रालोद ने निकाली रैली, सौंपा ज्ञापन, किसान बिल वापस न हुआ तो होगा बड़ा आन्दोलन : ऐश्वर्य राज सिंह


(शशि पाण्डेय) 


बस्ती (उ.प्र.)। मंगलवार को जिले में रालोद ने किसान बिल के विरोध में ट्रैक्टर रैली निकाल कर प्रदर्शन किया। नवीन सब्जी मंडी से ट्रैक्टर पर सवार होकर रालोद कार्यकर्ताओं ने रुधौली तहसील पहुंचकर उप जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजकर काला कानून वापस लेने की मांग की।  



इस दौरान रालोद के राष्ट्रीय युवा महासचिव एवं प्रदेश आईटी संयोजक राजा ऐश्वर्य राज सिंह ने कहा की यह तीनों बिल किसानों के हितों में नहीं है। यह किसानों के विपरीत हैं, चाहे वह कांट्रैक्ट फार्मिंग हो या जमाखोरी को लेकर किया गया संशोधन हो, चाहे वह मंडी व्यवस्था को खत्म करने की बात हो। यह तीनों बिल किसानों के हितों में नहीं है। 



कहीं न कहीं से निजी करण को बढ़ावा देना है क्योंकि कृषि अकेला एक ऐसा क्षेत्र था जहां आज भी कारपोरेट घराना नहीं था, बड़े कारपोरेट घराने रिलायंस, अडानी, अंबानी को कैसे इसका लाभ मिल सके यह कवायद उसी के लिए है। यह तीनों अध्यादेश जो आज की तारीख में बिल बन चुके हैं कहीं भी इसमें एमएसपी शब्द का प्रयोग नहीं किया गया है, इसलिए इन तीनों बिलों के विरोध में हिंदुस्तान का किसान सड़क पर है। रैली का वीडियो : -



उन्होंने कहा कि हमारी मांग है कि यह जो काला कानून है किसानों के हित में उसे वापस लिया जाए। ऐश्वर्य राज सिंह ने कहा कि अगर सरकार यह किसान बिल वापस नहीं लेती है तो हम सभी किसान घराने व किसान मिलकर बड़ा आंदोलन करेंगे।


       ➖   ➖   ➖   ➖   ➖


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : -tarkeshwartimes.page 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम