कोरोना मरीजों को योगा कराएगी इनरव्हील क्लब : डॉ. निधि


(वन्दना शुक्ला) 


बस्ती (उ.प्र.) । इनरव्हील क्लब बस्ती मिडटाउन द्वारा विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए। ओम ऑर्थोपेडिक एंड मेडिकल सेंटर पर झंडारोहण किया गया। इसके पश्चात अस्पताल में भर्ती मरीजों को फल एवं खाद्यान्न आदि वितरित किया गया। रोटरी क्लब बस्ती मिडटाउन के द्वारा संचालित डॉक्टर एट डोर नामक मोबाइल हॉस्पिटल यूनिट के शुभारंभ कार्यक्रम में प्रतिभाग किया गया एवं सहयोग के तौर पर इनर व्हील क्लब बस्ती मिडटाउन द्वारा कोरोना पॉजिटिव मरीजों को ऑनलाइन योगा कराने के संदर्भ में प्रतिबद्धता व्यक्त की गई।    



स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर आयोजित उक्त कार्यक्रमों के साथ ही इनरव्हील क्लब बस्ती मिडटाउन द्वारा महिलाओं के लिए विशेष तौर पर एक परिचर्चा (वेबीनार) का आयोजन किया गया, जिसका विषय था "महिलाओं के लिए स्वतंत्रता के मायने एवं वर्तमान परिवेश में इसकी प्रासंगिकता व सार्थकता"। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के तौर पर डॉ रानी त्रिपाठी, सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य, आर्य महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय शाहजहांपुर, डॉ नमिता सिंह, स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ शाहजहांपुर, डॉक्टर सबीहा मुमताज, प्रवक्ता अंग्रेजी, राजकीय कन्या इंटर कॉलेज बस्ती व डॉ निधि त्रिपाठी, प्रवक्ता शिक्षा शास्त्र, आर्य महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय शाहजहांपुर शामिल हुई।  



कार्यक्रम का शुभारंभ अध्यक्षा डॉ निधि गुप्ता ने सभी सदस्यो एवं अतिथियों का स्वागत करते हुए किया सचिव तूलिका अग्रवाल ने इनरव्हील की प्रेयर कराकर इनरव्हील के लक्ष्यों के प्रति प्रतिबद्धता को पटल पर रखा। तत्पश्चात सभी मुख्य वक्ताओं का परिचय दिया गया एवं परिचर्चा प्रारंभ की गई। सभी मुख्य वक्ताओं ने एक-एक करके अपने विचार पटल पर रखे। डा. रानी त्रिपाठी ने महिलाओं की आर्थिक आत्मनिर्भरता पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि नयापन अच्छा है परंतु पुरानी सोच का भी लाभ उठाना चाहिए इस प्रकार उन्होंने नए और पुराने के बेहतर समन्वय की बात कही।    



डॉ नमिता सिंह ने भी जड़ों से जुड़ने पर जोड़ दिया उन्होंने कहा कि महिलाएं अपने-अपने क्षेत्र में बेहतर करें व अपने आसपास को बेहतर बनाने में जो योगदान दे सकती हों वह पूर्णरूपेण दें।डॉ. सबीहा मुमताज ने सभी बच्चियों तक क्वालिटी एजुकेशन को पहुंचाने पर जोर दिया उन्होंने महिलाओं की शारीरिक मजबूती के साथ-साथ मानसिक मजबूती पर भी जोर दिया और कहा कि घर में एक साइक्लोजिकल सपोर्ट सिस्टम बनाना जरूरी है जिससे कि हर तरह के मेंटल डिलेमा को समाप्त किया जा सके। उन्होंने वर्तमान समय में सोशल मीडिया पर बढ़ती हुई अभद्रता पर चिंता व्यक्त की और यह आह्वान किया कि सोशल मीडिया पर शालीनता बरती जाए।   



डॉ निधि त्रिपाठी ने महिलाओं की स्व अनुभूति की बात की। उन्होंने कहा कि महिलाएं स्वयं शक्ति हैं। आवश्यकता सिर्फ उस शक्ति को पहचानने की है उसके बाद तो उन्हें सृष्टि की कोई भी ताकत आगे बढ़ने से नहीं रोक सकती। क्लब अध्यक्षा डॉ निधि गुप्ता ने कहा कि घर पर रहकर महिलाएं अन्य गरीब महिलाओं और बच्चियों की को शिक्षा दान देकर व अन्य तरीकों से उनकी मदद कर स्वतंत्रता स्वतंत्रता दिवस की सार्थकता एवं प्रासंगिकता की अनुभूति कर सकती हैं। इसके उपरांत संयुक्त सचिव शालिनी भानिरामका ने सभी वक्ताओं के वक्तव्य को सारगर्भित करते हुए उन्हें धन्यवाद ज्ञापित किया।   



क्लब एडिटर साधना गोयल ने क्लब के सामाजिक कार्यक्रमों का एक संक्षिप्त परिचय पटल पर रखा। क्लब उपाध्यक्ष चंदा दिदवानिया ने सभी को वोट ऑफ थैंक्स दिया एवं सभी का आभार व्यक्त किया ।कार्यक्रम को सफल बनाने में क्लब के सभी सदस्यों का सराहनीय योगदान रहा।


         ➖   ➖   ➖   ➖   ➖


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए


मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती के पूर्व सीएमओ ने गंगा में लगाई छलांग

लॉक डाउन पूरी तरह खत्म

बस्ती जिले में 35 नये डॉ. तैनात