मृतक मजिस्ट्रेट के जिम्मे कोरोना हॉटस्पॉट

तारकेश्वर टाईम्स (हि.दै.)


पटना। पटना में कोरोना का हॉटस्पॉट बन चुके खाजपुरा इलाके में जिला प्रशासन ने दो साल पहले मर चुके मजिस्ट्रेट की ड्यूटी लगा दी। जब मजिस्ट्रेट अपनी ड्यूटी पर नहीं पहुंचे तो सबको आश्चर्य हुआ। जब पता किया तो प्रशासन की लापरवाही सामने आई। जिस मजिस्ट्रेट राजीव रंजन की ड्यूटी खाजपुरा में लगाई गई थी उनकी दो साल पहले कैंसर के कारण मौत हो गई थी। अब वे ड्यूटी करने कैसे आते ?



पता चला कि राजीव रंजन भवन निर्माण विभाग के दानापुर भवन प्रमंडल में कनीय अभियंता के पद पर तैनात थे। बुधवार बाईस अप्रैल को अचानक पटना में कोरोना के मरीजों के संख्या बढ़ने के बाद मजिस्ट्रेट की वहां तैनाती की गई लेकिन जब वे नहीं पहुंचे तो उन्हें ड्यूटी पर न पाकर अफवाह उड़ा दी गई कि अचानक उनकी मौत हो गई है। बाद में जब खोज खबर ली गई तब मालूम चला कि उनकी मौत दो साल पहले ही हो गई थी। इसको लेकर जिला प्रशासन अब कठघरे में है।
        ➖   ➖   ➖   ➖   ➖
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती के पूर्व सीएमओ ने गंगा में लगाई छलांग

लॉक डाउन पूरी तरह खत्म

बस्ती जिले में 35 नये डॉ. तैनात