बस्ती में कोरोना टीकाकरण पूर्वाभ्यास, स्वास्थ्य मंत्री ने किया उद्घाटन व निरीक्षण

                     (विशाल मोदी) 

बस्ती (उ.प्र.)। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने सोमवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रुधौली एवं हर्रैया में 16 जनवरी को होने वाले कोरोना टीकाकरण के पूर्वाभ्यास का निरीक्षण रूधौली विधायक संजय प्रताप जायसवाल के साथ किया। उन्होंने फीता काटकर कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुये कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार सबको स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए कटिबद्ध है। कोरोना संकट के समय चिकित्सकों, स्वास्थ्य कर्मियों ने मरीजों की सेवा कर एक उदाहरण प्रस्तुत किया है। इसी तरह से चरणबद्ध ढंग से कोरोना टीकाकरण कराया जायेगा। स्वास्थ्य मंत्री ने टीकाकरण के तैयारियों का निरीक्षण करते हुये चिकित्सकों, स्वास्थ्य कर्मियों से जानकारी प्राप्त किया। विधायक संजय प्रताप जायसवाल ने उन्हें विधानसभा क्षेत्र के स्वास्थ्य समस्याओं से अवगत कराते हुये उनके निराकरण का आग्रह किया।   

कार्यक्रम में उप जिलाधिकारी नीरज पटेल, सीएमओ डा. ए.के. गुप्ता, सी.ओ. शक्ति सिंह के साथ ही विधायक प्रतिनिधि विजय कुमार उर्फ राजू, मनोज सिंह, जयेश प्रताप जायसवाल, राम उजागिर जायसवाल, अनिल सिंह, गोपाल सिंह, विपिन पाण्डेय, महेन्द्र विक्रम सिंह, रवि जायसवाल, राधे चौधरी, दीपक यादव, दीपू जायसवाल, लवकुश पाण्डेय, पप्पू चौधरी, सुजीत सोनी, महेन्द्र सिंह, राकेश चौरसिया, उमेश सिंह एवं मीडिया प्रभारी अमर सोनी सहित तमाम लोग शामिल रहे।

ड्राई रन के दूसरे चरण में टीका लगाने का पूर्वाभ्यास, कैली मेडिकल कॉलेज सहित 19 स्थानों पर चला अभियान, सीएचसी हर्रैया व रुधौली पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने लिया तैयारियों का जायजा 

कोविड - 19 वैक्सीन को लेकर ड्राई रन का दूसरा चरण आज सोमवार को चला। मेडिकल कॉलेज सहित 19 स्वास्थ्य इकाईयों में कोविड टीकाकरण का पूर्वाभ्यास किया गया। पूर्वाभ्यास कार्यक्रम को देखने के लिए प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) हर्रैया व रुधौली पहुंचे तथा तैयारियों का जायजा लिया। स्वास्थ्य मंत्री श्री सिंह ने कहा कि कोरोना महामारी के प्रति स्वास्थ्य विभाग सतर्क है। कोरोना का टीका आ गया है तथा पहले चरण में हेल्थ केयर वर्कर्स को टीका लगाया जाना है। अभियान पूरी तरह कामयाब हो, इसे देखते हुए शासन ने पूर्वाभ्यास के तौर पर दूसरा ड्राई रन चलाया  है।  

मेडिकल कॉलेज में प्राचार्य डॉ. नवनीत कुमार की देखरेख में पूर्वाभ्यास कार्यक्रम हुआ। प्रतीकात्मक टीकाकरण के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम लगाई गई थी। आला अधिकारियों ने निरीक्षण कर अभियान पर नजर बनाए रखा। जिला अस्पताल के मॉडयुलर ओटी में ड्राई रन का आयोजन किया गया। यहां पर एसीएमओ / जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. फकरेयार हुसैन ने खुद ही कमान संभाले रखा। गेट पर पुलिस कर्मी तैनात रहे, जो लाभार्थी की सूची से मिलान कर कर्मियों को अंदर जाने दे रहे थे। अंदर काउंटर पर नाम की फीडिंग पहचान पत्र देख कर की गयी।  अलग काउंटर पर एएनएम द्वारा टीकाकरण किया जा रहा था। टीका लगाए जाने के बाद लाभार्थी को आब्जर्वेशन रूम में 30 मिनट तक रोका जा रहा था । नगरीय क्षेत्र के नोडल ऑफिसर डॉ. एके कुशवाहा, समन्वयक सचिन चौरसिया, जिला कंट्रोल रूम के प्रभारी डॉ. राकेशमणि त्रिपाठी, यूनिसेफ के डीएमसी आलोक राय व अन्य अधिकारी मौजूद रहे ।   
 जिला महिला अस्पताल में सीएमएस डॉ. सुषमा सिन्हा की देखरेख में अभियान चलाया गया। एसीएमओ डॉ. सीएल कन्नौजिया सहित अन्य अधिकारियों ने भ्रमण कर तैयारियों का जायजा लिया। यहां पर दो बूथ बनाए गए थे। जो लोग टीका लगवाने आ रहे थे, उनके नाम की बाकायदा फीडिंग की गयी। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. फकरेयार हुसैन ने बताया कि सभी ब्लॉक स्तरीय अस्पतालों में भी रिहर्सल किया गया है। दूसरे चरण का रिहर्सल पहले चरण से काफी कामयाब रहा। जब कोरोना टीकाकरण होगा तो स्टॉफ के नाम की फीडिंग से लेकर टीका लगाने व लाभार्थी के आब्जर्वेशन में कोई समस्या नहीं होगी। 

टीके के रिएक्शन का भी हुआ पूर्वाभ्यास

जिला अस्पताल में कोरोना टीका से संभावित रिएक्शन (प्रतिकूल प्रभाव) का भी  पूर्वाभ्यास किया गया। प्रतीकात्मक तौर पर एक लाभार्थी द्वारा सीने में बेचैनी की शिकायत की गई। इस पर वहां तैनात टीम उसे एईएफआई रूम में लेकर पहुंची। डॉ. फकरेयार हुसैन की देखरेख में मरीज का इलाज किया गया। उसके सामान्य होने पर ही टीम वहां से हटी। डॉ. हुसैन ने कहा कि टीके से किसी - किसी को कुछ समस्या होने की संभावना को देखते हुए यह कामयाब पूर्वाभ्यास किया गया।

            ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती के पूर्व सीएमओ ने गंगा में लगाई छलांग

लॉक डाउन पूरी तरह खत्म

बस्ती जिले में 35 नये डॉ. तैनात