सीएम ने शहीद पुलिस कर्मियों के परिवार को किया सम्मानित, भोजन और मोबाइल भत्ता भी बढ़ा

 

                            (संतोष दूबे) 

 लखनऊ । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को पुलिस स्मृति दिवस पर लखनऊ पुलिस लाइंस में शोक परेड की सलामी ली। उन्होंने बलिदानी चार पुलिसकर्मियों के परिवारीजन को सम्मानित भी किया। योगी ने पुलिस स्मृति दिवस पर पुलिस कल्याण से जुड़ी घोषणाएं भी कीं। इस अवसर पर डीजीपी मुकुल गोयल तथा अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी भी मौजूद थे।

कर्तव्य की वेदी पर प्राणों की आहूति देने वाले चार बलिदानी पुलिसकर्मियों के सम्मान में लखनऊ पुलिस लाइंस में शस्त्र झुके थे। वहां शहीदों की अमर गाथाएं गूंज रही थीं। चार शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई।
 पुलिस स्मृति दिवस परेड के सलामी लेने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चार बलिदानी पुलिसकर्मियों के परिवार को सम्मानित भी किया। इस अवसर पर उन्होंने पुलिसकर्मियों को उनके कल्याण से जुड़ी घोषणाएं भी कीं। उन्होंने अराजपत्रित पुलिसकर्मियों के पौष्टिक आहार भत्ते में 25 फीसद बढ़ोत्तरी की घोषणा की। इसके साथ ही प्रदेश की कानून-व्यवस्था को और बेहतर बनाने के लिए मुख्य आरक्षी व आरक्षी को सीयूजी सिम व सालाना दो हजार रुपए मोबाइल भत्ता प्रदान किये जाने की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने देश के सभी शहीद पुलिसकर्मियों को याद किया। उन्होंने कहा कि मैं सभी शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। हमारे पुलिसकर्मियों का सर्वोच्च बलिदान हमें लगातार कर्तव्य पथ पर पूर्ण निष्ठा, मनोयोग और दायित्व बोध के साथ आगे बढ़ने के लिए प्रेरणा देता रहेगा।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश सरकार पूरी संवेदनशीलता के साथ बलिदानी पुलिसकर्मियों के परिवार के साथ है। उन्होंने कहा कि पुलिसजन अत्यंत कठिन परिस्थितियों में भी प्रदेश तथा देश में अपराध व अपराधी को नियंत्रित करने के साथ ही माता व बहनों की रक्षा में लगे रहते हैं। इतना ही नहीं कोरोना संक्रमण काल में पुलिसकिर्मयों का अहम् योगदान रहा है। पुलिसकर्मी अपने कर्तव्य का पालन करते हुए कोरोना संक्रमित हुए फिर भी वो लगातार सेवा कार्य में लगे रहे। कर्तव्य पालन के दौरान कोरोना संक्रमण से 37 पुलिसकर्मियों को असमय काल के गाल में समाना पड़ा। प्रदेश के पुलिस महानिदेशक मुकुल गोयल ने कहा कि आज शहीद वीरों को याद करने का दिन है। शहीदों की स्मृति में हम सब एकत्र हैं। सभी शहीदों को मेरा नमन है। बीते एक वर्ष में उत्तर प्रदेश पुलिस के चार कर्मी शहीद हुए थे।

मुख्यमंत्री ने पुलिस स्मृति दिवस के मौके पर इस वर्ष बलिदानी शहीद उपनिरीक्षक स्वर्गीय प्रशान्त यादव, शहीद आरक्षी स्वर्गीय सोनू कुमार, स्वर्गीय हरविन्द्र सिंह व देवेन्द्र सिंह के परिवार को सम्मानित किया। एक सितंबर 2020 से 31 अगस्त 2021 के मध्य देश में कर्तव्य पथ पर वीरगति को प्राप्त करने वाले पुलिसकर्मियों की शौर्य गाथाओं को याद किया गया।

         ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती : ब्लॉक रोड पर मामूली विवाद में मारपीट, युवक की मौत