बस्ती : कोरोना मृतकों का होगा सोशल आडिट : डॉ. राजशेखर


(विशाल मोदी) बस्ती (सू.वि.उ.प्र.) । कोरोना वायरस से बचाव एवं रोकथाम के लिए शासन एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा निर्धारित प्रोटोकाल का अनुपालन करने के लिए परिवहन निगम के प्रबन्ध निदेशक एवं जिले के नोडल अधिकारी डाॅ0 राजशेखर ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिया है। सर्किट हाउस सभागार में आयोजित बैठक में उन्होने सभी 12 कोरोना मृतकों का सोशल आडिट कराने का निर्देश दिया है।


  


   उन्होने कहा कि नानकोविड अस्पतालों में आने वाले सभी मरीजों का ट्रीटमेन्ट करते समय सभी डाक्टर एवं स्टाफ सुरक्षा के मानको का अनुपालन करते हुए पीपी किट, मास्क, सेनेटाईजर का उपयोग करें। डाॅक्टर एवं स्टाफ की सुरक्षा का पूरा इंतजाम किया जाय। उन्होने निर्देश दिया है कि सभी मरीजों का ट्रूनेट मशीन से जाॅच अवश्य करायी जाय। कोरोना के लक्षण वाले मरीजों का श्वाब लेकर जाॅच करायी जाय। उन्होने कहा कि निगरानी समितियों के माध्यम से प्रत्येक गाॅव में कोरोना के बारे में प्राप्त हो रही नयी जानकारियां उसके लक्षण के बारे में जानकारी दी जाय। निगरानी समितियों के माध्यम से ही बनकटी ब्लाक के पाॅच गाॅव में चलाये गये रैपिड सर्वे की तरह अन्य गाॅव में गम्भीर रोगों के व्यक्तियों का सर्वे कराया जाय।     



उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति मुॅह पर बिना मास्क या गमछा लगाये बाहर न निकले। इसके लिए निगरानी समितियों के माध्यम से जनजागरूकता फैलाई जाय। उन्होने कहा कि कोरोना से ठीक हुए मरीजों तथा उसके परिवार एवं आस-पास सतर्क निगरानी रखी जाय। उन्होंने कहा कि शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता प्रवासी कामगारों को रोजगार उपलब्ध कराना है। स्किल मैपिंग के कामगारों को रोजगार उपलब्ध कराया जाय। 


  जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने कोरोना वायरस से बचाव एवं रोकथाम के लिए उठाये गये कदमों की विस्तृत जानकारी दिया। उन्होने बताया कि वर्तमान में कोरोना वायरस से 12 लोगों की मृत्यु हुयी है तथा जिले में कोई कन्टेनमेन्ट जोन नही है। उन्होंने बताया कि प्रवासी कामगारों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए सभी विभागों द्वारा कार्य योजना बनाकर कार्य किया जा रहा है। 50-50 लोगों को माली एवं मशरूम पैदा करने के लिए ट्रेनिंग दी गयी है। लगभग 02 लाख छात्र-छात्राओं के डेस तैयार करने के लिए महिला स्वयं सहायता समूहों एवं प्रवासी कामगारों को काम उपलब्ध कराया गया है। मनरेगा के अन्तर्गत प्रतिदिन लगभग 01 लाख 46 हजार लोगों को काम उपलब्ध कराया जाता है, जिसमें 20 हजार से अधिक प्रवासी कामगार है।   



 पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा ने कहा कि लाकडाउन के दौरान प्रतिबन्धों का कड़ाई से पालन किया गया है। पुलिस विभाग की टीम द्वारा लाकडाउन तोड़ने वालों पर मुकदमा किया गया है तथा गाॅड़ियों का चालान किया गया है। पीजीआई लखनऊ के न्यूरो सर्जन डाक्टर अवधेश जायसवाल ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए विभिन्न प्रोटोकाल की जानकारी दिया।     



 बैठक में सीडीओ सरनीत कौर ब्रोका, एडीएम रमेश चन्द्र, डाॅ0 नवनीत कुमार, डाॅ0 जेपी त्रिपाठी, डाॅ0 जीएम शुक्ला, डाॅ0 फखरेयार हुसेन, डाॅ0 सीके वर्मा, डाॅ0 सीएल कन्नौजिया, डाॅ0 अनिल यादव तथा अन्य चिकित्साधिकारीगण उपस्थित रहें।


         -  -   -  -   -  -   -  -   -  -   -


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए


मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम