तम्बाकू निषेध दिवस : डा.सीके.वर्मा


लखनऊ । प्रदेश सरकार द्वारा तम्बाकू के उपयोग को अग्रिम आदेश तक प्रतिवंधित आदेश तक प्रतिवंधित कर दिया गया है I यूपी सरकार ने राज्य में कोरोना वाइरस (COVID-19) का मुकाबला करने के लिए बहुत अच्छा काम किया है। नहीं तो आज संक्रमित व्यक्ति की संख्या और भी अधिक होती, यत्र- तत्र थूकने से संक्रमण के खतरे को देखते हुए उत्तर परेश सरकार ने इसे महामारी अधिनियम 1897 के अन्तरगत (COVID-19) उतर प्रदेश महामारी अधिनियम - 2020 के तहत प्रतिवंधित करते हुए धारा 188 के तहत कार्यवाही करने की अधिसूचना भी जारी की I इसके उलंघन पर IPC की धारा 168 /169 के तहत 6 माह का कारावास एवं / अथवा 200 रूपये जुर्माने का प्राविधान है I   


जैसा कि उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव द्वारा सार्वजनिक स्थानों पर उपयोग पर प्रतिबंध लगाने और हाल के आदेश में थूकने पर प्रतिबंध लगाने के निर्देश जारी किए हैं ।


विश्व तम्बाकू निषेध दिवस की पूर्व संध्या पर "दि यूनियन साउथ ईस्ट एशिआ क्षेत्रीय कार्यालय, नयी दिल्ली के उप निदेशक राणा जे सिंह ने पत्र लिख कर तम्बाकू नियंत्रण के दिशा में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग, उत्तर प्रदेश शासन द्वारा तम्बाकू नियंत्रण के लिए किये गए कार्यों की सराहना की है, उन्होंने कहा है कि सरकार द्वारा तम्बाकू नियंत्रण कारिक्रम को प्रदेश के सभी 75 जनपदों में सुचारू रूप से चलाने के साथ - साथ प्रदेश में हुक्का बार पर प्रतिबन्ध लगाने, सार्वजानिक स्थानों को तम्बाकू मुक्त घोषित करने, यलो लाइन कम्पैग्न, ई-सिगरेट को प्रतिबंधित करने, खुली सिगरेट की बिक्री को प्रतिबंधित करने, फ्रेमवर्क कन्वेंसन ऑन तंबाकू कंट्रोल के आर्टिकल 5 .३ की नीति लागू करने; तम्बाकू विक्रेताओं हेतु वेंडर लाइसेंसिंग प्रक्रिया को लागू करने तथा पान आदि का सेवन कर सार्वजानिक स्थानों पर थूकने पर प्रतिबन्ध लागने जैसे बड़े निर्णय लिए हैं I जैसा की हम जानते हैं कि तम्बाकू कम्पनियाँ युवाओं को सिगरेट व् नए तरह के उत्पादों से निशाना बनाने की कोशिश करती हैं ऐसी स्थिति यह बहुत महत्वपूर्ण है कि हम अधिक सतर्क रहें और युवाओं को तम्बाकू उद्योग के जोड़तोड़ से बचाने के लिए मिलकर काम करें I दि यूनियन ने निम्न और मध्यम आय वाले देशों में ई-सिगरेट और हीटेड तम्बाकू उत्पादों (HTP) की बिक्री पर रोक लगाने की जोरदार वकालत की है जो दुनिया के 80 प्रतिशत से अधिक धूम्रपान करने वालों के लिए घर हैं।


 विश्व तंबाकू निषेध दिवस की पूर्व संध्या पर "दि यूनियन" ने हाल ही में अपना नया पत्र जारी किया है जहां ई-सिगरेट बैन सबसे अच्छे हैं :- मध्यम आय वाले देशों को ई-सिगरेट और गर्म तंबाकू उत्पाद की बिक्री को वास्तव में तंबाकू से निपटने के लिए प्रतिबंधित करना चाहिए I उन्होंने ई-सिगरेट प्रतिबंध को लागू करने और राज्य में एनटीसीपी के कार्यान्वयन को मजबूत करने के लिए दि यूनियन की तरफ से सरकार के की टीम के साथ काम करने में खुशी जाहिर की है


धन्यवाद


Dr C.K Verma


Dy.CMO / Nodal Officer NCD Programme


        ➖    ➖   ➖    ➖   ➖


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए


मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती के पूर्व सीएमओ ने गंगा में लगाई छलांग

लॉक डाउन पूरी तरह खत्म

बस्ती जिले में 35 नये डॉ. तैनात