भारत में कोरोना वैक्सीन का काम तेज, पीएम ने किया दौरा

   


        Written & Edited by Rishabh shukla 


नई दिल्ली। मौजूदा दौर में पूरी दुनिया की कोरेाना वैक्‍सीन के निर्माण को लेकर तेजी देखी जा सकती है। भारत में भी इसके निर्माण को लेकर सरगर्मी है। पीएम मोदी आज शनिवार को कोरोना वैक्‍सीन के लिए देश के तीन निर्माण करने वाली कंपनियों के दौरे पर हैं। इन कंपनियों की गिनती न सिर्फ भारत बल्कि दुनिया की शीर्ष वैक्सीन कंपनियों में होती है। पीएम मोदी ने आज अहमदाबाद स्थित जायडस कैडिला, हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक और पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के दौरा किया। पीएम के दौरे के बाद पीएमओ ने ट्वीट कर लिखा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने आज वैक्‍सीन के विकास और निर्माण प्रक्रिया की व्यापक समीक्षा करने के लिए तीन शहरों का दौरा किया। उन्होंने अहमदाबाद में जायडस बायोटेक पार्क, हैदराबाद में भारत बायोटेक और पुणे में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया का दौरा किया। आइये जानते हैं तीनों कंपनियों में कोरोना वैक्‍सीन के निर्माण की प्रक्रिया किस स्‍टेज में है ? 



    जायडस कैडिला की वैक्‍सीन की स्थिति 


जायडस कैडिला कंपनी अहमदाबाद में स्थित है। जायडस कैडिला दवा निर्माण की प्रमुख कंपनी है। देश में जायडस भी अन्‍य कंपनियों की तरह कोरोना वैक्सीन के निर्माण में लगी हुई है। इससे पहले जायडस कैडिला कंपनी ने घोषणा की है कि उसकी वैक्सीन के पहले फेज का ट्रायल पूरा हो चुका है। उसने अगस्त में वैक्‍सीन के दूसरे फेज का ट्रायल शुरू कर दिया था। कंपनी अब तीसरे फेज के टेस्टिंग की तैयारी में है। अब तक की रिपोर्ट के अनुसार, जायडस कैडिला की वैक्सीन अबतक 80 फीसदी कामयाब माना गया है।  



जायडस ने कोविड-19 वैक्सीन बनाने के लिए विराक, नेशनल बायोफार्मा मिशन और केंद्र सरकार के बायोटेक्नोलॉजी विभाग के साथ समझौता किया है। जायडस कैडिला कंपनी की वैक्सीन जायकोव डी नाम से आ रही है। जायडस कैडिला 17 करोड़ वैक्सीन बनाने की तैयारी में है। माना जा रहा है कि अगले साल मार्च तक जायडस कैडिला की वैक्सीन तैयार हो सकती है। पीएम मोदी शनिवार को कंपनी के अधिकारियों से वैक्सीन की निर्माण, स्टोरेज, वितरण और वैक्‍सीन की कीमत से जुड़े पहलुओं पर बात की। 



जायडस बायोटेक पार्क का दौरा करने के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा कि अहमदाबाद में जायडस बायोटेक पार्क का दौरा किया। जायडस कैडिला द्वारा विकसित किए जा रहे स्वदेशी डीएनए आधारित वैक्सीन के बारे में जानकारी हासिल की। मैं उनके काम के लिए इस प्रयास के पीछे टीम की सराहना करता हूं। भारत सरकार इस यात्रा में उनका समर्थन करने के लिए सक्रिय रूप से उनके साथ काम कर रही है।


भारत बायोटेक की वैक्‍सीन की स्थिति


भारत बायोटेक हैदराबाद की प्रसिद्ध फॉर्मा और बायोटेक कंपनी है। देश में कोविड-19 वैक्सीन के निर्माण में लगी हुई है। भारत बायोटेक की वैक्सीन कोवाक्‍सीन के नाम से आएगी। हैदराबाद से 50 किलोमीटर दूर लैब में कोवैक्सीन के तीसरे फेज का ट्रायल चल रहा है। तीसरे फेज में भारत बायोटेक कंपनी करीब 26 हजार लोगों पर वैक्सीन का ट्रायल कर रही है। भारत बायोटेक कोरोना वैक्सीन कोवाक्‍सीन (Covaxin) को नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के साथ तैयार कर रही है।


       ➖    ➖    ➖    ➖    ➖


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए


मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती : ब्लॉक रोड पर मामूली विवाद में मारपीट, युवक की मौत