विश्व होम्योपैथी दिवस पर याद किए डाॅ0 हैनिमैन

तारकेश्वर टाईम्स (हि.दै.)


सिद्धार्थनगर । होम्योपैथी के जनक डा. सैमुअल हैनिमैन की 265 वीं जयंती बृहस्पतिवार को शर्मा होम्योपैथिक चिकित्सालय एंड रिसर्च सेंटर इटवा बाजार सिद्धार्थनगर में मनाई गई। होम्योपैथिक उपचार और इसके प्रभाव पर प्रकाश डाला गया।



विश्व प्रसिद्ध होम्योपैथिक चिकित्सक डॉक्टर भास्कर शर्मा ने डॉ हनीमैन  के चित्र पर दीप प्रज्वलित कर माल्यार्पण करते हुए कहा होम्योपैथी रोगों को जड़ से समाप्त करने की अचूक औषधि है। डॉक्टर हैनिमैन ने समूचे विश्व को होम्योपैथी जैसी चिकित्सा पद्धति देकर रोगियों को सस्ता, सुलभ और सटीक निरोगी होने का अवसर दिया है। होम्योपैथी 89 देशों में प्रचलित है। दुनिया भर में 21करोड़ से अधिक लोग इसका सेवन कर रहे हैं। डॉ शर्मा ने यह भी कहा  होम्योपैथ की दवा सभी आयु वर्ग के लोगों के लिए बेहद लाभकर है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम