रेप के आरोपियों को बचाने में लगी बखिरा पुलिस


(नीतू सिंह) 


संतकबीरनगर (उ.प्र.) । सामूहिक बलात्कार जैसे गंभीर मामले में चुप्पी और हीलाहवाली के चलते जिले की बखिरा पुलिस पर आरोपियों को बचाने का आरोप लग रहा है। पुलिस पर घटना के 8-9 दिन बीत जाने के बाद भी अभियुक्तों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। 



बता दें कि बीते 16 जुलाई 2020 को शाम करीब 6:00 बजे मुर्गी फार्म पर गांव की एक लड़की के साथ प्रधान एवं उसके साथियों द्वारा सामूहिक बलात्कार का मामला सामने आया था। जिसके बाद एफआईआर दर्ज कराने के लिए पीड़िता को काफी जद्दोजहद करते हुए अधिकारियों के बहुत चक्कर लगाने पड़े थे। परिणामस्वरूप मुकदमा तो दर्ज हो गया, लेकिन आगे की गिरफ्तारी जैसी कार्रवाई शिफर है।  



पीड़ित परिवार का आरोप है कि पुलिस ने अभी तक घटना वाले मुर्गी फार्म को सील नहीं किया है और आरोपी साक्ष्य मिटाने की फिराक में हैं। इतना ही नहीं मुल्जिमान द्वारा पीड़ित परिवार को धमकियां दिये जाने और सुलह करने का दबाव बनाने का भी आरोप है। पीड़ित परिवार ने आरोपियों से जान का खतरा भी बताया है। पुलिस की कार्रवाई का आलम यह है कि अभी तक पीड़िता का 164 सीआरपीसी का बयान तक नहीं कराया गया। 


           ➖   ➖   ➖   ➖   ➖


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए


मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती के पूर्व सीएमओ ने गंगा में लगाई छलांग

लॉक डाउन पूरी तरह खत्म

बस्ती जिले में 35 नये डॉ. तैनात