खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन ने शहर में लगाया लाइसेन्स कैम्प

                              (विशाल मोदी) 

बस्ती (उ.प्र.)। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन द्वारा स्थानीय शहर के मालवीय रोड स्थित उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल कार्यालय पर फूड लाइसेंस बनाने के लिए बुधवार 22 जून को शिविर लगाया गया। शिविर का उद्घाटन वरिष्ठ व्यापारी प्रहलाद मोदी ने फीता काटकर किया। खाद्य पदार्थों का कारोबार करने वाले व्यापारियों के लाइसेंस बनाने के लिए इस कार्यालय से आवेदन ऑनलाइन किए जाएंगे। यहां से फूड लाइसेंस के लिए ऑनलाइन आवेदन किए जाएंगे। इसी कार्यालय से लाइसेंस भी प्राप्त हो जाएगा।

खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के सहायक आयुक्त ग्रेड टू अपूर्व श्रीवास्तव, मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी सुशील कुमार मिश्रा, खाद्य सुरक्षा अधिकारी धनंजय सिंह ने व्यापारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस शिविर का आयोजन व्यापारियों की सहजता के लिए किया गया है। व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष आनंद राजपाल ने कहा कि बस्ती उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल हमेशा व्यापारी हितों को लेकर सक्रिय रहा है। बार बार शिकायतें आ रही थीं कि व्यापारियों को फूड लाइसेंस प्राप्त करने में तरह तरह की परेशानी हो रही है। विभागीय अधिकारियों से वार्ता के बाद उन्होंने आग्रह को स्वीकार किया। जिसके बाद व्यापार मंडल कार्यालय पर ही यह सेवा शुरू की गई है। व्यापारियों का आवाह्न किया कि जो भी व्यापारी खाद्य पदार्थों की खरीद बिक्री करते हों वे अपना लाइसेंस अवश्य बनवा लें।
शिविर के उद्घाटन अवसर पर बस्ती उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के महामंत्री सुर्यकुमार शुक्ल, सुनील गुप्ता, धर्मेन्द्र कुमार चौरसिया, अदालत प्रसाद, अजय चौधरी, किशन के गोयल, शिवपुजारी गिरि, प्रमोद गिरि, हरिशंकर कसौधन, शुभम, पंकज गुप्ता, राजू मंडल, संतोष कुमार, राजेश कुमार, आनंद कुमार गुप्ता, शनिकुमार गुप्ता, आरिफ, सुशील कुमार, संजय अग्रहरि, सुरेन्द्र कुमार आदि मौजूद रहे।

         ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश

नवनिर्वाचित विधायक और समर्थकों पर एफआईआर