चयन नीति आयोग में अनुसंधान अधिकारी बन बस्ती के कैलाश वर्मा

 

                             (नीतू सिंह) 

बस्ती (उ.प्र.) । संघ लोक सेवा आयोग 2020 की परीक्षा में बस्ती जिले के कैलाश नाथ वर्मा का चयन हुआ है। इस मौके पर लोगो ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशी जाहिर की। कुदरहा ब्लाक के लालगंज गांव निवासी कैलाश नाथ वर्मा ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। लालगंज कस्बे के रहने वाले माध्यम वर्गीय व्यापारी रामयश वर्मा सबसे छोटे पुत्र है। बचपन से ही मेधावी रहे कैलाश नाथ वर्मा ने राजकीय पालीटेक्निक अमेठी में पार्ट टाइम जॉब किया।

कैलाश नाथ वर्मा का पहला चयन कर्मचारी चयन आयोग द्वारा जनगणना निदेशालय तमिलनाडु में हुआ। 2008 से 2015 तक सेवा दिया। 2011 में उत्कृष्ट कार्य के लिए भारत सरकार द्वारा वोन्जा मेडल से सम्मानित किया। मन मे बड़ी अपेक्षा लिए कैलाश नाथ वर्मा यही नही रुके नौकरी के साथ साथ आगे की पढ़ाई करते हुए तैयारी करते रहे। कैलाश नाथ वर्मा ने संघ लोक सेवा आयोग में पहली बार की परीक्षा में चयन हुआ, जिसमे रोजगार मंत्रालय में आर्थिक अधिकारी के पद पर 2015 से 2021 तक कार्य किया। 2020 में पुनः संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद इनका चयन नीति आयोग में ग्रुप ए राज पत्रित (Level 10) अनुसंधान अधिकारी के पद पर चयन हुआ।
जिसके अध्यक्ष स्वयं देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी है।कैलाश नाथ वर्मा ने कहाँ मुझे देश की सेवा करने का अवसर मिला है। जिसका निर्वाहन पूरी निष्ठा और ईमानदारी से करूँगा। इसको लेकर क्षेत्रवासियों में खुशी का माहौल है, ग्रामीणों में इस बात की चर्चा हो रही है। लोगो ने आपस मे एक दूसरे को मिठाई खिलाकर बधाई दी। अनुराग पाल राजन, अमृत कुमार वर्मा, हरिप्रताप पाल, राजू वर्मा, सियाराम वर्मा, वीरेन्द्र कसौधन, विनय वर्मा, ओंकार नाथ वर्मा आदि सम्मलित रहे।

        ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : -9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती : दवा व्यवसाई की पत्नी का अपहरण

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश