कांवड़ मेले में खैर ट्रस्ट शिविर ने दिया सद्भावना का संदेश, मो. अकरम ने की कांवरियों की सेवा

 

                           (नीतू सिंह) 

बस्ती (उ.प्र.)। पवित्र श्रावण मास की त्रयोदशी तिथि को श्री धाम अयोध्या से जल लाकर भगवान भोलेनाथ का जलाभिषेक करने वाले शिवभक्त कांवरियों की सेवा में अबुल खैर वक्फ ट्रस्ट 38 के मुतवल्ली मो. अकरम ने तीन दिनों के लिए दवाईयों और खानपान का शिविर लगाकर भक्तों की सेवा की।

 समाजसेवी मो. अकरम द्वारा कांवड़ भक्तों की सुविधा के लिये भण्डारा, निःशुल्क चिकित्सा शिविर 24, 25 एवं 26 जुलाई मंगलवार तक चला। इस कैम्प में बोल बम के नारों के बीच गंगा जमुनी परम्परा का अनूठा रंग देखने को मिला। कावड़ लेकर निकले शिव भक्तों की सेवा के लिये पुलिस अधीक्षक आवास के निकट अबुल खैर ट्रस्ट वक्फ 38 के मुतवल्ली एवं बेगम खैर गर्ल्स इण्टर कालेज के प्रबन्धक मो. अकरम के संयोजन में सेवा शिविर लगा कर कांवड़ भक्तों की सेवा की गई। तीन दिन तक चले शिविर के समापन अवसर पर मो. अकरम ने कहा कि संसार में मानव की सेवा सबसे बड़ा धर्म है।
कावड़ भक्त तपस्या कर अयोध्या धाम से पैदल चलकर भद्रेश्वरनाथ एवं अन्य शिव मंदिरों पर जलाभिषेक करते हैं। उनकी सेवा करना सबका दायित्व है। स्वयं मो. अकरम ने कांवड़ भक्तों के पैरों के छालों पर सदभावना का मरहम लगाते हुये औषधि उपलब्ध कराया। शिविर में कांवड़ यात्रियों के लिये फल, बिस्कुट के साथ ही शुद्ध पेयजल और चिकित्सा की व्यवस्था की गई थी।
मो. अकरम ने शिविर के संचालन में प्रशासनिक और पुलिस विभाग द्वारा किये गये सहयोग के प्रति आभार व्यक्त किया। रविवार 24 से 26 जुलाई मंगलवार तक चलने वाले सेवा शिविर के संचालन में वीरेन्द्र पाण्डेय, मो. असरफ, मो. अरसद, आनन्द पाण्डेय, चिन्ताहरण त्रिपाठी, सौरभ शुक्ला, शकील अहमद, इश्तिखार, संतराम, जमाल, मो. शादाब, विशाल, रामशव्द, मोनू, विनोद, श्रीमती मुस्लिमा खातून, आदिबा खातून आदि ने योगदान दिया।

         ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश

नवनिर्वाचित विधायक और समर्थकों पर एफआईआर