मनरेगा में मशीनों से हो रहा काम : जांच की मांग


बस्ती (उ.प्र.) । मनरेगा लॉकडाउन में वापस लौटे प्रवासी मजदूरों के जीवन यापन का साधन बन रही है। उप्र सरकार व जिला प्रशासन भी मनरेगा को सफल बनाने का प्रयास कर रहा है। इसी बीच जनपद में इक्का - दुक्का प्रधान मनरेगा में मशीनों से कार्य करा कर अपने चहेतों के नाम मस्टर रोल में भर कर भुगतान लेने की धांधली भी कर रहे है। विकास खंड स्तर पर ऐसी शिकायतों को गंभीरता से न लेने के भी आरोप लग रहे है।ऐसा ही एक मामला विकास खंड साउघाट के मचखिरिया ग्राम पंचायत के तालाब का है।     


 उक्त ग्राम पंचायत के तालाब के लिए बनी कार्य योजना में मनरेगा में मेही लाल आदि श्रमिको ने उपायुक्त मनरेगा को प्रार्थना पत्र देकर प्रधान पर आरोप लगाया है कि उन्हें मांगने पर काम नही दिया गया । श्रमिकों ने आरोप लगाया है कि दो चार दिन बाद ही तालाब पर जेसीबी द्वारा काम होते देख उन लोगो ने सिकरेट्री से लगायत खंड विकास अधिकारी को भी सूचना दिया और मौके पर मौजूद जेसीबी की फ़ोटो भेजा परंतु कोई कार्यवाही नही हुई ।  श्रमिकों ने उपायुक्त मनरेगा से प्रकरण की जांच कर प्रधान के विरुद्ध कार्यवाही करने की मांग किया है।


       ➖    ➖    ➖    ➖     ➖


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए


मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती के पूर्व सीएमओ ने गंगा में लगाई छलांग

लॉक डाउन पूरी तरह खत्म

बस्ती जिले में 35 नये डॉ. तैनात