किसान सम्मेलन में सोच ईमानदार काम दमदार पर जोर, केंवचा में मुख्य अतिथि रहे सूर्य प्रताप शाही

 

                          (संतोष दूबे) 

बस्ती (उ.प्र.) । जिले के महादेवा विधानसभा के केंवचा महाविद्यालय में आयोजित किसान सम्मेलन में किसानों को सम्मानित किया गया। सूबे के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही मुख्य अतिथि व विशिष्ट अतिथि किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष उपेन्द्र बन्धु सिंह रहे। नेताओं ने केन्द्र व प्रदेश की मोदी योगी सरकार के सोच ईमानदार काम दमदार के सिद्धांत पर विस्तार से प्रकाश डाला।

कार्यक्रम की अध्यक्षता दिलीप पाण्डेय ने किया। बतौर मुख्य अतिथि सूर्य प्रकाश शाही, विशिष्ट अतिथि प्रदेश उपाध्यक्ष किसान मोर्चा उपेंद्र बंधु सिंह व क्षेत्रीय अध्यक्ष गोपेश्वर त्रिपाठी जिला प्रभारी अशोक सिंह जिलाध्यक्ष महेश शुक्ला जिला पंचायत अध्यक्ष संजय चौधरी विधायक रवि सोनकर मंच पर मौजूद रहे। किसान सम्मेलन में सूबे के कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी दिन-रात जनता की सेवा में लगे हैं। प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी के दिल में गरीबों के लिए दर्द है। योगीराज में किसान कभी दु:खी नहीं हो सकता। कहा कि सपा-बसपा सरकारों की गुंडई और भ्रष्टाचार लोगों ने देखा है। यूपी में अब किसी गुंडे की हिम्मत नहीं कि वो किसी बेटी की स्कूटी रोक लें। अगर रोकेगा तो मरेगा। उन्होंने कहा कि आप सब कमल पर मुहर लगाकर भारत माता को मजबूती देते हैं। उन्होंने कहा कि सैफई खानदान ने राज्य को लूट लिया। किसानों का आह्वान किया कि षडयंत्र चल रहा है। सावधान रहें। वंशवाद, क्षेत्रवाद, जातिवाद से लड़ना है। प्रदेश हित में इस सरकार का लौटना जरूरी है। फिर प्रचंड बहुमत से सरकार बनाने में सहयोग करें।

प्रदेश उपाध्यक्ष बन्धु उपेंद्र सिंह ने कहा कि दिल्ली और यूपी वाले राजकुमार मिलकर बताएं कि आपकी सरकारों में बाणसागर परियोजना पूरी क्यों नहीं हुई। किसानों को यूरिया के लिए लाठी क्यों खानी पड़ती थी। उन्होंने कहा कि यूपी में किसानों की फसल की रिकार्ड खरीद हुई है। उन्होंने कहा कि योगी के शासन में यूपी केंद्र की 44 योजनाओं में नंबर-एक पर है। इस सरकार की सोच ईमानदार और काम दमदार है। किसान मोर्चा के क्षेत्रीय अध्यक्ष गोपेश्वर त्रिपाठी ने कहा कि किसान आंदोलन के नाम पर देश की सबसे ईमानदार और भोली-भाली किसान जाति को बदनाम किया जा रहा है। कहा कि मोदी-योगी सरकार किसान हित में काम कर रही है। यूपी आज गेंहू, आलू, सब्जी, फल और तिलहन उत्पादन में नंबर-वन है। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन वाले बताएं कि यदि पुराने कानून सही थे तो तब बड़ी संख्या में किसान आत्महत्या क्यों करते थे।

जिला प्रभारी अशोक सिंह ने कहा कि बसपा और सपा सरकारों में चीनी मिलें कौड़ियों के दामों में बेची और बंद की गईं। जिलाध्यक्ष महेश शुक्ला ने कहा कि योगी सरकार ने बंद मिलों को चालू कराया। कहा कि कोरोना काल में महाराष्ट्र, कर्नाटक सहित सहित राज्यों में चीनी मिलें बंद हो गई थीं लेकिन मुख्यमंत्री के आदेश पर सिर्फ यूपी की मिलें ही चलीं। किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष दिलीप पाण्डेय ने कहा कि 2017 से पहले प्रदेश का किसान बदहाल था। योगी सरकार बनने के बाद लगातार किसान हितैषी फैसले हुए। इससे किसानों की आय बढ़ी और उनके परिवारों में खुशहाली आई। उन्होंने कहा कि योगी सरकार द्वारा लिए गए फैसलों के लिए आभार जताने आए हैं। उन्होंने कहा कि किसानों के बल पर प्रदेश में प्रचंड बहुमत से फिर योगीजी की सरकार बनेगी। कार्यक्रम का संचालन नागेन्द्र सिंह ने किया।
इस मौके पर पूर्व अध्यक्ष दयाशंकर मिश्रा राणा प्रत्यूष विक्रम सिंह राणा किंकर सिंह इंजीनियर वीरेंद्र मिश्रा विनोद शुक्ला अवनीश सिंह, गौरव तिवारी, संदीप पाण्डेय, कौशल गुप्ता, सतीश, राम निहोरे यादव, प्रदीप सिंह, सुरेंद्र नाथ त्रिपाठी मंडल अध्यक्ष किसान मोर्चा अजय श्रीवास्तव पंकज सिंह मंडल अध्यक्ष भाजपा परमानंद सिंह प्रेम प्रकाश चौधरी कर्नल केसी मिश्रा मेजर चंद्रशेखर रामचरण चौधरी ब्लाक प्रमुख अभिषेक कुमार दुष्यंत विक्रम सिंह अरविंद पाल ब्रह्मदेव यादव देवा रघुनाथ सिंह रवि चंद पवन वर्मा आलोक पांडे पवन चौधरी बच्चा चौधरी अजीत शुक्ला संचालन नागेंद्र सिंह अनिल पाण्डेय फूलराम वर्मा, रामकेवल गुप्ता, हनुमान सिंह, अंकित पाण्डेय सहित अन्य मौजूद रहे।

        ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश

नवनिर्वाचित विधायक और समर्थकों पर एफआईआर