जुमे की नमाज में ज्ञानवापी पर जुटी भीड़, कमांडो तैनात

                           (विशाल मोदी) 

 वाराणसी। यहां काशी विश्वनाथ परिसर में स्थित ज्ञानवापी मस्जिद के बाहर सुरक्षा में कमांडो तैनात कर दिए गए हैं। जुमे की नमाज पढ़ने के लिए इतने लोग पहुंच गए कि अंदर जगह फुल हो गई। मुस्लिम पक्ष की ओर से अपील की जा रही है कि अब आसपास की मस्जिदों में नमाज बढ़ने के लिए जाएं।

अंजुमन इंतजामिया मसाजिद कमेटी के सदस्य का कहना है कि ज्ञानवापी की क्षमता लगभग 700 लोगों की है। अंदर जगह फुल हो गई है। इसलिए अब और लोग ज्ञानवापी न आएं। ज्ञानवापी में नमाज पढ़ने के लिए शुक्रवार को एक हजार से ज्यादा लोग पहुंच गए। भीड़ इतनी बढ़ गई कि अंदर जगह नहीं बची। लाइन लगाकर एंट्री दी गई।दरअसल, वजूखाने और इस्तिंजा (टॉयलेट) को कोर्ट के आदेश से सील कर दिया था। इसके बाद आज पहला जुमा है। पुलिस-प्रशासन ने लोगों से शांति और सद्भाव की अपील की है। चौक सहित मिश्रित आबादी वाले संवेदनशील क्षेत्रों में पुलिस अधिकारी गश्त कर रहे हैं। ज्ञानवापी का वजूखाना सील होने के कारण नमाजियों के लिए प्रशासन की ओर से 1,000 लीटर के दो ड्रम पानी भरकर रखे गए हैं।रोज की अपेक्षा आज नमाज पढ़ने वालों की संख्या ज्यादा दिखी। भीड़ इतनी जुटती गई कि प्रशासन और मसाजिद कमेटी को गेट बंद करने की नौबत आ गई।

जुमे की नमाज अदा करने के लिए ज्ञानवापी मस्जिद में सामान्य दिनों से कुछ ज्यादा ही भीड़ नमाजियों की रहती है। इसे लेकर ज्ञानवापी मस्जिद की देखरेख करने वाली अंजुमन इंतजामिया मसाजिद कमेटी के जॉइंट सेक्रेटरी एसएम यासीन ने मुस्लिम समाज के लोगों से कम से कम संख्या अपील जारी की है। काशी विश्वनाथ परिसर और ज्ञानवापी के आसपास कमांडो तैनात कर दिए गए हैं। सर्वे के बाद और आज पहले जुमे की नमाज पर शांति व्यवस्था की अपील की जा रही है। काशी विश्वनाथ मंदिर-ज्ञानवापी परिक्षेत्र के एक किलोमीटर के दायरे में पुलिस और पीएसी के करीब 1,500 जवान आबादी वाले इलाकों में गश्त कर रहे हैं।
इंतजामिया कमेटी के सेक्रेटरी एसएम यासीन ने कहा कि हमने लोगों से अपील की है कि वह ज्यादा संख्या में ज्ञानवापी मस्जिद न आएं। बल्कि, अपने घर के आसपास की मस्जिदों में ही जुमे की नमाज अदा कर लें। उधर, पुलिस प्रशासन के अफसर भी मुस्लिम समाज के लोगों के संपर्क में हैं और सहयोग की गुजारिश की है। काशी विश्वनाथ मंदिर ज्ञानवापी परिक्षेत्र के एक किलोमीटर के दायरे में पुलिस और लोकल इंटेलिजेंस यूनिट अलर्ट मोड पर है।
ज्ञानवापी परिसर के सर्वे के लिए अदालत के आदेश पर कमीशन गठित किया गया था। सर्वे के आखिरी दिन यानी 16 मई को ज्ञानवापी मस्जिद के वजूखाने में हिंदू पक्ष ने शिवलिंग होने का दावा किया था। हिंदू पक्ष के अनुरोध के आधार पर अदालत ने वजूखाने को सील करने का आदेश दिया था। मुस्लिम पक्ष का कहना है वजूखाने में शिवलिंग नहीं है बल्कि पुराना फव्वारा है।

          ➖    ➖    ➖     ➖     ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश

नवनिर्वाचित विधायक और समर्थकों पर एफआईआर