बस्ती के बरगदवा में पुलिस भुठभेड़, 3 गिरफ्तार, बाल बाल बचा पुलिस का जवान

                           (बृजवासी शुक्ल) 

बस्ती (उ.प्र.)। स्थानीय शहर कोतवाली पुलिस एवं एंटी व्हीकल थेफ्ट टीम बस्ती की संयुक्त कार्यवाही में पुलिस मुठभेड़ के दौरान अंतर्जनपदीय ट्रैक्टर - ट्राली चोर गिरोह के तीन शातिर चोरों को गिरफ्तार कर चोरी की गयी ट्रैक्टर ट्राली एवं एक तमंचा, एक जिंदा व दो खोखा कारतूस बरामद किया गया है। गिरफ्तार अभियुक्तों में एक गोरखपुर के खजनी और एक सिकरीगंज थाने का तथा एक महराजगंज जिले के पुरंदरपुर थाने का रहने वाला है। यह मुठभेड़ बीती रात करीब ढाई बजे शहर से सटे बरगदवा गांव में हुई। स्थानीय मड़वानगर निवासी रामनैन चौधरी ने 31 मई को और कलवारी थाने के सुजावलपुर निवासी जितेन्द्र ने तीन जून को ट्रैक्टर चोरी की एफआईआर लिखाई थी। जिसका खुलासा करते हुए कोतवाल संजय कुमार, गांधीनगर प्रभारी मनीष जायसवाल, बड़ेबन प्रभारी मुनीन्द्र त्रिपाठी और एण्टी व्हीकल थेफ्ट टीम ने कलवारी से चुराया ट्रैक्टर बरामद कर लिया है। मुठभेड़ में कोतवाली पुलिस के शुभम चौबे बाल बाल बचे और गोली उनको छूते हुए निकल गई।

पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव द्वारा अपराध एवं अपराधियों के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान में अपर पुलिस अधीक्षक बस्ती दीपेन्द्र नाथ चौधरी के निर्देशन व क्षेत्राधिकारी सदर आलोक प्रसाद के पर्यवेक्षण में प्रभारी निरीक्षक कोतवाली संजय कुमार एवं प्रभारी एंटी व्हीकल थेफ्ट टीम गजेन्द्र सिंह की टीम की संयुक्त कार्यवाही में ट्रैक्टर - ट्राली की चोरी के सम्बन्ध में थाना कोतवाली पर पंजीकृत मुअसं. 294 / 2022 धारा 379, 411, 413 आईपीसी एवं ट्रैक्टर की चोरी के सम्बन्ध में थाना कलवारी पर पंजीकृत मुअसं. 191 / 2022 धारा 379, 411, 413 आईपीसी से सम्बंधित वांछित अंतर्जनपदीय ट्रैक्टर ट्राली की चोरी करने वाले गिरोह के तीन शातिर अभियुक्तों को आज करीब 02:30 बजे थाना कोतवाली क्षेत्रान्तर्गत बांसी रोड पर हर्दिया के पास ग्राम बरगदवा में पुलिस मुठभेड़ के दौरान एक तमंचा 12 बोर, एक जिंदा कारतूस व दो खोखा कारतूस 12 बोर के साथ गिरफ्तार किया गया। इस गिरोह ने पिछलेे बीस दिनों में बस्ती, संतकबीरनगर और गोरखपुर जिलों में चार ट्रैक्टर ट्राली चुराए हैं।
अभियुक्तों द्वारा पुलिस टीम पर फायरिंग करने पर कोतवाली पुलिस टीम व एंटी व्हीकल थेफ्ट टीम बस्ती द्वारा आत्मरक्षार्थ जवाबी कार्यवाही के दौरान अभियुक्त देवेश उर्फ नारायण के दाहिने पैर में घुटने के नीचे गोली लगी तथा आरक्षी शुभम चौबे के दाहिने हाथ में गोली छूकर निकल गई, जिन्हें उपचार हेतु सदर अस्पताल बस्ती में भर्ती कराया गया है। पुलिस टीम पर फायर करने एवं बरामदगी के आधार पर थाना कोतवाली जनपद बस्ती पर तीनों अभियुक्तों के विरुद्ध मुअसं. 317/2022 धारा 307 आईपीसी तथा देवेश उर्फ नारायण के विरुद्ध मुअसं. 318/2022 शस्त्र अधिनियम की धारा 3/25/27 पंजीकृत किया गया है।

           गिरफ्तारी एवं बरामदगी का विवरण

उक्त पुलिस मुठभेड़ में गोरखपुर जिले के खजनी थाने के भलेन्द्री नगमा गांव निवासी देवेश उर्फ नारायण पुत्र स्वर्गीय धनपत प्रसाद को गिरफ्तार किया गया है। इसकी उम्र करीब 36 वर्ष बताई गई है। दूसरा आत्मा साहनी पुत्र राम गोविन्द साहनी गोरखपुर जिले के सिकरीगंज थाने के जौहरी गांव का निवासी है। इसकी उम्र करीब 25 वर्ष बताई गई है। तीसरा कन्हैया उर्फ वकील पुत्र निर्मल ग्राम सिंगापुर अयोध्या थाना पुरंदरपुर जनपद महरजगंज का निवासी है। इसकी उम्र करीब 32 वर्ष बताई गई है। इनके पास से पुलिस ने कलवारी से चोरी किया गया ट्रैक्टर लाल रंग का महिन्द्रा 605 डीआई व नीले रंग की ट्राली और घटना में प्रयोग की गयी काले रंग की हीरो स्पेलेन्डर बाईक सं. यूपी 53 बीसी 1053 बरामद किया है। इसके अलावा बारह बोर का एक कट्टा, एक जिंदा और दो खोखा कारतूस व दो मोबाइल फोन व छ: सौ रुपये नगद बरामद हुआ है।

एक सप्ताह के भीतर बस्ती में दो ट्रैक्टर चोरी हुए थे। एक कोतवाली थाना क्षेत्र और दूसरा कलवारी थाना क्षेत्र से। स्थानीय मड़वानगर निवासी रामनैन चौधरी पुत्र बाबूराम का ट्रैक्टर सं. यूपी 51 बीए 1662 उसका ड्राईवर 26 मई को रात में सागर ट्रेडर्स बड़ेबन पर खड़ी करके घर चला गया और दुकान का मुंशी दरवाजा बन्द करके सो गया था। उसी रात चोरों ने ट्रैक्टर ट्राली गायब कर दिया। इस मामले में रामनैन ने कोतवाली में 31 मई को मुअसं. 294 / 2022 पर आईपीसी की धारा 379 के तहत एफआईआर लिखाई थी। दूसरा मामला कलवारी थाने के सुजावलपुर का है। यहां के जितेन्द्र कुमार पुत्र परमात्मा प्रसाद का घर कलवारी - बस्ती मार्ग पर है। इनका महिन्द्रा 605 डीआई ट्रैक्टर सं. यूपी 44 एई 3178 इनके घर से दो जून की रात गायब हो गया था। सीसीटीवी में दो व्यक्तियों को ट्रैक्टर लेकर जाते हुए देखा गया था। जितेन्द्र ने तीन जून को कलवारी थाने पर मुअसं. 191 / 2022 पर आईपीसी की धारा 379 के अन्तर्गत एफआईआर दर्ज कराई थी। चोरों के कब्जे से पुलिस मुठभेड़ में यही ट्रैक्टर बरामद हुआ है।
 पुलिस की पूछताछ में देवेश उर्फ नारायण व आत्मा साहनी ने बताया कि 10 -12 दिन पहले बड़ेवन हाईवे स्थित गिट्टी बालू की दूकान से स्वराज ट्रैक्टर 834 एक्सएम व एक ट्राली हम लोगों ने अतुल उर्फ़ अवध के साथ मिलकर चुराया था। जिसे कन्हैया उर्फ़ वकील को रुपये 60 हज़ार में बेच दिए थे। जिसमें से रुपये 30 हज़ार हम लोगों को मिल गया है। कन्हैया उर्फ वकील ने बताया कि ख़रीदे हुए ट्रैक्टर को मैंने रुपये 80 हज़ार में अशोक यादव पुत्र राम लल्लन यादव निवासी ग्राम भागतापुरवा थाना बरगदवां जनपद महाराजगंज को बेच दिया है। जिसमें से रुपये 30 हज़ार नहीं मिला है। आज हम सभी ट्राली को बेचने के लिए जा रहे थे। कलवारी की घटना के बारे में देवेश और आत्मा ने बताया कि कुसौरा से महिन्द्रा 605 डीआई अतुल उर्फ अवध के साथ मिलकर चुराया और छिपाया था। इसे भी बेचने जा रहे थे। अतुल उर्फ अवध ही ट्रैक्टर चला रहा था, जो छोड़कर भाग गया।  कन्हैया उर्फ वकील के साथ हम दोनों गाड़ी से आ रहे थे जोकि हम लोगों द्वारा चोरी की हुई गाड़ियों को नेपाल बॉर्डर के आस पास जनपद महाराजगंज में बेचता है।

        गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम

गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक कोतवाली संजय कुमार, प्रभारी एंटी व्हीकल थेफ्ट टीम बस्ती उ. नि. गजेन्द्र सिंह, प्रभारी चौकी बड़ेबन उ. नि. मुनींद्र त्रिपाठी, प्रभारी चौकी गांधी नगर उ. नि. मनीष जायसवाल, हेका. राकेश यादव, अजय दुबे, राम सुरेश यादव, कां. देवेन्द्र निषाद एंटी व्हीकल थेफ्ट टीम, आरक्षी शुभम चौबे, पंकज कुमार, हरी प्रकाश थाना कोतवाली, आरक्षी जनार्दन प्रजापति, हिन्दे आज़ाद, आरक्षी दीपक सर्विलांस सेल बस्ती शामिल रहे। 

  देवेश उर्फ नारायण का आपराधिक इतिहास

गिरफ्तार देवेश उर्फ नारायण के ऊपर कुल 18 मुकदमें दर्ज हैं। आठ मुकदमें गोरखपुर, चार संतकबीरनगर और छ: मुकदमें बस्ती जिले में दर्ज हैं। गोरखपुर में गगहा, पीपीगंज, कैम्पियरगंज, खोराबार, शाहपुर, सहजनवां, और गौरी बाजार थानों में चोरी के मुकदमें दर्ज हैं। सहजनवां में दो मुकदमें हैं। बाकी सभी थानों में एक एक मुकदमें हैं। गौरी बाजार में दर्ज मुकदमें में चोरी करने के साथ ही 179/1 मोटरयान अधिनियम भी दर्ज है। इसके ऊपर संतकबीरनगर में दर्ज चारों मुकदमें खलीलाबाद कोतवाली मे दर्ज हैं। जिसमें एक चोरी, एक धोखाधड़ी, एक आर्म्स एक्ट और एक गैंगस्टर का है। इसके ऊपर बस्ती जिले के लालगंज में दो मुकदमें एक आईपीसी की धारा 386, 506 का और दूसरा आर्म्स एक्ट का है। चोरी का एक मुकदमा थाना कलवारी में और शहर कोतवाली में तीन मुकदमें दर्ज हैं। एक जानलेवा हमला, एक आर्म्स एक्ट और एक चोरी का मुकदमा दर्ज है। 

  आत्मा साहनी उर्फ अमित का आपराधिक इतिहास

गिरफ्तार आत्मा साहनी के ऊपर सबसे अधिक 22 मुकदमें दर्ज हैं। जिनमें अकेले गोरखपुर में अठारह मुकदमें हैं। जिसमें झगहां थाने में सात, खोराबार में चार, पीपीगंज में दो, और कैम्पियर गंज, सिकरीगंज, चिलुआताल, खजनी और शाहपुर थाने में एक एक मुकदमें दर्ज हैं। इसके खिलाफ सिद्धार्थनगर के बांसी कोतवाली में भी एक मुकदमा दर्ज है। इसके अलावा बस्ती जिले में बस्ती कोतवाली में दो और कलवारी थाने में एक मुकदमा दर्ज है।

        वकील का आपराधिक इतिहास

इस इनकाउंटर में गिरफ्तार किए गए कन्हैया उर्फ वकील के खिलाफ कुल तीन मुकदमें दर्ज हैं। बस्ती जिले के कलवारी और कोतवाली थाने में चोरी और माल बरामदगी के एक एक एफआईआर दर्ज हैं। इसके साथ ही आज हुई मुठभेड़ के मामले में जानलेवा हमला करने का एफआईआर भी दर्ज किया गया है। इसके ऊपर स्थानीय कोतवाली में मुअसं. -  317 / 2022 पर आईपीसी की धारा 307 एफआईआर दर्ज की गई है। इसके अलावा मुअसं, 294 / 2022 पर आईपीसी की धारा 379, 411 एवं 413 के अन्तर्गत और इन्हीं धाराओं में थाना कलवारी पर मुअसं. 191 / 2022 भी दर्ज है।

          ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश

नवनिर्वाचित विधायक और समर्थकों पर एफआईआर