नहीं मिले डॉ. जेपी त्रिपाठी, फोटो रिलीज


(विशाल मोदी) 


वाराणसी (उ.प्र.) । पांच दिनों से लापता डॉ. जेपी त्रिपाठी को तलाशने के लिए पुलिस ने उनके मोबाइल खंगालना शुरू कर दिया है और उनकी तलाश करने के लिए फोटो भी जारी किये गये हैं। फोन में देखा जा रहा है कि पिछले कुछ दिनों के अंदर उनकी लगातार किससे बात हो रही थी। किन किन लोगों का मैसेज आया और किसको सबसे अधिक उन्होंने किस मामले में मैसेज किया। यही नहीं पुलिस उनकी तलाश में वाराणसी समेत अन्य जिलों में भी जा रही है। पुलिस को आशंका है कि चिकित्सक अगर गंगा में नहीं मिले, तो फिर कहाँ चले गए। इसी वजह लेकर उनको दूसरे स्थानों पर भी तलाश की जा रही है।  



डॉ. त्रिपाठी 22 अगस्त को गंगा किनारे भिटौली पुल के नीचे कार रोकवाकर शौच जाने को कहकर गये, फिर आज तक नहीं लौटे। पांच दिनों तक पूर्व सीएमओ डा. जेपी त्रिपाठी को तलाशने के लिए गंगा में चलाए गए सर्च अभियान के बावजूद वे नहीं मिले तो अब उनकी खोजबीन का तरीका बदल दिया गया है। पुलिस की तीन टीमें अब उनके मोबाइल पर निगाह लगाए हुए हैं। वाहन में मिले उनके मोबाइल के एक - एक काल को खंगाला जा रहा है। आखिर क्या वजह थी कि चिकित्सक इतने परेशान थे। इसपर भी जांच चल रही है। इसके अलावा घरवालों से भी जानकारी जुटाई जा रही है। साथ ही उनके गायब होने से लेकर अबतक के बैंक एकाउंट भी चेक किए जा रहे हैं। देखा जा रहा हैं कि चिकित्सक के लापता होने से पहले कितने रुपये बैंक से निकाले गए। क्या लापता होने के बाद भी खाते से रुपये निकाले गए हैं। इसके साथ ही फेसबुक के अलावा उनके ट्विटर एकाउंट भी  चेक किए जा रहे हैं।  



मुख्य चिकित्साधिकारी डा. ओपी तिवारी द्वारा लापता डाक्टर जेपी त्रिपाठी एमडी मंडलीय चिकित्सालय 58 वर्ष, निवासी रेलवे कालोनी, लहरतारा वाराणसी की खोजबीन के लिए उनका फोटो जारी किया गया है। बताया गया कि जिस किसी को वे दिखाई दें इस बारे में तत्काल मिर्जापुर पुलिस व सीमएओ को अवगत कराएं। जिससे उनको बरामद कर परिवार को सौंपा जा सके।


       ➖   ➖   ➖   ➖   ➖


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए


मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती के पूर्व सीएमओ ने गंगा में लगाई छलांग

लॉक डाउन पूरी तरह खत्म

बस्ती जिले में 35 नये डॉ. तैनात