कर्मचारियों को लाभ से वंचित कर रही सरकार : कौशिक


(नीतू सिंह) 


रायपुर । भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता व प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने प्रदेश शासन के कर्मचारियों को उनके आर्थिक लाभ से वंचित रखे जाने को प्रदेश सरकार की संवेदनहीनता का परिचायक बताते हुए राज्य के कर्मचारियों को उनके हक़ का राहत पैकेज देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण के इस संकटकाल में भी अपने कर्मचारियों के आर्थिक हितों के प्रति बेपरवाह है और उन्हें आर्थिक लाभ से वंचित रखकर अमानवीयता की पराकाष्ठा कर रही है।  



नेता प्रतिपक्ष श्री कौशिक ने कहा कि राज्य के कर्मचारियों को वर्ष 2019 से एरियर्स मिलाकर 05 प्रतिशत महंगाई भत्ता नहीं देकर प्रदेश सरकार अपने कर्मचारियों का आर्थिक शोषण कर रही है। प्रदेश के सभी कर्मचारियों को अपने हक़ के 650 करोड़ रुपयों से वंचित रखे जाने से प्रदेश सरकार की नीयत पर सवाल उठना लाज़िमी है। इसी तरह सातवें वेतनमान की तीसरी किश्त का भुगतान नहीं होने के कारण कर्मचारी अपने 250 करोड़ रुपयों से वंचित हैं। श्री कौशिक ने कहा कि जुलाई 2019 से महंगाई भत्ते का भुगतान लंबित रहने से इन कर्मचारियों को 625 करोड़ रुपयों से वंचित रखा गया है। इसी तरह जुलाई 2020 से रोकी गई वेतनवृद्धि से लगभग 540 करोड़ रुपों का नुकसान कर्मचारियों को उठाना पड़ रहा है। नेता प्रतिपक्ष श्री कौशिक ने हैरानी भरे लहजे में कहा कि जिन कर्मचारियों से कोरोना संकट से निपटने के नाम पर प्रदेश सरकार ने एक-एक दिन का वेतन हासिल किया, उन्हीं कर्मचारियों के आर्थिक हितों पर वह चोट पहुँचा रही है। श्री कौशिक ने तत्काल प्रदेश के सभी कर्मचारियों को उनके लाभ के आर्थिक पैकेज का भुगतान करने की मांग प्रदेश सरकार से की है।


        ➖    ➖    ➖    ➖    ➖


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए


मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम