यूपी में योगी का दूसरी बार शपथ ग्रहण सम्पन्न, कैबिनेट में 52 मंत्री

                          (संतोष दूबे) 

लखनऊ । योगी आदित्यनाथ ने आज दूसरी बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। इसके साथ ही वह प्रदेश के पहले ऐसे मुख्यमंत्री बन गए हैं जिन्होंने पांच साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद दोबारा सत्ता संभाली है। योगी आदित्यनाथ ने लगातार दूसरी बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ले ली है। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई।

 इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी मौजूद थे। उनके अलावा कई केंद्रीय मंत्री भी शपथ ग्रहण समारोह में मौजूद थे। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा, उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी भी वहाँ मौजूद थे। योगी आदित्यनाथ ने कल गुरूवार को सर्वसम्मति से विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद राज्यपाल आनंदी बेन पटेल के सामने सरकार बनाने का दावा पेश किया।

इस बार योगी आदित्यनाथ ने केशव प्रसाद मौर्य के अलावा ब्रजेश पाठक को भी उप मुख्यमंत्री बनाया है। केशव प्रसाद मौर्य हालाँकि इस बार सिराथू सीट से चुनाव हार गए थे। लेकिन पार्टी नेतृत्व ने उनमें भरोसा जताया है। लेकिन पिछली सरकार में उप मुख्यमंत्री रहे दिनेश शर्मा को कैबिनेट में जगह नहीं मिल पाई है।

 दानिश आजाद होंगे मंत्रिमंडल का मुस्लिम चेहरा

लखनऊ विश्वविद्यालय के वरिष्ठ छात्र नेता रहे और वर्तमान में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश महामंत्री दानिश आजाद योगी सरकार के दूसरे कार्यकाल में मंत्रिमंडल का मुस्लिम चेहरा होंगे। इस मंत्रिमंडल में कुल बावन मंत्री बनाए गए हैं। मेरठ में चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी (कैंपस) की राजनीति से शुरू हुआ सोमेंद्र तोमर का सफर मंत्री पद पहुंच गया है। मेरठ की दक्षिण सीट से लगातार दो बार विधायक चुने जाने के बाद उन्हें योगी के मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है। मेरठ के लिए खुशी की बात है कि सोमेंद्र तोमर को उत्तर प्रदेश सरकार में राज्यमंत्री बनाया गया है। सोमेंद्र तोमर ने शुक्रवार को लखनऊ में राज्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।

शपथ ग्रहण समारोह के बाद पीएम मोदी ने सभी नेताओं से मुलाकात की। साथ ही नेताओं के साथ सामूहिक फोटो खिंचवाई। स्टेडियम में मौजूद नेताओं व कार्यकर्ताओं का अभिवादन स्वीकार किया। पीएम मोदी को अपने बीच पाकर कार्यकर्ता काफी उत्साहित दिखे। इस दौरान पूरा स्टेडियम भारत माता की जय, वंदे मातरम, योगी-मोदी जिंदाबाद के नारे से गूंजता रहा।

संजय निषाद, आशीष पटेल, योगेन्द्र उपाध्याय, अरविन्द शर्मा व राकेश सचान मंत्री बने 

निषाद समाज में अच्छी पैठ रखने वाले संजय निषाद को मंत्री बनाया गया है। उनकी निषाद पार्टी भी है। आशीष पटेल को योगी सरकार में मंत्री बनाया गया है। वर्तमान में वह एमएलसी हैं। योगेंद्र उपाध्याय को मंत्री पद मिला है। उपाध्याय आगरा दक्षिण सीट से विधायक चुने गए हैं। लगातार तीसरी वह विधानसभा पहुंचे हैं। पश्चिमी यूपी के ब्राह्मण समाज में उनकी अच्छी पैठ है। पीएम मोदी के करीबी माने जाने वाले अरविंद कुमार शर्मा को योगी सरकार में मंत्री बनाया गया है। वह गुजरात कैडर के आईएएस अधिकारी रहे हैं। मूल रूप से वह मऊ के रहने वाले हैं। राकेश सचान को योगी मंत्रिमंडल में जगह मिली है। सचान कानपुर की भोगनीपुर सीट से विधायक चुने गए हैं। सचान कांग्रेस और सपा सरकार में भी मंत्री रह चुके हैं। कुर्मी बिरादरी में उनकी अच्छी पैठ है।

जितिन, अनिल राजभर व भूपेन्द्र चौधरी मंत्रिमंडल में कांग्रेस से भाजपा में आए और ब्राह्मण समाज में पैठ रखने वाले जितिन प्रसाद को भी योगी के मंत्रिमंडल में जगह मिली है। राजभर समाज में पैठ रखने वाले अनिल राजभर को योगी सरकार में मंत्री बनाया गया है। पूर्वांचल में राजभर समाज में उनकी अच्छी पकड़ है। भूपेंद्र सिंह चौधरी को भी मंत्री बनाया गया है। वह योगी सरकार के पहले कार्यकाल में भी मंत्री थे। जाट समाज में उनकी अच्छी पैठ है।

नंद गोपाल नंदी, धर्मपाल व जयवीर को मंत्रिमंडल में जगह

नंद गोपाल नंदी को योगी सरकार के दूसरे कार्यकाल में जगह मिली है। नंदी प्रयागराज दक्षिण सीट से विधायक चुने गए हैं। नंदी तीसरी बार विधायक बने हैं। धर्मपाल सिंह को भी मंत्री बनाया गया है।

धर्मपाल बरेली की आंवला विधानसभा सीट से विधायक चुने गए हैं। सिंह की पिछड़े वर्ग में अच्छी पकड़ है। जयवीर सिंह को योगी सरकार में मंत्री बनाया गया है। वह मैनपुरी विधानसभा से विधायक हैं। जयवीर मुलायम और मायावती सरकार में भी मंत्री रहे हैं।

 लक्ष्मी नारायण और बेबी रानी भी मंत्री 

लक्ष्मी नारायण चौधरी को योगी मंत्रिमंडल में जगह मिली है। उन्होंने पद और गोपनीयता की शपथ ली है। वह मायावती सरकार में भी मंत्री रह चुके हैं। छाता विधानसभा से पांच बार चौधरी विधायक रह चुके हैं। चौधरी जाट समाज से आते हैं। बेबी रानी मौर्य को मंत्रिमंडल में जगह मिली है। वह उत्तराखंड की राज्यपाल भी रह चुकी हैं। विधानसभा चुनाव से पहले उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

स्वतंत्र देव सिंह और सूर्य प्रताप शाही बने मंत्री

स्वतंत्र देव सिंह को योगी सरकार के दूसरे कार्यकाल में मंत्री बनाया गया है। वह यूपी भाजपा अध्यक्ष हैं। योगी सरकार में सूर्य प्रताप शाही को भी जगह मिली है। उन्होंने पद और गोपनीयता की शपथ ली है। शाही को भाजपा के कद्दावर नेताओं में गिना जाता है। सुरेश कुमार खन्ना को भी योगी कैबिनेट में जगह मिली है।

ब्रजेश पाठक और केशव मौर्य बने उप मुख्यमंत्री योगी सरकार के पहले कार्यकाल में कानून मंत्री रहे ब्रजेश पाठक को उप-मुख्यमंत्री बनाया गया है। उन्होंने पद और गोपनीयता की शपथ ली है। केशव प्रसाद मौर्य ने दोबारा सूबे के उप-मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। विधानसभा चुनावों में हार के बावजूद भाजपा आलाकमान ने उन पर भरोसा बनाए रखा है।

        ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नवनिर्वाचित विधायक और समर्थकों पर एफआईआर

बस्ती : ब्लॉक रोड पर मामूली विवाद में मारपीट, युवक की मौत

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा