निःशब्द - बेबसी और मुस्कुराहट

तारकेश्वर टाईम्स (हि.दै.)


जिस अभिव्यक्ति के लिए शब्दकोष के शब्द कम पड़ने लगें, ऐसे में संवेदना , भूख और लाचारी - बेबसी बयां करती एक तस्वीर । क्या हम इन स्थितियों से उबर पायेंगे ? यह एक बड़ा सवाल है । बेबसी में भी मुस्कुराना सीखिए - ( नि:शब्द चित्र)


                             नीतू सिंह 


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए मो. न. : - 9450557628 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश

नवनिर्वाचित विधायक और समर्थकों पर एफआईआर