महिलाओं को स्वावलम्बी बनाएगा इनर व्हील क्लब, खर्च भी उठाएगा

                  (वन्दना शुक्ला) 

 बस्ती (उ.प्र.) । इनरव्हील क्लब बस्ती मिडटाउन के द्वारा चलाए जा रहे महिला स्वावलंबन अभियान के तहत आज 100 महिलाओं को खाद्य प्रसंस्करण एवं फल संरक्षण का प्रशिक्षण देने की निशुल्क कार्यशाला का आयोजन किया गया। उद्घाटन ग्राम बेहिल में समाजसेवी रामउजागिर विश्वकर्मा ने किया।  

क्लब अध्यक्ष डॉ. निधि गुप्ता ने बताया कि इनर व्हील क्लब बस्ती मिडटाउन महिलाओं के अंतरराष्ट्रीय संगठन इनरव्हील इंटरनेशनल से जुड़ा है और यह महिलाओं के आर्थिक सामाजिक एवं बौद्धिक उन्नयन के लिए कार्य करता है। इसके मद्देनजर यह प्रशिक्षण कार्यशाला महिलाओं को स्वावलंबी एवं आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में एक मजबूत प्रयास है।  

 "स्वावलंबी होंगी महिलाएं तभी सशक्त होंगी महिलाएं" इस थीम के मद्देनजर इन महिलाओं को फल संरक्षण विभाग से फलों का संरक्षण करने की ट्रेनिंग दिलवाई जा रही है। निधि गुप्ता ने कहा कीअपने देश में अप्रयुक्त प्रतिभा की सर्वाधिकता महिलाओं में है। इस प्रकार की कार्यशाला से उनकी प्रतिभा का व्यवसायिक उपयोग होगा, महिलाएं स्वावलंबी होंगी वह आय के नवीन साधन सृजित होंगे। यह कार्यशाला बस्ती मुख्यालय से सुदूर ग्राम बेहिल में रोजगार के द्वार खोलेगी। क्लब इस बात का प्रयास करेगा कि इस ग्राम की महिलाएं एक समूह बनाए और समूह के माध्यम से उत्पाद बनाकर अपने जीविका अर्जन के द्वार खोलें।  

क्लब सचिव तूलिका अग्रवाल ने बेहिल गांव में चलाए जा रहे सिलाई कढ़ाई और पिको सेंटर को और आगे बढ़ाने के लिए शहर से कपड़ा एवं धागा उपलब्ध करा कर तैयार माल को शहर में बेचने के लिए उपलब्ध कराने पर जोर दिया और इस प्रोजेक्ट पर हर संभव सहयोग देने का आश्वासन दिया उनके अनुसार यदि इन महिलाओं के द्वारा तैयार माल को बाजार में उपलब्ध कराया जा सकता है और उस के माध्यम से इन्हें अपनी जीविका कमाने का मौका मिलता है तो यह हमारे क्लब के लिए और इस ग्राम के लिए एक बड़ी उपलब्धि हो जाएगी। कार्यक्रम का संचालन रो आशीष श्रीवास्तव ने किया। रोटेरियन विवेक वर्मा अपने विचार रखते हुए कहा कि किस प्रकार के वोकेशनल कोर्सेज से महिलाएं आत्म विश्वासी बनेंगी और आत्मविश्वासी महिलाएं ही अपना मूल्य समझती हैं।  
फल संरक्षण तथा अचार निर्माण की कार्यशाला के प्रशिक्षक विजय कुमार ने बताया विभिन्न प्रकार के स्क्वाश, टोमेटोसॉस, चिली सॉस, मिक्स्ड अचार, जैम, जेली, आंवले और बेल का मुरब्बा बनाना, ऑरेंज की कैंडी, अमरूद की कैंडी, आंवले की कैंडी, आंवले का लड्डू बनाना, च्यवनप्राश बनाना और इनका संरक्षण कैसे करना है इस पर कार्यशाला आयोजित की जा रही है जिसमें सिलसिलेवार बच्चों को प्रत्येक चरण में पूरी क्लास के साथ-साथ प्रैक्टिकल क्लास भी करके दिखाया जा रहा है 

इस अवसर पर इनरव्हील क्लब की ओर से सचिव तूलिका अग्रवाल, एडिटर साधना गोयल एवं आगामी अध्यक्ष आशा अग्रवाल उपस्थित रहीं। कार्यशाला में कुल 105 प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया। समस्त प्रतिभागियों को खाद्य एवं प्रसंस्करण विभाग की ओर से प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा। इस प्रशिक्षण कैंप का समस्त खर्च क्लब द्वारा वहन किया जाएगा।

        ➖   ➖   ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश

नवनिर्वाचित विधायक और समर्थकों पर एफआईआर