कानपुर काण्ड : विकास दूबे के चहेते को पुलिस ने किया ढेर


(बृजवासी शुक्ल) 


लखनऊ। आठ पुलिस कर्मियों की हत्या में आरोपित ढाई लाख का इनामी मोस्टवांटेड विकास दुबे फीदाबाद में पुलिस के हाथ से फिसल गया, हालांकि एक साथी हत्थे चढ़ गया है। वहीं हमीरपुर में एसटीएफ और पुलिस से हुई मुठभेड़ में विकास का साथी अमर दुबे मारा गया है। उधर, विकास से संबंधों के शक में चौबेपुर के पूरे थाने पर कार्रवाई कर दी गई है। इसमें मंगलवार को 68 पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की गई है, जबकि इससे पहले चौबेपुर एसओ, दो दारोगाओं व एक सिपाही को संस्पेंड और दस पुलिस कर्मियों को लाइन हाजिर किया जा चुका है।    



आठ पुलिस कर्मियों की हत्या में वांछित अमर दुबे पर पुलिस ने 25 हजार का इनाम घोषित किया था। घटना के दो दिन बाद पुलिस ने अमर दुबे की मां क्षमा दुबे को गिरफ्तार करके हमलावरों को भगाने के आरोप में जेल भेजा था।


अमर दुबे के खिलाफ चौबेपुर थाने में पांच मुकदमे दर्ज है, इसके अलावा अन्य थानों में भी मुकदमे दर्ज होने की बात कही जा रही है। मोस्टवांटेड विकास दुबे का शार्प शूटर अमर दुबे पुलिस मुठभेड़ में मारे गए अतुल दुबे का भतीजा है। अमर दुबे के पिता संजू दुबे की सड़क हादसे में मौत हो चुकी है।


मोस्टवांटेड विकास दुबे की तलाश में जुटी एसटीएफ और पुलिस टीम ने हमीरपुर के मौदहा में बुधवार सुबह मोस्टवांटेड विकास के करीबी साथी अमर दुबे की घेराबंदी कर ली। एसटीएफ से हुई मुठभेड़ में अमर दुबे मारा गया है। 



फरीदाबाद के एक होटल में छिपा मोस्टवांटेड अपराधी विकास दुबे पुलिस के हाथ से फिसल गया। सूचना के आधार पर पुलिस ने छापा मारा तो वह नहीं मिला। उसका एक साथी पुलिस के हाथ लग गया, जिसने एक घंटे पहले तक विकास के वहां होने की जानकारी दी। सीसीटीवी फुटेज देखे गए तो एक व्यक्ति हू-ब-हू विकास जैसा नजर आया, जिससे पकड़े साथी की बात पुख्ता हो गई। 


मोस्टवांटेड विकास दुबे से संपर्क के शक में चौबेपुर थाने के 68 पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की गई है। मंगलवार की रात एसएसपी दिनेश कुमार पी ने चौबेपुर थाने के दारोगा सिपाहियों समेत 68 पुुलिस कर्मियों को लाइनहाजिर कर दिया। इससे पहले थाना प्रभारी विनय तिवारी, दारोगा कृष्णकुमार शर्मा, कुंवरपाल और सिपाही राजीव को निलंबित किया जा चुका है। पुराने स्टाफ की जगह सोमवार को यहां 10 नए सिपाहियों को तैनात किया गया था। 


 पांच दिन बाद पुलिस को लगा विकास का सुराग  


कानपुर में आठ पुलिसकॢमयों की हत्या का आरोपित फरीदाबाद पुलिस की गिरफ्त में आते-आते बच गया। क्राइम ब्रांच को मुखबिर से सूचना मिली थी कि विकास दुबे यहां बडख़ल चौक स्थित एक होटल में छिपा है। इसी आधार पर फरीदाबाद की क्राइम ब्रांच टीमों ने होटल पर छापेमारी की। हथियारों से लैस पुलिस टीम ने होटल को चारों तरफ से घेर लिया। प्रत्यक्षदर्शियों ने वहां फायरिंग की बात कही है, लेकिन पुलिस ने इससे इन्कार किया है। पुलिस टीम ने होटल के एक-एक कमरे की बारीकी से तलाशी ली, लेकिन विकास दुबे वहां नहीं मिला। जानकारी के अनुसार, कानपुर में पुलिसकर्मियों की हत्या को अंजाम देने के बाद विकास औरैया और ग्वालियर होते हुए बस से फरीदाबाद पहुंचा था।  


पुलिस के हत्थे लगा एक गुर्गा


विकास का एक खास गुर्गा पुलिस के हत्थे लग गया। सूत्रों का कहना है कि उस गुर्गे ने ही पुलिस को विकास दूबे की कुछ घंटे पहले होटल में मौजूद होने की पुष्टि की। बताया कि छापेमारी से काफी देर पहले विकास यहां से पैदल निकल गया था। यह जानकारी मिलते ही पुलिस सक्रिय हो गई। होटल की सीसीटीवी फुटेज कब्जे में ली गई। इसमें एक शख्स डीलडौल विकास दुबे से मिलता जुलता है। पुलिस ने यह फोटो आस-पास जिलों व राज्यों की पुलिस को भेज दिए।   



इसी बीच गुरुग्राम पुलिस आयुक्त केके राव का संदेश भी वॉट्स-एप पर वायरल हुआ, जिसमें वे अपने जिले के पुलिसकॢमयों को सतर्क करते सुने जा सकते हैं। इस संदेश में वह फरीदाबाद के होटल में विकास दूबे की मौजूदगी की पुष्टि की। मामला बहुचॢचत और संवेदनशील होने के कारण फरीदाबाद के पुलिस अधिकारी अभी किसी भी तथ्य की पुष्टि नहीं कर रहे हैं। 


विकास औरैया से होते हुए ग्वालियर चला गया था। इसके बाद ग्वालियर में 2 से 3 दिन रुका और उसके बाद वहां से बस से फरीदाबाद आया था। यहां उसके साथियों ने पहले से ही अपने नाम से होटल बुक करा रखा। एसटीएफ और स्पेशल सेल को सूचना मिलने के बाद वहां रेड डाली गई।


           ➖    ➖    ➖    ➖    ➖


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए


मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम