विकास दूबे का वीडियो वायरल


(संतोष पाण्डेय) 


कानपुर । आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद देशभर में चर्चित हुए विकास दुबे के कई वीडियो वायरल हो रहे हैं। अब विकास दुबे का एक वीडियो सामने आया है जिसमें वह अपने परिवार के साथ है। इस वीडियो में उसके दोनों बेटे हैं। बताया जा रहा है विकास के अपने परिवार के साथ का अंतिम वीडियो है क्योंकि जिस दिन यह वीडियो बना था उसके तीसरे दिन ही बिकरु गांव में पुलिस दबिश देने गई थी और उसमें विकास व उसके साथियों ने फायरिंग करके आठ पुलिस कर्मियों की हत्या कर दी।    



 वायरल वीडियो अमर दुबे की शादी का है। यह शादी 29 जून को बिकरु गांव में ही हुई थी और बताया तो यह भी जा रहा है कि इस शादी को विकास ने ही करवाया था। अमर की शादी में हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे का परिवार भी शामिल हुआ था। सूत्रों के मुताबिक, अमर दुबे ने खुद विकास की पत्नी ऋचा को फोन कर शादी में आने को कहा था। विकास दुबे के दोनों बेटे भी इस शादी में आए थे और विकास ने खुद अपने बच्चों का परिचय शादी में आए लोगों से करवाया और बड़ों का आशीर्वाद लेने के लिए कहा था। पुलिस सूत्रों के मुताबिक विकास दुबे की अपने परिवार से यह आखिरी मुलाकात थी। क्योंकि विकास की पत्नी बच्चों के साथ लखनऊ में रहती है। इस शादी के बाद वह वापस चली गई थी। 


अमर की शादी के चार और वीडियो वायरल हो चुके है। एक वीडियो में विकास दुबे डीजे पर डांस करता दिखता है तो दूसरे वीडियो में वह दारोगा केके सिंह को हड़काता है। जयमाल के बाद जब दुल्हा और दूल्हन को आर्शीवाद देना होता है तो कुर्सी के पीछे विकास दुबे खड़ा रहता है उससे कुछ दूरी पर दारोगा खड़ा रहता है। तभी विकास कहता है डर क्यों रहे हो पास आओ। इसके अलावा एक अन्य वीडियो में विकास अमर की पत्नी के साथ फोटो खींचवाता है। इसमें वह खुशी से कहता है कि खड़े होकर फोटो खिंचावाओ मैं बैठता नहीं हूं। इसी शादी का चौथे वीडियाे में अमर की पत्नी खुशी भी डांस करती दिखी। इससे इस बात का पता चला कि यह शादी जबरदस्ती नहीं कराई गई। चर्चा थी कि खुशी अमर के साथ शादी नहीं करना चाहती लेकिन विकास ने दबाव बनाकर शादी करवाई। खुशी के डांस वाले वीडियो के बाद से यह क्लीयर हो गया कि शादी खुशी की मर्जी से ही हुई होगी।  



एनकाउंटर में मारे गए हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के फंड मैनेजर जय बाजपेई समेत 17 करीबियों के असलहा लाइसेंस डीएम कोर्ट ने निलंबित कर दिए हैं। सभी को निरस्तीकरण का नोटिस भेजा गया है। 31 जुलाई को सभी को पक्ष रखना है। जवाब संतोषजनक न हुआ तो लाइसेंस निरस्त करने की प्रक्रिया शुरू होगी। अब तक 28 असलहा लाइसेंस निलंबित हो चुके हैं।


चौबेपुर पुलिस ने जय, बिकरू के कोटेदार दयाशंकर, भीटी प्रधान जिलेदार यादव, विकास के भांजे आशुतोष उर्फ शिव तिवारी और जमानतगीर राजाराम समेत बिकरू कांड के आरोपित व फरार चल रहे लोगों के असलहा लाइसेंस निरस्तीकरण की रिपोर्ट भेजी थी। शिव के पास दो असलहा लाइसेंस हैं। विकास के 11 करीबियों का लाइसेंस पहले ही निलंबित करके नोटिस भेजा जा चुका है। उनकी 27 जुलाई को सुनवाई है। डीएम ब्रह्मदेव राम तिवारी के मुताबिक कई को नोटिस भेजे गए हैं।


           ➖    ➖    ➖    ➖   ➖


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए


मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम