीवी में 29.18% की हिस्सेदारी खरीदने जा रहे हैं। 23 अगस्त मंगलवार की शाम अडाणी ग्रुप ने इसका ऐलान किया। एएमजी मीडिया नेटवर्क लिमिटेड (AMNL) की सहायक कंपनी विश्वप्रधान कॉमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड (VCPL) के जरिए यह इनडायरेक्ट स्टेक लिया जाएगा। AMG मीडिया अडाणी एंटरप्राइजेज लिमिटेड (AEL) की ही सब्सिडियरी है।

अडाणी ग्रुप NDTV में अतिरिक्त 26% हिस्सेदारी के लिए भी 294 रुपए प्रति शेयर के हिसाब से 493 करोड़ रुपए के ओपन ऑफर की पेशकश करेगा। AMNL के CEO संजय पुगलिया ने कहा, 'यह अधिग्रहण मील का पत्थर है।
AMNL इन्फॉर्मेशन और नॉलेज के साथ भारतीय नागरिकों, उपभोक्ताओं और भारत में रुचि रखने वालों को सशक्त बनाना चाहता है। NDTV हमारे विजन को पूरा करने के लिए सबसे अच्छा ब्रॉडकास्ट और डिजिटल प्लेटफॉर्म है।'
        एनडीटीवी की सीईओ ने कहा हमें जानकारी नहीं

अडाणी ग्रुप ने शाम को करीब 6 बजकर 10 मिनट पर NDTV में स्टेक लेने का ऐलान किया। इसके करीब दो घंटे बाद NDTV की CEO ने इंटरनल मेल जारी करके कहा कि अडाणी की तरफ से मीडिया ग्रुप में स्टेक लेने की खबर चौंकाने वाली है। इस बारे में हमें न कोई जानकारी दी गई और न ही कोई बातचीत की गई है। ग्रुप की CEO ने इस मामले में रेगुलेटरी और कानूनी कदम उठाने की बात भी कही है। नीचे दिए ग्राफिक के जरिए NDTV ग्रुप में 5% से ज्यादा हिस्सेदारी रखने वाले व्यक्तियों, कंपनियों और समूहों के बारे में जान सकते हैं। 

AMNL की सब्सिडियरी (पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी) VCPL के पास RRPR होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड का वॉरंट है, जो उन्हें RRPR में 99.99% हिस्सेदारी में बदलने का अधिकार देता है। वॉरंट का मतलब एक फाइनेंशियल कॉन्ट्रेक्ट है, जो एक्सपायरेशन से पहले एक निश्चित कीमत पर इक्विटी खरीदने या बेचने का अधिकार देता है।
वीसीपीएल ने RRPR में 99.5% हिस्सेदारी हासिल करने के लिए इसी वारंट का इस्तेमाल किया है। NDTV की प्रमोटर ग्रुप कंपनी RRPR है, जो NDTV में 29.18% हिस्सेदारी रखती है। इसके आधार पर अडाणी ग्रुप को इनडायरेक्ट तरीके से NDTV में 29.18% की हिस्सेदारी मिल गई है।VCPL ने AMNL और AEL के साथ मिलकर NDTV में 294 रुपए प्रति शेयर पर 26% हिस्सेदारी हासिल करने के लिए ओपन ऑफर लॉन्च करने की बात भी कही है। सेबी के 2011 के रेगुलेशन के अनुसार अडाणी ग्रुप की कंपनियां ये ओपन ऑफर लॉन्च करेंगीं। एनडीटीवी भारत का एक लीडिंग मीडिया हाउस है, जो तीन नेशनल न्यूज चैनल्स - NDTV 24x7, NDTV इंडिया और NDTV प्रॉफिट को ऑपरेट करता है। इसकी मजबूत ऑनलाइन प्रेजेंस भी है और यह अलग-अलग प्लेटफार्म्स पर 3.5 करोड़ से ज्यादा फॉलोवर्स के साथ सोशल मीडिया पर सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले न्यूज हैंडल्स में से एक है।

     प्रणॉय और राधिका की 32.26% हिस्सेदारी

NDTV में सबसे बड़ी हिस्सेदारी प्रणॉय रॉय और राधिका रॉय की है। ग्रुप में दोनों की कुल मिलाकर 32.26% सीधी हिस्सेदारी है। वहीं, जिस RRPR कंपनी को खरीदने की बात अडाणी ग्रुप ने कही है, वह भी प्रणॉय और राधिका के मालिकाना हक में ही है।

अडाणी ग्रुप ने पिछले एक साल में किए 1.31 लाख करोड़ के 32 सौदे

लम्बे समय तक कोयला और इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स में निवेश करने के बाद अडाणी ग्रुप अब राइस से लेकर ट्रैवल पोर्टल, मीडिया, ग्रीन एनर्जी और सीमेंट कंपनियों का अधिग्रहण करके कारोबार को डायवर्सीफाई कर रहा है। ब्लूमबर्ग द्वारा जुटाए गए डेटा के मुताबिक पिछले साल भर में ग्रुप ने 1.31 लाख करोड़ रुपए के 32 से ज्यादा सौदे किए हैं। अब यह एशिया - प्रशांत क्षेत्र में सबसे ज्यादा सौदे करने वाले समूहों में शुमार हो गया है।

  इन्फ्रास्ट्रक्चर और ग्रीन एनर्जी कंपनियों पर फोकस

अडाणी ग्रुप ने पिछले सालभर में जो सौदे किए हैं, उनमें अधिकतर इन्फ्रास्ट्रक्चर और ग्रीन एनर्जी कंपनियां हैं। इनमें सीमेंट से लेकर पोर्ट्स और एनर्जी प्रोजेक्ट शामिल हैं।

हाल ही में अडाणी समूह ने दुनिया की सबसे बड़ी सीमेंट कंपनी होलसिम से लगभग 81 हजार करोड़ रुपए में अंबुजा और ACC सीमेंट कंपनियों की हिस्सेदारी खरीदी थी।
 11 लाख करोड़ है अडाणी की नेटवर्थ

ब्लूमबर्ग बिलेनियर्स इंडेक्स के मुताबिक वर्तमान में गौतम अडाणी की नेटवर्थ लगभग 11 लाख करोड़ रुपए है। वे दुनिया के चौथे सबसे अमीर कारोबारी हैं। केवल एलन मस्क (टेस्ला), जेफ बेजोस (अमेजन) और बर्नार्ड अर्नोल्ट (LVMH) ही नेटवर्थ के मामले में उनसे ऊपर हैं। 

   मीडिया कारोबार के लिए एएमजी कंपनी बनाई

अडाणी ग्रुप ने 26 अप्रैल, 2022 को AMG मीडिया नेटवर्क लिमिटेड नाम की कंपनी बनाई थी। इसमें मीडिया कारोबार चलाने के लिए एक लाख रुपए की इनिशियल ऑथराइज्ड और पेड-अप शेयर कैपिटल का प्रॉविजन किया गया है। इसके जरिए पब्लिशिंग, एडवरटाइजमेंट, ब्रॉडकास्टिंग समेत मीडिया रिलेटेड कई प्रोजेक्ट्स हैंडिल किए जाएंगे।

         ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती : दवा व्यवसाई की पत्नी का अपहरण

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश