संचारी रोग नियंत्रण सर्वोच्च प्राथमिकता : अनिल कुमार सागर

तारकेश्वर टाईम्स (हि.दै.)


बस्ती (सू.वि.उ.प्र.) । विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता है। प्रत्येक विभाग प्रत्येक गांव में कार्ययोजना के अनुसार अभियान की गतिविधियां चलायेंगे। उक्त निर्देश मण्डलायुक्त अनिल कुमार सागर ने दिये हैं। वे आयुक्त सभागार में अभियान की तैयारी की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आगामी 12 मार्च को वे विभागीय कार्यों की अनुपालन की समीक्षा करेंगे।
उन्होंने निर्देश दिया कि प्रभारी चिकित्साधिकारी सभी सीएचसी/पीएचसी पर अभियान की समीक्षा बैठक करें तथा सभी विभागों को बुलाकर जानकारी लें।



उन्होंने कहा कि अस्पताल की निरीक्षण में इसकी समीक्षा करेंगे। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग इसका नोडल विभाग है। इसलिए सभी विभागों से प्रतिदिन की रिपोर्ट प्राप्त करेंगे। यदि कोई विभाग कार्य नहीं कर रहा है तो उनके संज्ञान में लायेंगे । उन्होंने कहा कि सभी प्रभारी चिकित्साधिकारी अपने क्षेत्र में अभियान के दौरान दूसरे विभागों के कार्यों का सत्यापन भी करेंगे तथा रिपोर्ट भेजेंगे। मण्डल में सभी जिला स्तरीय अधिकारी अपने-अपने कार्यों का प्रतिदिन मानीटरिंग करेंगे तथा रिपोर्ट देंगे। अभियान के दौरान किसी प्रकार की शिथिलता क्षम्य नहीं होगी।
मण्डलायुक्त ने निर्देश दिया कि पंचायत विभाग सभी गांवों में झाड़ी, नाली और गलियों की नियमित साफ-सफाई करायेंगे। उथले हैण्डपम्प को हटवायेंगे। सभी इण्डिया मार्का-2 हैण्डपम्प सही करायेंगे तथा पानी टेस्ट करायेंगे। प्रत्येक गांव में ग्राम स्तरीय बैठक दो बार की जायेगी। सभी गांवों में दीवार लेखन कराया जायेगा। उन्होंने निर्देश दिया कि नगरीय क्षेत्रों में साफ-सफाई का निरीक्षण मण्डल में जिलाधिकारी, ए0डी0एम0, एस0डी0एम0, प्रतिदिन करेंगे तथा रिपोर्ट देंगे। विभाग सभी कार्यों की फोटोग्राफ भी उपलब्ध करायेंगे। उन्होंने पालीथीन के विरूद्ध अभियान चलाने तथा पालीथीन पाये जाने पर जुर्माना लगाने का निर्देश दिया है। उन्होंने निर्देश दिया कि सभी आंगनबाड़ी केन्द्र पूरी क्षमता से कार्य करें। पोषण पुनर्वास केन्द्र तथा मण्डल के सभी पीकू में बुखार पीड़ित बच्चों का इलाज किया जाए। सभी बच्चों का वजन कराया जाय।



उन्होंने कहा कि मण्डल के सभी 623 सूकरबाड़ा का नियमित निरीक्षण किया जाये। सभी सुअर बाड़े में रहें। इनका सीरम सीमेन सैम्पिल कर रेण्डमली जांच करायी जाय। कृषि विभाग जागरूकता अभियान गोष्ठी करायेगा तथा चूहा, छछुन्दर की दवा वितरित करेंगे। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिया कि पिछले पांच वर्ष में जेई/एईएस से पीड़ित हुए दिव्यांग बच्चों की सूची उपनिदेशक दिव्यांगजन को उपलब्ध करायें ताकि उन्हें सहायक उपकरण उपलब्ध कराया जा सके।
बैठक का संचालन अपर निदेशक स्वास्थ्य डा0 जे0के0 शाही ने किया। इसमें संयुक्त निदेशक डा0 आर0के0 तिवारी, अपर निदेशक पशुपालन डा0 आर0के0 नायक, संयुक्त निदेशक कृषि बदरे आलम, उप निदेशक दिव्यांगजन अनूप सिंह, डीपीआरओ विनय सिंह, प्रभारी कार्यक्रम अधिकारी मिथिलेश, शिक्षा एवं सूचना विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।
        ➖   ➖   ➖   ➖   ➖
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम