निदेशक SIET व जेडी NCERT ने किया एडूलीडर्स के आईसीटी वेबिनार का शुभारम्भ


(बृजवासी शुक्ल)  बस्ती (उ.प्र.) । एसआईईटी (SIET) एवं एडूलीडर्स यूपी. (EduleadersUP) द्वारा आयोजित 10 दिवसीय आईसीटी वेबिनार का शुभारंभ कल गुरूवार को बेसिक शिक्षा निदेशक डॉ. सर्वेन्द्र विक्रम बहादुर सिंह जी की प्रेरणा, निदेशक एसआईईटी (SIET) सुश्री ललिता मैडम के संरक्षण व एनसीईआरटी के संयुक्त निदेशक डॉ. ए. पी. बेहरा सर के प्रेरक उद्बोधन के साथ किया गया।     


सत्र के आरम्भ में एडूलीडर्स के संयोजक व राष्ट्रपति पदक प्राप्त शिक्षक डॉ. सर्वेष्ट मिश्र द्वारा रंजय शैक्षिक तकनीकी संस्थान उत्तर प्रदेश की निदेशक सुश्री ललिता प्रदीप जी व सीआईईटी - एनसीईआरटी (CIET - NCERT) के संयुक्त निदेशक डॉ. अमरेंद्र प्रसाद बेहरा का स्वागत किया गया। उसके बाद सुश्री ललिता प्रदीप जी ने अपने प्रेरक उद्बोधन में कहा कि आईसीटी और एजुकेशन टेक्नोलॉजी से जुड़े हुए हैं। उन्होंने श्री बेहरा सर का स्वागत करते हुए उनके साथ अपने अनुभव साझा करते हुए बताया कि कोचीन में चिल्ड्रन फेयर फेस्टिवल में उन्होंने देखा कि किस प्रकार डॉक्टर बेहरा जी का बच्चों से जुड़ाव है। उन्होंने यह भी कहा कि आईसीटी (ICT) की वर्कशॉप आवश्यक है, क्योंकि इस कोविड-19 पीरियड में हम सभी को यह दृढ़ विश्वास हो चुका है कि फेसबुक, टि्वटर, यूट्यूब से अब काम नहीं चलने वाला , इसके लिए हमें और आगे की टेक्नोलॉजी को सीखना पड़ेगा। हमें यह भी सीखना पड़ेगा कि कैसे प्राइमरी के बच्चों की हैंड होल्डिंग की जाए , ताकि कोई बड़ा अन्तराल (GAP) ना हो। उन्होंने कहा कि टेक्नोलॉजी कभी भी टीचर को रिप्लेस नहीं कर सकती है जबकि टेक्नोलॉजी से इक्विप्ड टीचर सर्वश्रेष्ठ होता है।   


कार्यक्रम का संचालन कर रहे डॉ. सर्वेष्ट मिश्र ने कहा कि एडुलीडर्स यूपी द्वारा गतिमान वेबिनार जिसमें वर्तमान में उत्तर प्रदेश के 75 जनपद से 300 शिक्षक जुड़े हुए हैं। इससे पूर्व अभी तक सबसे पहले 23 दिवसीय लर्निंग असेसमेंट उसके बाद 10 दिवसीय स्कूल लीडरशिप का वेबिनार प्रशिक्षण सफलतापूर्वक सम्पन्न हो चुका है और वर्तमान में प्रदेश के सभी 75 जनपदों में हजारों स्वयंसेवी शिक्षकों के बीच संचालित हो रहा है। अब यह आईसीटी (ICT) की 10 दिवसीय 15 घंटे की वेबिनार देश व प्रदेश के नेशनल आईसीटी अवार्डी टीचर्स के निर्देशन में संचालित किया है। उन्होंने बताया कि वेबिनार में शामिल सभी शिक्षक स्वप्रेरित हैं। वेबिनार प्रदेश के बेसिक शिक्षा में सकारात्मक परिवर्तन के वाहक के रूप में अपना योगदान देकर बेसिक शिक्षा महानिदेशक विजय किरण आनंद जी और डॉ. सर्वेन्द्र विक्रम बहादुर सिंह जी के प्रदेश को प्रेरक प्रदेश बनाने के अभियान में अपना सार्थक योगदान देगा।


मुख्य वक्ता सीआईईटी (CIET) एनसीईआरटी (NCERT) के संयुक्त निदेशक डॉ० अमरेंद्र पी बेहरा जी ने अपने प्रेरक उद्बोधन में कहा कि सूचना और संचार प्रौद्योगिकी पर आधारित इस वेबिनार में भाग लेना उनके लिए सौभाग्य की बात है । उन्होंने बताया कि एनसीईआरटी भी राष्ट्रीय स्तर पर काम कर रही है। साथ ही साथ राज्य शैक्षिक और प्रौद्योगिकी संस्थान भी इस समय इसी संदर्भ में काम कर रही है। उन्होंने बताया कि एनसीईआरटी की 329 किताबें दीक्षा पोर्टल पर अपलोड है। शिक्षक तकनीकी का प्रयोग करके इनको बच्चों तक पहुंचा सकते हैं। उन्होंने कहा कि जब हम करना शुरू करते हैं तो कौशल आ ही जाता है , बस हमारा इनीशिएट अच्छा होना चाहिए। पठन-पाठन में सूचना प्रौद्योगिकी का बहुत महत्व है। उन्होंने बताया कि तकनीक सीखने और सिखाने में काफी मदद करती है। उन्होंने जियोजेब्रा, एनआरओईआर, दीक्षा व विभिन्न एजुकेशनल चैनलों व एप्प्स के उदाहरण के साथ बताया कि शिक्षक किस तरह शिक्षा में आईसीटी के प्रयोग से शैक्षिक कार्य आसान बना सकते हैं। अपने सत्र के दौरान उन्होंने शिक्षकों को उड़िया व दूसरी भाषाओं के शब्दों का भी ज्ञान कराया।


उन्होंने कहा कि हमें केवल ग्राहक ही नहीं बनना बल्कि साथ ही साथ उत्पादक भी बनना है । तकनीकी का प्रयोग करके हर बच्चा एक्सपेक्टेड लर्निंग आउटकम को सीख सकता है। उन्होंने शिक्षकों से वर्तमान में राष्ट्रीय शिक्षक आईसीटी अवार्ड हेतु आवेदन के तरीके बताते हुए शिक्षकों का आह्वान किया कि वह बड़ी संख्या में आवेदन करें। इस सत्र में आशुतोष आनंद अवस्थी जी द्वारा गूगल ड्राइव और गूगल फॉर्म बनाने के विषय में जानकारी दी।


कार्यक्रम में डॉ. सर्वेष्ट मिश्र ने इस 10 दिवसीय आईसीटी वेबिनार के सभी एक्सपर्ट आशुतोष आनंद अवस्थी , सुशील कुमार, संपन्न कुमार निगम, सुश्री अल्पा निगम, रवि प्रताप सिंह, श्रीमती प्रतिमा सिंह, प्रणेश भूषण मिश्र , आशुतोष श्रीवास्तव, विमल आनंद व विनीत पंवार का परिचय कराते हुए सभी प्रतिभगियो का परिचय भी लिया।


कार्यक्रम के अंत मे डॉ. सर्वेष्ट मिश्र ने सभी प्रतिभागियों को आइसीटी से सम्बंधित पूर्व ज्ञान के लिए ऑनलाइन आँकलन टेस्ट भी लिया और अगले दिन के सत्र की रूपरेखा प्रस्तुत करते हुए चार जून का कार्यक्रम स्थगित किया।


संकलन व रिपोर्ट : - टीम एडूलीडर्स यूपी


          ➖    ➖    ➖    ➖    ➖


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए


मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम