बस्ती : गौर थाने के बढ़नी में ब्लाइंड मर्डर का पर्दाफाश, पुलिस टीम को 25 हजार ईनाम

                           (अनूप पाण्डेय) 

हर्रैया (बस्ती)। स्थानीय क्षेत्र के गौर थाने के बढ़नी निवासी राम चन्‍द्र कन्‍नौजिया की हत्‍या का पुलिस ने खुलासा किया है। इस मामले में गांव के ही एक युवक को गिरफ्तार किया है। उसकी निशानदेही पर हत्‍या में प्रयुक्‍त कुदाल और खून लगा कपड़ा बरामद किया है। अपर पुलिस अधीक्षक दीपेन्द्र नाथ चौधरी ने हत्या का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को 25 हजार रु. ईनाम की घोषणा की है।

बीते एक अगस्त की रात गौर थाना क्षेत्र के बढ़नी गांव निवासी करीब पैंतालीस वर्षीय दिव्‍यांग राम चन्‍द्र की धारदार हथियार से हत्‍या कर दी गई थी। वह गांव के बाहर चौराहे पर देशी शराब दुकान के पास चखना की दुकान करता था। वह दुकान बन्‍द कर रात में दुकान के बाहर ही सो गया था। हत्‍या की सूचना के बाद मौके पर पुलिस के उच्‍चाधिकारी, फोरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर जानकारी लेते हुए जांच पड़ताल की, लेकिन कुछ पता नहीं चल पाया। इस ब्‍लाइंड मर्डर का खुलासा करने के लिए कई टीमें लगाई गई थी। गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक गौर ब्रजेन्द्र प्रसाद पटेल, निरीक्षक मान सिंह, प्रभारी चौकी बभनान उ.नि. जनार्दन प्रसाद, प्रभारी सर्विलांस सेल उनि. शशिकान्त, हेका. विजय प्रकाश दीक्षित, दिलीप कुमार, का. अजय यादव, विजय यादव एसओजी टीम, का. जितेंद्र यादव व संतोष यादव सर्विलांस सेल शामिल रहे।

एएसपी दीपेन्‍द्र नाथ चौधरी एवं क्षेत्राधिकारी हर्रैया शेषमणि उपाध्याय ने बताया कि मामले का खुलासा करने के लिए लगी टीमों को गांव के ही निवासी राम सुरेश वर्मा की संलिप्‍तता का सुराग मिला। इसके बाद उसे अईलाकला तिराहा के पास से गिरफ्तार कर पूछताछ की गई तो मामले का खुलासा हुआ। पकड़ा गया आरोपी नशे का आदी है और नशे की लत पूरी करने के लिए छोटी-छोटी चोरियां करता था। एक अगस्‍त की रात उसने राम चन्‍द्र की दुकान से सिलेंडर और भगोना चोरी कर लिया था। जिस पर भागते समय मृतक के पुत्र गोरे उर्फ शिवम और उसके साथी साबिर ने पकड़कर उसे मारा पीटा था। वह शिवम से इसका बदला लेना चाहता था। शिवम भी रात में दुकान पर ही सोता था, लेकिन उस दिन वह दूसरी दुकान के सामने सो गया था।

उसे न पाकर आवेश में शिवम के पिता रामचन्द्र पर कुदाल से हमला कर दिया, जिससे उसकी मौत हो गई थी। उसने खून लगी कुदाल को गांव के बाहर स्थित अपने खेत की झोपडी के बगल स्थित एक खेत के बगल झाड़ झंखाड़ में छिपा दिया था। खुलासा करने वाली टीम में गौर थाना, एसओजी, सर्विलांस टीम शामिल रही। एसपी ने मामले का वर्कआउट करने वाली टीम को 25 हजार रूपए के इनाम से पुरस्‍कृत किया है।

         ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश

नवनिर्वाचित विधायक और समर्थकों पर एफआईआर