पत्रकार की हत्या के खिलाफ जयंत मिश्र के नेतृत्व में पत्रकारों ने सौंपा ज्ञापन

 

                        (विशाल मोदी) 

बस्ती (उ.प्र.) । यूपी के प्रतापगढ़ जिले में पत्रकार सलभ श्रीवास्तव की निर्मम हत्या से नाराज साथी पत्रकारों ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर पीड़ित परिवार को आर्थिक मदद, सरकारी नौकरी तथा सुरक्षा दिये जाने की मांग किया है। उ.प्र. जर्नलिस्ट एसोसियेशन के प्रदेश सचिव जयंत कुमार मिश्र के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट पहुंचे पत्रकारों ने प्रशासनिक अधिकारी को ज्ञापन सौंपा।

श्री मिश्र ने कहा संज्ञान में आया है कि प्रतापगढ़ में शराब माफियाओं के खिलाफ आवाज उठाने वाले एबीपी गंगा के पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की नृशंश हत्या कर दी गयी। पत्रकार का परिवार अनाथ हो गया, आय का कोई जरिया न होने के कारण पूरे परिवार का भविष्य अंधकारमय हो गया है। भविष्य की चुनौतियों का सामना करने के लिये पत्रकार के परिजनों को सहायता दिया जाना आवश्यक व न्यासंगत है। भेजे गये ज्ञापन में पत्रकार के परिवार को कम से कम 50 लाख की आर्थिक मदद दिये जाने, किसी एक सक्षम आश्रित को सरकार नौकरी दिये जाने, पूरे मामले की सीबीआई जांच कराये जाने, प्रदेश में पत्रकारों की सुरक्षा सुनिश्चित किये जाने तथा पीड़ित परिवार की सुरक्षा के लिये स्थानीय पुलिस को निर्देशित किये जाने की मागें शामिल हैं।
उपजा के जिलाध्यक्ष कौशल किशोर श्रीवास्तव ने कहा उपरोक्त मामले में सरकार के सकारात्मक निर्णय से शराब माफियाओं का हौसला टूटेगा और समाज को तरह तरह से क्षति पहुंचा रहे गुण्डा माफियाओं के विरूद्ध आवाज उठाने वाले पत्रकारों का आत्मबल बढ़ेगा। ज्ञापन सोंपते समय उपजा के पूर्व जिलाध्यक्ष पुनीत दत्त ओझा, अशोक श्रीवास्तव, रजनीश त्रिपाठी, सुनील कुमार मिश्र, राकेश गिरि, जेपी उपाध्याय, देवेन्द्र पाण्डेय, संजय राय, उपजा महामंत्री जीशान हैदर रिज़वी, रामसेवक पाण्डेय, आशुतोष नरायन मिश्र, अनिल श्रीवास्तव, राधेश्याम दुबे, सुबाष पाण्डेय, बबुन्दर शरण सिंह यादव, राजीव शुक्ल, पारस मौर्य, अमृतलाल आदि मौजूद रहे।

           ➖     ➖     ➖     ➖     ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती के पूर्व सीएमओ ने गंगा में लगाई छलांग

लॉक डाउन पूरी तरह खत्म

बस्ती जिले में 35 नये डॉ. तैनात