इन राशियों पर मेहरबान है सितम्बर 2020


(पं. लालभूषण मणि त्रिपाठी) 


वर्ष 2020 का सितंबर माह कई राशि वालों के लिए बेहद शुभ रहने वाला है, जबकि कुछ राशियों को बड़ा संघर्ष करना पड़ सकता है। इस महीने कई राशियों का जीवन फिर से पटरी पर लौटने की भी संभावनाएं हैं। ज्योतिषविदों के मुताबिक, सितंबर का महीना मिथुन, कर्क, तुला, धनु और मीन राशि (Horoscope) के जातकों के लिए बेहद शुभ रहने वाला है। 



मेष


मेष राशि वालों को सितंबर के इस माह में अपने जीवन के कई क्षेत्रों में चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। 1 सितंबर को शुक्र का कर्क राशि में गोचर हो रहा है। शुक्र आपके चतुर्थ भाव में विराजमान होंगे। इसके साथ ही बुध का गोचर अगले दिन 2 सितंबर को और सूर्य का गोचर 16 सितंबर को कन्या राशि में होने से ये दोनों ग्रह आपके षष्ठम भाव में प्रवेश कर जाएगा। वहीं राहु - केतु 23 सितंबर को स्थान परिवर्तन करते हुए आपके द्वितीय और अष्टम भाव को सक्रिय करेंगे। राहु - केतु की यह स्थिति इस बात की तरफ इशारा करती है कि आपको इस दौरान स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए आपको स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की सलाह दी जाती है।  



बृष


इस महीने की शुरुआत में शुक्र का कर्क में गोचर हो रहा है, जिसके चलते शुक्र आपके तृतीय भाव में विराजमान होंगे। इसके साथ ही बुध का गोचर अगले दिन 2 सितंबर को और सूर्य का गोचर 16 सितंबर को कन्या राशि में होने से ये आपके पंचम भाव में प्रवेश कर जाएगा। वहीं राहु-केतु 23 सितंबर को स्थान परिवर्तन करते हुए आपके लग्न यानी प्रथम भाव को और सप्तम भाव को सक्रिय करेंगे। इस महीने खर्चों पर कंट्रोल करना मुश्किल होगा। धन की कमी होगी। दोस्तों या रिश्तेदारों से आर्थिक मदद मिल सकती है। 



मिथुन


सितंबर के इस माह में आपको जीवन के कई उतार-चढ़ाव से होकर गुजरना पड़ सकता है। क्योंकि इस महीने की शुरुआत में यानी 1 सितंबर को शुक्र का कर्क में गोचर हो रहा है, जिसके चलते शुक्र आपके द्वितीय भाव में विराजमान होंगे। 2 सितंबर को और सूर्य का गोचर 16 सितंबर को कन्या राशि में होने से ये आपके चतुर्थ भाव में प्रवेश कर जाएगा। वहीं राहु - केतु 23 सितंबर को स्थान परिवर्तन करते हुए आपके द्वादश भाव को और षष्ठम भाव को सक्रिय करेंगे। इस पूरे ही माह आपको इन्हीं भावों से जुड़े फलों की प्राप्ति होगी। करियर में तरक्की मिलेगी साथ ही आप पारिवारिक जीवन भी सामान्य से काफी अच्छा रहेगा।  



कर्क


सितंबर के इस माह में अपने जीवन में उतार-चढ़ाव से होकर गुजरना पड़ सकता है, क्योंकि इस महीने की शुरुआत में यानी 1 सितंबर को शुक्र आपकी ही राशि यानी आपके लग्न भाव में गोचर करेगा। इसके साथ ही बुध का गोचर अगले दिन 2 सितंबर को और सूर्य का गोचर 16 सितंबर को कन्या राशि में होने से ये आपके तृतीय भाव में प्रवेश कर जाएगा। वहीं राहु-केतु 23 सितंबर को स्थान परिवर्तन करते हुए आपके एकादश भाव को और पंचम भाव को सक्रिय करेंगे। इस पूरे ही माह आपको करियर, प्रेम जीवन, शिक्षा एवं सेहत को लेकर थोड़ा सजग रहने की जरूरत होगी। आपको अपने आर्थिक एवं पारिवारिक जीवन से अच्छा लाभ मिलेगा।  



सिंह


सिंह राशि वाले जातकों के लिए ये महीना बेहद अहम रहने वाला है, क्योंकि इस माह आपके जीवन में कई तरह की चुनौतियां आने वाली हैं। 1 सितंबर को शुक्र का गोचर कर्क राशि में होने से ये आपके द्वादश भाव में प्रवेश करेगा। बुध का गोचर अगले दिन 2 सितंबर को और सूर्य का गोचर 16 सितंबर को कन्या राशि में होने से ये आपके द्वितीय भाव में प्रवेश कर जाएगा। वहीं राहु-केतु 23 सितंबर को स्थान परिवर्तन करते हुए आपके दशम भाव को और चतुर्थ भाव को सक्रिय करेंगे। इस कारण से इस पूरे ही माह आपको अपने करियर एवं आर्थिक जीवन में पहले से अधिक सोच - विचार से चलने की जरूरत होगी, अन्यथा आपको कोई बड़ी हानि हो सकती है।   



कन्या


कन्या राशि वाले जातकों के लिए ये महीना सामान्य से थोड़ा अच्छा रहने की उम्मीद है, क्योंकि इस माह ग्रह-नक्षत्रों की बदलती चाल आपके जीवन के कई क्षेत्रों को प्रभावित करने वाली है। 1 सितंबर को शुक्र का गोचर कर्क राशि में होने से ये आपके एकादश भाव में प्रवेश करेगा। बुध का गोचर अगले दिन 2 सितंबर को और सूर्य का गोचर 16 सितंबर को आपकी ही राशि में प्रवेश कर जाएगा। वहीं राहु-केतु 23 सितंबर को स्थान परिवर्तन करते हुए आपके नवम भाव को और तृतीय भाव को सक्रिय करेंगे। इन्ही भावों से जुड़े फलों की प्राप्ति होगी और इस कारण आपको अपने करियर में भाग्य का साथ मिल सकेगा। साथ ही इस समय आप अपने पारिवारिक जीवन का भी लुत्फ उठाते दिखाई देंगे। जबकि बीच-बीच में आपको सेहत आपको कुछ परेशान कर सकती है। 


तुला


तुला राशि वाले जातकों के लिए ये माह करियर के लिहाज से अच्छा रहने वाला है, क्योंकि माह की शुरुआत में 1 सितंबर को ही शुक्र का गोचर कर्क राशि में होने से ये आपके दशम भाव में प्रवेश करेगा। इसके साथ ही बुध का गोचर अगले दिन 2 सितंबर को और सूर्य का गोचर 16 सितंबर को कन्या राशि में होने से ये आपके द्वादश भाव में प्रवेश कर जाएगा। वहीं राहु-केतु 23 सितंबर को स्थान परिवर्तन करते हुए आपके अष्टम भाव को और द्वितीय भाव को सक्रिय करेंगे। समय आपको कार्य क्षेत्र पर भाग्य का और अपनी सेहत का भरपूर फायदा मिलेगा। हालांकि छात्रों को थोड़ा अधिक मेहनत करने की जरूरत होगी। 



वृश्चिक 


ये माह वृश्चिक राशि वाले जातकों के लिए अन्य के मुकाबले अनुकूल दिखाई दे रहा है, क्योंकि शुरुआत में 1 सितंबर को ही शुक्र का गोचर कर्क राशि में होने से ये आपके नवम भाव में प्रवेश करेगा। बुध का गोचर अगले दिन 2 सितंबर को और सूर्य का गोचर 16 सितंबर को कन्या राशि में होने से ये आपके एकादश भाव में प्रवेश कर जाएगा। वहीं राहु-केतु 23 सितंबर को स्थान परिवर्तन करते हुए क्रमश: आपके सप्तम भाव और लग्न भाव को सक्रिय करेंगे। इस पूरे ही माह आपको अपने दाम्पत्य जीवन का आनंद उठाने का मौका मिलेगा। कार्य की अधिकता से मानसिक तनाव भी होगा।  



धनु


ये माह धनु राशि वाले जातकों के लिए अन्य के मुकाबले अनुकूल दिखाई दे रहा है, क्योंकि शुरुआत में 1 सितंबर को ही शुक्र का गोचर कर्क राशि में होने से ये आपके अष्टम भाव में प्रवेश करेगा। बुध का गोचर अगले दिन 2 सितंबर को और सूर्य का गोचर 16 सितंबर को कन्या राशि में होने से ये आपके दशम भाव में प्रवेश कर जाएगा। वहीं राहु - केतु 23 सितंबर को स्थान परिवर्तन करते हुए क्रमश: आपके षष्ठम भाव और द्वादश भाव को सक्रिय करेंगे। ये माह आपके प्रेम जीवन के लिए थोड़ा चुनौती पूर्ण साबित होगा। लेकिन कार्यक्षेत्र पर आप अच्छा प्रदर्शन कर सकेंगे जिससे लाभ की प्राप्ति भी होगी।   


मकर


ये माह मकर राशि वाले जातकों के लिए अन्य के मुकाबले अनुकूल दिखाई दे रहा है, क्योंकि शुरुआत में शुक्र का गोचर कर्क राशि में होने से ये आपके सप्तम भाव में प्रवेश करेगा। इसके साथ ही बुध और सूर्य का गोचर कन्या राशि में होने से ये आपके नवम भाव में प्रवेश कर जाएगा। वहीं राहु-केतु भी अपना गोचर 23 सितंबर को करते हुए क्रमश: आपके पंचम भाव और नवम भाव को सक्रिय करेंगे। आपकी आर्थिक स्थिति को मजबूती मिलेगी। हालांकि वैवाहिक जातकों को अपने साथी से जुड़ी कोई परेशानी तनाव दे सकती है।  



कुंभ


ये माह कुम्भ राशि वाले जातकों के लिए उतार-चढ़ाव भरा रहने वाला है क्योंकि माह की शुरुआत में ही यानी 1 सितंबर को शुक्र का गोचर कर्क राशि में होने से ये आपके षष्ठम भाव में प्रवेश करेगा, जिससे आपका करियर अच्छा रहेगा। इसके साथ ही बुध और सूर्य का गोचर कन्या राशि में होने से ये आपके अष्टम भाव में प्रवेश कर जाएगा। वहीं राहु-केतु भी अपना गोचर 23 सितंबर को करते हुए क्रमश: आपके चतुर्थ भाव और अष्टम भाव को सक्रिय करेंगे। इन्ही भावों से आपको आर्थिक फायदा मिलेगा। नौकरी पेशा जातक इस समय भाग्य का साथ मिलने से भरपूर फायदा उठाते नजर आएंगे, लेकिन प्रेमी जातकों को अपने रिश्ते में संभलकर चलने की जरूरत होगी।    



मीन


ये माह मीन राशि वाले जातकों के लिए सामान्य ही रहने की उम्मीद है, क्योंकि माह की शुरुआत में ही यानी 1 सितंबर को शुक्र का गोचर कर्क राशि में होने से ये आपके पंचम भाव में प्रवेश करेगा। इसके साथ ही बुध और सूर्य का गोचर कन्या राशि में होने से ये आपके सप्तम भाव में प्रवेश कर जाएगा, जिससे आपके करियर और पारिवारिक जीवन में अनुकूलता आएगी। वहीं राहु-केतु भी अपना गोचर 23 सितंबर को करते हुए क्रमश: आपके तृतीय भाव और नवम भाव को सक्रिय करेंगे। करियर के लिहाज से समय अच्छा रहेगा और आप इस माह अपने जीवनसाथी के सहयोग से अपने कार्यक्षेत्र में अच्छा काम कर पाने में सफल होंगे।


        ➖    ➖    ➖    ➖    ➖


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए


मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम