पूर्वी लद्दाख में तनाव कम करने के प्रयास तेज


(संतोष दूबे) 


नई दिल्ली। पूर्वी लद्दाख में तनाव कम करने लिये दोनों देश प्रयास कर रहे हैं। विदेश मंत्रालय ने कहा है कि भारत - चीन सीमा मामलों पर विचार - विमर्श और समन्वय के लिए कार्यकारी तंत्र की अगली बैठक जल्द हो सकती है। दोनों पक्ष सैनिकों को पीछे हटाने के लिए वार्ता जारी रखेंगे और यथास्थिति में बदलाव के किसी भी एकतरफा प्रयास से परहेज करेंगे।  



 मंगलवार को भारत और चीन (India-China) के बीच 14 घंटे चली छठें दौर की सैन्य वार्ता के दौरान पूर्वी लद्दाख (East Ladakh) में अत्यधिक ऊंचाई पर स्थित टकराव बिंदुओं के पास तनाव कम करने के तरीकों पर ध्यान केंद्रित किया गया। सैन्य अधिकारियों ने कहा कि इस मैराथन वार्ता का परिणाम सोमवार को तत्काल पता नहीं चला है, लेकिन ऐसा समझा जाता है कि दोनों पक्षों ने वार्ता आगे बढ़ाने के लिए फिर से बैठक करने पर सहमति जताई है। इस वार्ता में भारत ने जोर दिया कि चीन को उस पोजिशन पर वापस जाना चाहिए जहां वह अप्रैल-मई से पहले मौजूद था। 


भारत और चीन एक दूसरे से बातचीत जारी रखने पर सहमत हुए हैं। वहीं चीन ने वार्ता के दौरान कहा कि भारत दक्षिण के तट पैंगोंग पर 29 अगस्‍त के बाद कब्‍जे वाले पोस्‍टों को खाली करे। सरकारी सूत्रों ने बताया कि वार्ता के दौरान भारतीय पक्षों ने सभी टकराव बिंदुओं से चीनी बलों को शीघ्र एवं पूरी तरह हटाए जाने पर जोर दिया। भारत ने इस बात पर भी जोर दिया कि तनाव कम करने के लिए पहले कदम चीन को उठाना है।


      ➖    ➖    ➖   ➖   ➖


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए


मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम