दिल्ली के रोहिणी कोर्ट परिसर में आज फिर चली गोली, दो वकील घायल

                         (प्रशांत द्विवेदी) 

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में आज फिर फायरिंग की घटना हो गयी। जानकारी के मुताबिक आज वकील और कोर्ट की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी के बीच सुरक्षा जांच के दौरान कहासुनी हो गई, जिसके बाद वहां फायरिंग हुई। इस घटना में दो वकीलों को गोली लगने की सूचना है।

 घायल वकीलों को अस्पताल ले जाया गया है। विवाद की वजह क्या थी, इसकी जानकारी सामने नहीं आई है। कोर्ट परिसर के पास गोली चलने से इलाके में अफरा - तफरी मच गयी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। बता दें कि यह पहली बार नहीं है कि रोहिणी कोर्ट में इस तरह की घटना सामने आई है, इससे पहले भी यहां शूटआउट और बम ब्लास्ट जैसी घटनाएं सामने आ चुकी हैं। आज घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। आसपास मौजूद लोगों और मामले के प्रत्यक्षदर्शियों से पूछताछ की जा रही है। पुलिस मुख्य रूप से घटना को लेकर यह पता लगाने में जुटी हुई है कि यह गोलीबारी जानबूझकर योजना के तहत चलाई गई है अथवा नहीं। पुलिस द्वारा गोली चलाने वाले आरोपियों की भी तलाश की जा रही है। बताया जा रहा है कि कोर्ट परिसर में तैनात एक पुलिस कर्मी की बंदूक से गोली चली है।
दिल्ली रोहिणी कोर्ट परिसर में गोली चलने की सूचना मिलने के बाद पहुंची पुलिस टीम द्वारा की गई जांच और पूछताछ के आधार यह सामने आया है कि यह गोली रोहिणी कोर्ट में तैनात एक पुलिस कर्मी की बंदूक से चली है। दरअसल, यह बताया जा रहा है कि कोर्ट के बाहर एक वकील का किसी शख्स के साथ कहा - सुनी और झगड़ा हो गया। कोर्ट में तैनात पुलिसकर्मी झगड़े में बीच-बचाव करने को गया और तभी दोनों को शांत कराने के दौरान पुलिसकर्मी की बंदूक से नीचे जमीन की ओर गोली चल गई। गोली चलने को लेकर यह जानकारी प्राप्त होने के बावजूद जांच कर रही पुलिस हर एंगल को तलाश रही है। बतौर पुलिस गोली कैसे और किन परिस्थितियों में चली यह ज्ञात हो गया है। लेकिन, इसके बावजूद मामले की तह तक जाना और यदि मामले में कोई और एंगल हो तो उसका पता लगाना बेहद ही आवश्यक है। यह घटना जिस वक़्त घटित हुई उस समय कोर्ट परिसर में काफी भीड़भाड़ का माहौल रहता है।
गौरतलब है कि बीते साल सितंबर में भी रोहिणी कोर्ट में गोलीबारी हुई थी। इस दौरान यहां गैंगवॉर हुआ था। इसमें टिल्लू ताजपुरिया गैंग के दो लोगों ने जितेंद्र मान उर्फ गोगी (गोगी गैंग का सरगना) की जान ले ली थी। हालांकि, पुलिस ने उन दोनों बदमाशों को भी ढेर कर दिया था। इस मामले में दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में हुए गोलीकांड पर दिल्ली हाईकोर्ट ने स्वत: संज्ञान लिया था। वकील के भेष में आए बदमाशों पर स्पेशल सेल के जवानों ने जवाबी फायरिंग की थी, जो कि जितेंद्र उर्फ गोगी के साथ में थे। इसी फायरिंग में दोनों हमलावर ढेर हुए हैं, इस दौरान एक महिला वकील भी घायल हुई थी। इस पूरे घटनाक्रम में करीब 35-40 गोलियां चली थीं। यह घटना कोर्ट नंबर 206 के बाहर हुई थी।

           ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती : दवा व्यवसाई की पत्नी का अपहरण

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश