दूधराम ही हैं सपा - सुभासपा गठबंधन प्रत्याशी, अटकलें खत्म

 

                           (संतोष दूबे) 

बस्ती (उ.प्र.) । जिले में समाजवादी पार्टी और सुभासपा गठबंधन के एकमात्र प्रत्याशी दूधराम की उम्मीदवारी को लेकर चल रही अटकलों और अफवाहों पर विराम लग गया है। तीन - चार दिन पहले टिकट कटने और रामकरन आर्य के बेटे को टिकट मिलने की चर्चाओं के बाद दूधराम द्वारा सुभासपा प्रत्याशी के रुप में पर्चा दाखिल करने के विराम लगा था। आज अपराह्न फिर आर्य के बेटे ने वही मुद्दा रखा, तो अफवाहों का बाजार गर्म हो उठा था। पूर्व विधायक दूधराम का नामांकन वैध पाये जाने के बाद सारी अटकलें खत्म हो गयीं।

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के बस्ती जिले की 311 महादेवा सुरक्षित सीट से प्रत्याशी दूधराम के चुनाव प्रभारी दिनेश चौधरी ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि उनका नामांकन वैध पाया गया है और दूधराम ही गठबंधन के प्रत्याशी हैं। दूसरे लोगों द्वारा लगातार जनता और प्रशासन को गुमराह करने की कोशिशें की जा रही थीं, अब स्थिति स्पष्ट हो गयी है।

                (सुभासपा - सपा प्रत्याशी दूधराम) 

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के जिलाध्यक्ष अमन राजभर ने सभी अफवाहों का खण्डन करते हुए कहा है कि निश्चित तौर पर दूधराम ही सपा - सुभासपा गठबंधन के प्रत्याशी हैं, बाकी सारी बातें निराधार हैं। प्रत्याशी बदले नहीं गये हैं। बता दें कि विजय विक्रम आर्य और दूधराम के नामों को लेकर काफी उहापोह की स्थिति बनी हुई थी और जिले के राजनैतिक गलियारे में तरह - तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म था।

 दूधराम के चुनाव प्रभारी दिनेश चौधरी ने जनता से अपील किया है कि किसी भी भ्रम और अफवाहों पर ध्यान न दें। जनता के प्रिय प्रत्याशी दूधराम सपा - सुभासपा के अधिकृत प्रत्याशी हैं। सुभासपा प्रत्याशी के तौर पर तीन गाड़ियों का परमीशन भी मिला हुआ है। 

         ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती : दवा व्यवसाई की पत्नी का अपहरण

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश